X Ray Technician Course Details after 12th: योग्यता, एग्जाम, फीस, सिलेबस, अवधि

अगर आप 12 वीं कक्षा के बाद मेडिकल फील्ड में अपना कैरियर बनाने की सोच रहे हैं तो आपके लिए आज का यह लेख काफी महत्वपूर्ण है। वैसे तो चिकित्सा जगत में कई सारे कोर्स उपलब्ध है पर आज हम X Ray Technician Course के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं।

लेख में इस कोर्स से संबंधित हर एक पहलू पर चर्चा की गई है। जैसे What is X Ray in Hindi, एक्स रे कोर्स क्या है, कोर्स के फायदे क्या हैं, X Ray Technician Kaise Bane, कोर्स में एडमिशन कैसे लें, कोर्स के लिए योग्यता क्या हैं इत्यादि।

इनके अलावा आप जानेंगे कि इस कोर्स का स्कोप क्या है, कहाँ पर नौकरी लगेगी और सैलरी कितनी मिलेगी। तो आइए जानते हैं What is X Ray Technician Course Details in Hindi?

X Ray Technician Course Details in Hindi

x-ray-technician-course-details-in-hindi-what-is-x-ray-in-hindi
X Ray Technician Course Details in Hindi: Image Created at Canva

एक्स रे टेक्नीशियन बनने के लिए चिकित्सा क्षेत्र का एक प्रमुख कोर्स पूरा करना पड़ता है, जिसका नाम X Ray Technician Course है। यह एक डिप्लोमा कोर्स है जिसे पूरा करने के लिए 2 साल का समय लगता है। कोर्स को पूरा करने के बाद किसी हॉस्पिटल या चिकित्सा केंद्र में 6 माह का इंटर्नशिप करवाई जाती है।

आज की तारीख में एक्स रे टेक्नीशियन कोर्स की काफी ज्यादा डिमांड है। इसका कारण यह है कि, कोर्स में इंटर्नशिप के दौरान कैंडिडेट या स्टूडेंट की परफॉरमेंस और काम करने के तरीके को देखते हुए, उसे जल्द ही उसी हॉस्पिटल या किसी अच्छे स्वास्थ्य केंद्र में जॉब के अवसर प्रदान किए जाते हैं। हर साल कई स्टूडेंट इस कोर्स की पढ़ाई करके एक बेहतरीन कैरियर की शुरुआत कर रहे हैं।

इस कोर्स के बारे में जानने से पहले यह जानना ज़रूरी है कि एक्स रे क्या होता है? आईये इसके बारे में जानते हैं:

What is X Ray in Hindi- एक्स-रे क्या है?

X Ray इलेक्ट्रोमैग्नेटिक रेडिएशन की किरणें हैं जिनके माध्यम से हमारे पूरे शरीर की जांच की जाती है। इसमें इलेक्ट्रोमैग्नेटिक रेडिएशन को हमारे शरीर में डाला जाता है जिससे पूरे शरीर की अंदरूनी इमेज बन जाती है। इस इमेज को देख कर डॉक्टर, मरीज़ के शरीर में मौजूद बीमारी का पता लगाकर चिकित्सा करते हैं।

ये भी पढ़ें:

X Ray Technician कोर्स की Eligibility

एक्स रे कोर्स, चिकित्सा क्षेत्र में काफी अहम कोर्स माना जाता है। इस कोर्स को पूरा करने के लिए स्टूडेंट के पास आवश्यक योग्यता का होना अनिवार्य होता है। इन योग्यताओं का विवरण इस तरह से है:

  • इस कोर्स में डिप्लोमा करने के लिए स्टूडेंट को 12 वीं पास होना चाहिए।
  • 12 वीं कक्षा में विज्ञान का विषय होना अनिवार्य होता है।
  • 12 वीं कक्षा के विज्ञान में जीव विज्ञान, भौतिक विज्ञान और रासायनिक विज्ञान इन तीनों विषयों पर पास करना अनिवार्य है।
  • 12 वीं में स्टूडेंट को कम से कम 45 प्रतिशत अंक प्राप्त होने चाहिए।
  • कुछ कॉलेजों में 45% से कम अंक होने पर भी कोर्स के लिए योग्य माना जाता है।
  • स्टूडेंट या कैंडिडेट की उम्र कम से कम 17 वर्ष होनी चाहिए।
  • इसके अलावा कैंडिडेट या स्टूडेंट शारीरिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए।

उपरोक्त सभी शर्तों एवं नियमों का पालन करते हुए स्टूडेंट “एक्स रे टेक्नीशियन कोर्स” में एडमिशन के लिए आवेदन दे सकते हैं। कोर्स में एडमिशन की जानकारी आगे लेख में दी गई है।

X Ray Technician कोर्स के लिए एडमिशन

Diploma in x-ray Technology के इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट या कैंडिडेट को 12 वीं पास करने के बाद कॉलेज द्वारा आयोजित एंट्रेंस एग्जाम (प्रवेश परीक्षा) के लिए आवेदन देना पड़ता है।

