ACCA Course Details in Hindi: ACCA Full Form पूरी जानकारी हिंदी में

ACCA Course Details in Hindi- ACCA Full Form in Hindi: अगर आप एक कॉमर्स स्टूडेंट हैं और एक अच्छा कैरियर बनाने की सोच रहे हैं, तो यह लेख आपके लिए काफी फायदेमंद होने वाला है। इस लेख में हम एसीसीए कोर्स के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं। यदि आपने 12 वीं, कॉमर्स विषय से पास किया है तो इस कोर्स के बारे में जानना आपके लिए बहुत जरूरी होगा।

अगर आप एक ऐसे कैरियर विकल्प की तलाश कर रहे हैं जिसमें आप ज्यादा पैसे भी कमायें और विदेशों की सैर भी करें यानि विदेशों में भी जॉब के अवसर मिले तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें। आज के इस लेख में हम आपको बताएँगे ACCA Course Kya Hai, ACCA Full Form in Hindi, Meaning of ACCA, Benefits of ACCA Course, ACCA Course Eligibility, ACCA Course Syllabus, ACCA Colleges, ACCA Course Fees, ACCA Course duration, ACCA Job Opportunities, ACCA Salary.

acca-course-details-in-hindi-india-acca-full-form-in-hindi
Economist photo created by pressfoto – www.freepik.com
Contents hide

What is ACCA Course (एसीसीए कोर्स क्या है)- ACCA Course Details in India

ACCA Course Kya Hai: दोस्तों एसीसीए, बिज़नेस फील्ड का ही एक प्रमुख कोर्स है। आपने कहीं न कहीं अकाउंटेंट शब्द तो सुना ही होगा, इसलिए आपको बता दें कि अकाउंटेंट के पद पर जॉब पाने के लिए एसीसीए, Best Course है। इसके फायदे भी आपको आगे लेख में जानने को मिलेंगे।

ACCA Full Form in Hindi: एसीसीए कोर्स का फुलफॉर्म, एसोसिएशन ऑफ सर्टिफाइड चार्टर्ड अकाउंटेंट होता है। इस कोर्स को करने के बाद कैंडिडेट को सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरे वर्ल्ड में कहीं पर भी नौकरी मिल सकती है। एसीसीए कोर्स करने के बाद आपको ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, आयरलैंड न्यूजीलैंड, यूके जैसे और भी कई देशों में जॉब के अवसर दिए जाते हैं।

आपको बता दें कि एक सामान्य अकाउंटेंट 5 साल का अनुभव होने के बाद भी बड़ी मुश्किल से 40,000 से 50,000 रुपए प्रति माह कमा पाते हैं। जबकि एसीसीए कोर्स करने के बाद 5 साल के अनुभवी अकाउंटेंट को आराम से 80 हज़ार रुपए से लेकर 90 हज़ार रुपए तक प्रति माह तक वेतन दिया जाता है।

वर्तमान समय में बहुत सारी बड़ी बड़ी कंपनियां, एसीसीए कोर्स के सर्टिफिकेट धारकों की तलाश कर रहें हैं, जिसकी वजह से यह कोर्स काफी ज्यादा डिमांड में है। इस कोर्स की डिमांड MNC में ज्यादा रहती है। एसीसीए Course कर लेने के बाद आप अपने कैरियर के प्रति निश्चिंत हो सकते हैं।

ये भी पढ़ें:

एसीसीए कोर्स के फायदे क्या हैं- Benefits of ACCA Course in India

आपको बता दें कि यह यूनाइटेड किंगडम (UK) में स्थित एक इंटरनेशनल सर्टिफाइड अकाउंटिंग संस्था है, जो एसीसीए Course करवाती है। एसईसीए कोर्स का सर्टिफिकेट की ऑल ओवर वर्ल्ड में मान्यता दी जाती है, साथ ही यह संस्था लगभग 7000 से भी ज्यादा कंपनियों के साथ संपर्क में है।

अगर आप एक बार एसीसीए कोर्स से जुड़ जाते हैं तो आपको निश्चित रूप से अच्छी कंपनी में जॉब के अवसर मिलने लगेंगे। आगे आपके टैलेंट और हुनर पर निर्भर है कि आप किस कंपनी में जॉब पाने के योग्य हैं।

