BNYS Course Details in Hindi- सामान्य Fees में अच्छा कैरियर!

BNYS Course Kya HaiBNYS Full Form in Hindi: आजकल की भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी में सभी परेशान हैं, हर तरफ अच्छी ज़िन्दगी पाने के लिए और इसके लिए पैसे कमाने की होड़ लगी हुई है। यही कारण है कि इस व्यस्त ज़िन्दगी में व्यक्ति अपने खाने पीने का ध्यान नहीं रख पाता और परिणाम स्वरुप वह शारीरिक रूप से अस्वस्थ रहने लगा है।

इसी आपा धापी भरी ज़िन्दगी नें सभी को अनगिनत मानसिक बीमारियों से जकड़ रखा है, हर एक व्यक्ति किसी न किसी रूप में तनाव से ग्रस्त है।

सबको पता है कि वर्तमान में जैसी ज़िन्दगी चल रही है उससे बचा नहीं जा सकता, इसलिए लोग अब ऐसी चिकित्सा प्रणाली की तरफ रुख करने लगे हैं जो प्राकृतिक हो, उनके स्वास्थ्य को संतुलित बना कर रख सके और साथ ही अन्य बीमारियों एवं तनाव से उन्हें बचा सके।

बी एन वाई एस एक ऐसी ही चिकित्सा प्रणाली है जिसकी डिमांड लगातार बढ़ती ही जा रही है। ऐसे में अगर आप यह कोर्स करते हैं तो निश्चित रूप से लाभान्वित होंगे। आज का लेख उन विद्यार्थियों के लिए काफ़ी महत्वपूर्ण है जो Exercise और Yoga में रुचि रखते हैं और इस तरह की चिकित्सा पद्धति को सीख कर लोगों का इलाज़ करने की मंशा रखते हैं।

आज का लेख BNYS Course के बारे में है जिसमें शरीर का इलाज़ करने के लिए और उसे बीमारियों से बचाने के लिए किसी भी तरह की हानिकारक दवाओं का प्रयोग किये बिना, प्राकृतिक तरीकों से शरीर को स्वस्थ रखने के बारे में शिक्षा दी जाती है।

इस लेख के माध्यम से आपको एक बहुत ही महत्वपूर्ण कोर्स के बारे में जानकारी मिलने वाली है जिसकी मदद से आप एक अच्छे कैरियर की शुरुवात कर सकते हैं।

लेख में BNYS Course Details in Hindi से संबंधित सारी जानकारी दी गई है जैसे BNYS Course Kya Hota Hai, कोर्स के फायदे क्या हैं, कोर्स के लिए योग्यता क्या है, कोर्स में एडमिशन कैसे लें, कोर्स की फीस कितनी होती है, कोर्स के लिए क्या करना होगा, कोर्स के बाद कैरियर विकल्प क्या हैं, कोर्स पूरा करने के बाद कितनी सैलरी होती है इत्यादि।

bnys-course-details-in-hindi-bnys-course-full-form-bnys-kya-hai-bnys-full-form
Yoga nature photo created by javi_indy – www.freepik.com

What is BNYS Course Details in Hindi | BNYS Course Kya Hai

BNYS Course में शरीर का इलाज़ करने के लिए और उसे बीमारियों से बचाने के लिए प्राकृतिक तरीकों से शरीर को स्वस्थ रखने के बारे में पढ़ाया जाता है।

बी एन वाई एस कोर्स यौगिक विज्ञान और प्राकृतिक चिकित्सा क्षेत्र से संबंधित एक अहम कोर्स है। यह कोर्स एक स्नातक डिग्री कोर्स है जिसके माध्यम से योगा और प्राकृतिक चिकित्सा क्षेत्र में महारत हासिल की जा सकती है। इस कोर्स के दौरान यौगिक विज्ञान से संबंधित पूर्ण शिक्षा एवं प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है।

आपको बता दें कि इस आधुनिक युग में यौगिक विज्ञान और प्राकृतिक चिकित्सा को एक बार फिर से काफी ज्यादा महत्व दिया जा रहा है। अक्सर देखा गया है कि एलोपिथिक दवाइयों से मरीज के ऊपर साइड इफेक्ट्स हो जाते हैं जिसकी वजह से ज्यादातर लोग यौगिक चिकित्सा की विधि को अपना रहे हैं। इस विधि में मरीज को योगा, व्यायाम और प्राकृतिक ढंग से स्वस्थ बनाया जाता है या इलाज किया जाता है।

आज की तारीख में यौगिक विज्ञान या प्राकृतिक चिकित्सा क्षेत्र में बी एन वाई एस कोर्स की काफी ज्यादा डिमांड है जिसके कारण कई स्टूडेंट इस कोर्स के माध्यम से एक अच्छे कैरियर की शुरुआत कर रहे हैं।