प्रवेश परीक्षा में सफल होने के बाद कॉलेज द्वारा एक मेरिट लिस्ट पब्लिश की जाती है। उस मेरिट लिस्ट में स्टूडेंट का नाम आने के बाद उसे एडमिशन दे दिया जाता है।

एंट्रेंस एग्जाम यानि प्रवेश परीक्षा के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीके से आवेदन दिया जा सकता है। ऑफलाइन आवेदन देने के लिए स्टूडेंट को कॉलेज में जाकर फॉर्म भरना पड़ता है।

जबकि ऑनलाइन आवेदन के लिए कॉलेज की ऑफिशियल वेबसाइट में विजिट करना होगा। वेबसाइट पर मांगे गए सारे दस्तावेजों और आवश्यक जानकारी देने के बाद आवेदन सबमिट किया जाता है। जिसके बाद ऑनलाइन ही, स्टूडेंट को प्रवेश पत्र (Admit Card) उपलब्ध कराया जाता है, जिसे डाउनलोड एवं प्रिंट आउट करने के बाद एक्स रे Entrance Exam के लिए जा सकते हैं।

X Ray Technician Course Fees

भारत में कई सारे कॉलेज और विश्वविद्यालय हैं जहां एक्स रे कोर्स करवाया जाता है। आपको बता दें कि सरकारी कॉलेजों और प्राइवेट कॉलेजों के फीस में काफी अंतर होती है। या यूं कहें कि सभी कॉलेजों की फीस में अंतर होता है।

सरकारी कॉलेजों में प्राइवेट कॉलेजों के मुकाबले कम फीस ली जाती है। औसत अनुसार X Ray Technician कोर्स फीस की बात करें तो 2 साल के कोर्स को पूरा करने में लगभग ₹15,000 से लेकर ₹2,00,000 तक की फीस लग सकती है। कुछ कॉलेजों में जाति प्रमाण पत्र के आधार पर फीस में कुछ प्रतिशत छूट भी दी जाती है।

Top College for X Ray Technician Course in India

पूरे भारत देश में लगभग सभी राज्यों में अनेक कॉलेज हैं जिनमें एक्स रे कोर्स करवाया जाता है। उनमें से कुछ प्रमुख कॉलेजों के नाम नीचे दिए गए हैं:

  • Nilratan Sarkar Medical College, Kolkata
  • Government Medical College, Kannur
  • Dr. NTR University of Health Science, Vijayawada,
  • Vijaynagar Institute of Medical Science, Bareilly
  • Belgaum Institute of Medical Science, Karnataka
  • Geetanjali Medical College and Hospital, Udaipur- Rajasthan
  • Netaji Subhash Chandra Bose Medical College and Hospital (Madhya Pradesh)
  • Uttar Pradesh University of Medical Science
  • Chhatrapati Shahuji Maharaj University, Kanpur (Uttar Pradesh)
  • Government Medical College, Kerala
  • Delhi University

ये उदाहरणस्वरूप कुछ कॉलेजों के नाम दिए गए हैं। इनके अलावा और भी कई सारे कॉलेज हैं जिनमें आप अपनी सुविधा के अनुसार एडमिशन ले सकते हैं। आपके लिए बेहतर रहेगा यदि आप अपने घर के पास किसी कॉलेज में एडमिशन लें।

ये भी पढ़ें:

X Ray Technician Course Duration and Syllabus

Diploma in X Ray Technician कोर्स को पूरा करने में 2 साल का समय लगता है और उसके बाद 6 माह की इंटर्नशिप करवाई जाती है। यानि कुल मिलाकर 2.5 साल का समय लगता है। इस कोर्स के दौरान पढ़ाए जाने वाले विषयों की जानकारी नीचे दी गयी है:

x-ray-technician-course-what-is-x-ray
Image by Drazen Zigic on Freepik

पहला वर्ष

  • Basic of Radiotherapy (बेसिक रेडियोथेरेपी)
  • Human Anatomy and Physiology (ह्यूमन एनाटॉमी एंड फिजियोलॉजी)
  • Electrocardiography (इलेक्ट्रोकार्डियोग्राफ)
  • Radiodiagnostic Radiography Equipment (रेडियोडायग्नोस्टिक रेडियोग्राफी इक्विपमेंट)
  • Radiographic Techniques and Diagnostic (रेडियोग्राफिक टेक्निक्स एंड डायग्नोस्टिक)
  • Radiography (रेडियोग्राफी)

दूसरा वर्ष

  • Diagnostic Radiography (डायग्नोस्टिक रेडियोग्राफी)
  • Radiographic Image Acquisition (रेडियोग्राफिक इमेज एक्विजिशन)
  • Basic of Physics (बेसिक ऑफ फिजिक्स)
  • Radiographic Technique (रेडियोग्राफिक टेक्निक)
  • Radio Diagnostic Result Correlation (रेडियो डायग्नोस्टिक रिजल्ट कॉरेलेशन)
  • Clinical Haematology (क्लिनिकल हेमेटोलॉजी)
  • Chemistry and Urinalysis (केमिस्ट्री एंड यूरिनालिसिस)