ACCA Course Eligibility

यह एक बहुत ही खास कोर्स है जिसे पूरा करने पर आपको अपने कैरियर की चिंता करने की जरूरत नहीं होती। एसीसीए कोर्स को करने के लिए योग्यता इस प्रकार से है।

ACCA Eligibility Details in Hindi

  • स्टूडेंट को 12 वीं पास होना चाहिए।
  • 12वीं में न्यूनतम 50% अंक होने ही चाहिए।
  • 12वीं में गणित,  एकाउंटिंग और अंग्रेजी विषय का होना अनिवार्य है।
  • स्टूडेंट की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • अगर आप 12वीं के बाद ग्रेजुएशन कर रहे हैं, तो भी आप ए सी सी ए कोर्स के योग्य हैं।

ACCA Admission Process (एसीसीए कोर्स कैसे करें?)

एसीसीए कोर्स को आप 12 वीं के बाद कर सकते हैं। इसमें एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट को प्रवेश परीक्षा से गुजरना पड़ता है जो कि विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित किया जाता है। स्टूडेंट को विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित एंट्रेंस एग्जाम में आवेदन देना पड़ता है।

स्टूडेंट जब इस एंट्रेंस एग्जाम को पास कर लेता है तब उसके बाद एक मेरिट लिस्ट जारी की जाती है। मेरिट लिस्ट में नाम आने के बाद स्टूडेंट को एसीसीए के लिए एडमिशन दे दिया जाता है। भारत में सभी कॉलेजों या विश्वविद्यालयों में इसी प्रकार से एसीसीए कोर्स में एडमिशन दिया जाता है।

Entrance Exam for ACCA (एसीसीए कोर्स के प्रमुख प्रवेश परीक्षा)

स्टूडेंट को एसीसीए कोर्स में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम पास करना जरूरी होता है। कुछ प्रमुख एंट्रेंस एग्जाम निम्न लिखित है:

ACCA Entrance Exam details

  • LPU NEST  ENTRANCE EXAM
  • JEE MAIN  ENTRANCE EXAM
  • GGSIPU  ENTRANCE EXAM
  • GATA  ENTRANCE EXAM
  • AJEE  ENTRANCE EXAM
  • CUET  ENTRANCE EXAM
  • SET  ENTRANCE EXAM
  • AIMA UGAT  ENTRANCE EXAM
  • SUAT  ENTRANCE EXAM

ACCA Course Fees in India (भारत में एसीसीए कोर्स की फीस)

acca-course-details-in-hindi-acca-full-form-in-hindi
Photo by RODNAE Productions

एसीसीए कोर्स के लिए हमारे भारत में विभिन्न कॉलेजों और यूनिवर्सिटी में अलग अलग फीस स्ट्रक्चर होता है। सामान्य तौर पर इंडिया में ACCA Fees, लगभग ₹28,000 से लेकर ₹2,60,000 तक होती है। आपको बता दें कि यह फीस सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज दोनों में अलग-अलग होती है। सरकारी कॉलेजों में प्राइवेट कॉलेज के मुकाबले फीस कम होती है।

Top College for ACCA Course (एसीसीए कोर्स के लिए प्रमुख कॉलेज)

एसीसीए कोर्स के लिए हमारे भारत में बहुत सारे बड़े कॉलेज और यूनिवर्सिटी हैं। उनमें से प्रमुख नाम नीचे दिए गए हैं।

TOP ACCA Colleges in India

  • शारदा यूनिवर्सिटी नोएडा
  • चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी मेरूट
  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी बेंगलुरू
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट मुंबई
  • एपीजे सत्य यूनिवर्सिटी गुड़गांव
  • इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट एंड एडमिनिस्ट्रेशन ग्वालियर
  • सोफिया गर्ल्स कॉलेज अजमेर
  • सिंबोसिस कॉलेज आफ आर्ट्स एंड कमर्स पुणे
  • ग्लोबल सेंटर फॉर एंटरप्रेन्योरशिप एंड कॉमर्स जयपुर, इत्यादि।

ACCA Course Duration in India

भारत में इस कोर्स को करने में 2 साल का समय लगता है। इस दौरान स्टूडेंट को 4 मॉड्यूल आर्डर में एग्जाम देना होता है। एसीसीए कोर्स में कुल 15 पेपर होते हैं। जिसमें से 13 पेपर में स्टूडेंट को पास करना होगा तभी वह स्टूडेंट एसीसीए की सदस्य बन सकता है।

Exam पास करने के बाद लगभग 7000  कंपनियों के साथ कनेक्ट रखने वाली एसीसीए संस्था, उस कैंडिडेट को अलग अलग कंपनियों में जॉब के अवसर प्रदान करती है।

ये भी पढ़ें:

ACCA Syllabus- ACCA Papers and ACCA Subjects

एसीसीए कोर्स (Course of ACCA) के 13 पेपर क्रमशः निम्न प्रकार हैं:

  1. Business Accounting
  2. Management Accounting
  3. Financial Accounting
  4. Corporate and Business Law
  5. Performance Management
  6. Taxation
  7. Financial Reporting
  8. Audit and Assurance
  9. Financial Management
  10. Advance Financial Management
  11. Advance Performance Management
  12. Advance Taxation
  13. Advance Audit and Assurance

Job After ACCA Course (एसीसीए कोर्स के बाद नौकरी के पद)

एसीसीए कोर्स करने के बाद आप निम्न पदों में जॉब पा सकते हैं और अपने कैरियर को बेहतर बना सकते हैं।

  • Accountant (मुनीम)
  • Auditor (लेखा परीक्षक)
  • Chartered Accountant
  • Chief Financial Officer (मुख्य वित्तीय अधिकारी)
  • Financial Accountant (वित्तीय लेखाकार)
  • Management Consultant (प्रबंधन सलाहकार)
  • Finance Manager (वित्त प्रबंधक)
  • Equity Research Analyst
  • Corporate Analyst
  • Investment Banker (निवेशक बैंकर)
  • Cashier (कैशियर)

What is ACCA Salary- (एसीसीए कोर्स के बाद सैलरी)

एसीसीए कोर्स करने के बाद एक फ्रेशर कैंडिडेट को UK में लगभग 20 लाख रुपए से लेकर 25 लाख रुपए तक प्रति वर्ष का पैकेज मिल सकता है। जबकि भारत में कोर्स के बाद एक फ्रेशर कैंडिडेट को 6 लाख रुपए से लेकर 12 लाख रुपए प्रति वर्ष का पैकेज मिल जाता है।

हमारे भारत में इस अकाउंटेंट की फील्ड में, अनुभव के हिसाब से वेतन कम या अधिक दिया जाता है। शुरुआत में कम वेतन मिलता है पर जैसे जैसे कैंडिडेट का अनुभव और तजुर्बा बढ़ता है वैसे ही उसके वेतन में भी वृद्धि होती है।

यह कोर्स काफी ज्यादा पॉपुलर होने के पीछे एक कारण यह है कि इसमें आपको विदेशों में भी जॉब के अवसर दिए जाते हैं। एसीसीए कोर्स करने के बाद आप एक बेहतर कैरियर विकल्प को चुनते हैं। हर साल कई सारे स्टूडेंट इस कोर्स को पूरा करके न सिर्फ भारत में बल्कि विदेशों में भी जॉब पा कर अपने कैरियर को बेहतर बना रहे हैं। आप भी इस कोर्स को अपनी सुविधा अनुसार चुन सकते हैं।

एसीसीए कोर्स इतना ख़ास क्यों है?

acca-course-details-in-hindi-acca-full-form-in-hindi-course-of-acca
Image by Claudio_Scott from Pixabay

इस कोर्स के काफी ज्यादा खास होने प्रमुख कारण निम्नलिखित हैं:

  • ACCA Certificate की मान्यता पूरी दुनिया भर में होती है।
  • इस कोर्स को करने के बाद आप भारत के अलावा विदेशों में भी जॉब पा सकते हैं।
  • इस कोर्स को करने से स्टूडेंट, व्यवसाय और लेखा के क्षेत्रों में निपुण हो जाते हैं।
  • यह 181 देशों में 5,00,000 से अधिक सदस्यों और छात्रों के साथ दुनिया में सबसे बड़ी और तेजी से बढ़ती योग्यताओं में से एक है।
  • एसीसीए कोर्स करने के बाद आपके पास कैरियर बनाने के लिए कई सारे विकल्प होते हैं।
  • एसीसीए संस्था द्वारा दो बार प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है।
  • एसीसीए कोर्स के सर्टिफिकेट धारकों की बड़ी बड़ी कम्पनियों में काफी डिमांड रहती है।

ये भी पढ़ें:

Frequently Asked Question (FAQs)

एसीसीए कोर्स का Full Form क्या है?

एसोसिएशन ऑफ सर्टिफाइड चार्टर्ड अकाउंटेंट

एसीसीए कोर्स की अवधि कितनी होती है?

एसीसीए कोर्स की अवधि 2 साल की होती है। यानि इस कोर्स को पूरा करने के लिए 2 साल लगते हैं। इसमें कुल 15 पेपर होते हैं  जिसमें से विद्यार्थी को 13 पेपर पास करने होते हैं और उसके बाद ही वह सर्टिफिकेट का हकदार होता है।

एसीसीए कोर्स की फीस कितनी होती है?

भारत में इस कोर्स की फीस लगभग 28 हज़ार रुपए से लेकर ढाई लाख रुपए तक होती है। अलग अलग कॉलेजों में अलग अलग फीस ली जाती है। प्राइवेट कॉलेजों के मुकाबले सरकारी कॉलेजों में कम फीस ली जाती है।

एसीसीए कोर्स के लिए क्या योग्यता होती है?

एसीसीए कोर्स करने के लिए स्टूडेंट को 12वीं पास करना जरूरी होता है। उसके बाद ही वो इस कोर्स के लिए आवेदन दे सकते हैं।

एसीसीए कोर्स में एडमिशन कैसे मिलता है?

एसीसीए कोर्स में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट को 12वीं के बाद एंट्रेंस एग्जाम यानि प्रवेश परीक्षा पास करना होता है। जिसके बाद मेरिट लिस्ट जारी की जाती है। उस मेरिट लिस्ट में स्टूडेंट का नाम आने के बाद उसे एडमिशन दिया जाता है।

एसीसीए कोर्स के बाद मिलने वाली जॉब में सैलरी कितनी होती है?

इस कोर्स को करने के बाद एक अनुभवी कैंडिडेट को लगभग 6 लाख रुपए से लेकर 12 लाख रुपए तक प्रतिवर्ष का पैकेज मिल सकता है।

What is the meaning of ACCA?

एसीसीए की मीनिंग Association of certified chartered accountant (एसोसिएशन ऑफ सर्टिफाइड चार्टर्ड अकाउंटेंट) होती है।

निष्कर्ष

साथियों, आज के इस पोस्ट ‘ACCA Course Details in Hindi- ACCA Course Full Form in Hindi’ में आपने जाना कि कैसे आप कॉमर्स विषय के साथ 12वीं पास करके इस कोर्स के लिए आवेदन दे सकते हैं और एक बेहतर कैरियर बना सकते हैं। जहां एक ओर यह इंडिया में जॉब प्रदान करता है वहीं दूसरी ओर इस कोर्स की मदद से विदेशों से भी जॉब के ऑफर आते हैं।

इस लेख के माध्यम से आपने जाना कि कैसे मात्र 2 वर्ष के इस सर्टिफिकेट कोर्स की मदद से आप अच्छी सैलरी वाली नौकरी पा सकते हैं। इस कोर्स के बाद आपको Multi National Companies में भी काम करने के अवसर प्राप्त होते हैं।

अगर आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ ज़रूर साझा करें जिससे लोगों को इस कोर्स की अच्छाईयों के बारे में पता चल सके और वो भी अपना भविष्य बना सकें।

ये भी पढ़ें:

Sharing Is Caring:

Leave a Comment