ऊपर दिए गए सिलेबस के अनुसार ही एक्स रे कोर्स के विषयों को पढ़ाया जाता है। कोर्स के दौरान समय समय पर टेस्ट और परीक्षा ली जाती है।

X Ray Technician कोर्स में कैरियर विकल्प

एक्स रे टेक्नीशियन के कोर्स में डिप्लोमा करने के बाद स्टूडेंट के पास अच्छे कैरियर विकल्प होते हैं। 2 साल का कोर्स पूरा करने के बाद और 6 महीने की इंटर्नशिप के दौरान स्टूडेंट के हुनर और अच्छी Performance को देखकर उसे, उसी हॉस्पिटल या किसी दूसरे अच्छे हॉस्पिटल में नौकरी दे दी जाती है। इसके अलावा कैंडिडेट को सरकारी और प्राइवेट दोनों ही फील्ड में काम करने के अवसर प्रदान किए जाते हैं।

उदाहरण के लिए कुछ चिकित्सा क्षेत्रों के नाम नीचे दिए गए हैं जिनमें एक्स रे कोर्स की डिग्री धारकों को जॉब के लिए Preference दिया जाता है।

  • गैर सरकारी अस्पताल
  • सरकारी अस्पताल
  • नर्सिंग होम
  • क्लीनिक
  • पब्लिक हेल्थ सेंटर
  • डायग्नोस्टिक सेंटर
  • स्पेशल x-ray सेंटर
  • रिसर्च सेंटर, इत्यादि।

इसके अलावा और भी कई सारे चिकित्सा के क्षेत्र हैं जिनमें एक्स रे डिग्री धारकों की काफी ज्यादा डिमांड रहती है। कैंडिडेट, कोर्स के बाद उन पदों के लिए आसानी से आवेदन दे सकते हैं।

X Ray Technician Salary

आज की तारीख में एक्स रे डिप्लोमा कोर्स को चिकित्सा के क्षेत्र में काफी ज्यादा महत्व दिया जा रहा है। ऐसा इसलिए है क्योंकि एक्स-रे के माध्यम से चिकित्सा क्षेत्र में काफी उन्नति हुई है। एक्स रे तकनीक के जरिए, शरीर में मौजूद रोगों को आसानी से डायग्नोसिस किया जा सकता है, जिससे रोगियों को शीघ्र ही चिकित्सा मिल पाती है।

भारत में इस क्षेत्र में मिलने वाले वेतन की बात करें तो एक एक्स रे टेक्नीशियन फ्रेशर डिग्री धारक को लगभग ₹15,000 से लेकर ₹28,000 तक प्रति माह वेतन दिया जाता है। इस क्षेत्र में कैंडिडेट के अनुभव के साथ उसके वेतन में भी वृद्धि होती है।

कुल मिलाकर, एक अच्छा  कैरियर बनाने के लिये एक्स रे कोर्स सही साबित होता है। 12 वीं के बाद चिकित्सा क्षेत्र में जाने के लिए उत्सुक स्टूडेंट या कैंडिडेट इस कोर्स को निसंकोच चुन सकते हैं।

Frequently Asked Questions (FAQs)

X Ray Technician कोर्स कितने साल का होता है?

एक्स रे कोर्स 2 साल का होता है। इसे पूरा करने के बाद 6 महीने का इंटर्नशिप भी होती है। यानि कुल मिलाकर कोर्स पूरा होने में 2.5 वर्ष का समय लगता है।

मैं एक्स रे टेक्निशियन कैसे बनूं?

X-Ray टेक्निशियन बनने के लिए सबसे पहले आपको 12वीं में विज्ञान के तीनों विषयों पर पास करना होगा। जिसके बाद आप कोर्स के प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन दे सकते हैं। प्रवेश परीक्षा पास करने के बाद मेरिट लिस्ट में आपका नाम आने पर एडमिशन दिया जाएगा। 2 साल का कोर्स करने के बाद आपको 6 माह की इंटर्नशिप के लिए किसी हॉस्पिटल में भेजा जाएगा। जिसे पूरा करने के बाद ही आप X-Ray टेक्निशियन बनते हैं।

एक्स रे कोर्स की फीस कितनी होती है?

भारत में एक्स-रे कोर्स की फीस लगभग ₹15,000 से लेकर 2 लाख रुपए तक लग सकती है।

निष्कर्ष

साथियों, X Ray Technician Course Details in Hindi पर लिखा गया यह लेख आपको कैसा लगा हमें ज़रूर बताएं। यह कोर्स 12वीं के बाद किया जा सकता है और इसकी डिमांड कभी कम नहीं होने वाली। इसलिए अगर आप यह कोर्स करते हैं तो निश्चित ही अपने कैरियर को सही दिशा में ले जायेंगे। 

ये भी पढ़ें:

Sharing Is Caring:

Leave a Comment