इस कोर्स के बाद स्टूडेंट,  योग प्रशिक्षक (Yoga Trainer), फिजियोथैरेपिस्ट, प्राकृतिक चिकित्सक, बी एन वाई एस डॉक्टर आदि के रूप में कैरियर बना सकते हैं। हमारे इस लेख में इन सभी के बारे में विस्तार से जानकारी मिलने वाली है।

ये भी पढ़ें:

What is BNYS Full Form in Hindi

BNYS का फुलफॉर्म यानि पूरा नाम Bachelor of Naturopathy and Yogic Science होता है। इसे कुछ इस प्रकार से उच्चारित किया जाता है “बैचलर ऑफ नेचुरोपैथी एंड यौगिक साइंस”।

अगर हम हिंदी में इस कोर्स के पूरे नाम की मतलब समझें तो यह प्राकृतिक चिकित्सा और यौगिक विज्ञान में स्नातक होता है जो इस क्षेत्र की बैचलर डिग्री में शामिल होता है।

BNYS Course Eligibility

यह कोर्स यौगिक विज्ञान से संबंधित एक ख़ास कोर्स है जिसमें प्रवेश लेने के लिए स्टूडेंट या कैंडिडेट के पास कुछ योग्यताओं का होना अनिवार्य है। कोर्स के लिए योग्य बनने का विवरण नीचे दिया गया है-

  • स्टूडेंट को किसी कॉलेज या स्कूल से 12 वीं पास करना अनिवार्य है।
  • 12 वीं में विज्ञान विषय पर पास करना जरूरी होता है।
  • विज्ञान विषयों में जीव विज्ञान का होना अनिवार्य है।
  • स्टूडेंट को 12 वीं में कम से कम 50 प्रतिशत अंक प्राप्त करना जरूरी होता है। कुछ कॉलेजों में 45 प्रतिशत अंक होने पर भी योग्य माना जाता है।
  • इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए उम्र सीमा पर खास ध्यान रखा जाता है।
  • स्टूडेंट या कैंडिडेट की उम्र 17 वर्ष से अधिक और 25 वर्ष कम होनी चाहिए।
  • स्टूडेंट या कैंडिडेट शारीरिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए।
  • एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षा पास करना अनिवार्य है।
  • कुछ कॉलेजों में 12 वीं में प्राप्त अंकों के आधार पर ही एडमिशन दिया जाता है।

उपरोक्त नियम एवं शर्तों के अनुसार स्टूडेंट को इस कोर्स के योग्य माना जाता है। बी एन वाई एस कोर्स में एडमिशन और अवधि के बारे में हम आगे पढ़ने वाले हैं।

बी एन वाई एस कोर्स Admission Process and Entrance Exam

बी एन वाई एस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट को 12 वीं के बाद कॉलेज द्वारा आयोजित बी एन वाई एस कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन देना होता है। प्रवेश परीक्षा में पास करने के बाद कॉलेज द्वारा जारी की गयी मेरिट लिस्ट में स्टूडेंट का नाम आने पर ही एडमिशन दिया जाता है।

आपको बता दें कि कुछ कॉलेजों या संस्थानों में बिना प्रवेश परीक्षा के ही 12 वीं में प्राप्त अंकों के अनुसार मेरिट लिस्ट जारी कर दी जाती है जिसके बाद विद्यार्थियों को इस कोर्स में दाखिला दे दिया जाता है।

BNYS Course Ki Duration

इस कोर्स की Duration के बारे में बात करें तो इसमें प्रशिक्षण के दौरान 4.5 वर्ष का समय लगता है। प्रशिक्षण पूरा होने के बाद स्टूडेंट को 1 साल के लिए इंटर्नशिप करवाई जाती है ताकि स्टूडेंट को प्रशिक्षण के साथ अच्छा अनुभव भी प्राप्त हो।

कुल मिलाकर बी एन वाई एस कोर्स को पूरा होने में 5.5 साल का समय लगता है। इसके बाद स्टूडेंट यौगिक विज्ञान और चिकित्सा के क्षेत्र में निपुण हो जाता है।

ये भी पढ़ें:

BNYS Course Fees

सरकारी कॉलेजों में कोर्स की फीस (BNYS Course Fees in Government College) लगभग ₹15,000 से लेकर ₹50,000 तक हो सकती है। जबकि प्राइवेट कॉलेजों या निजी संस्थानों में लगभग ₹50,000 से लेकर 2.5 लाख रुपए तक की फीस लग सकती है।

कुछ प्रमुख प्राइवेट कॉलेज में मान्यता और प्रशिक्षण के सुविधा अनुसार कोर्स की फीस लगभग 4 लाख रुपए के आस पास भी हो सकती है।

इस कोर्स के लिए अलग अलग कॉलेजों में अलग अलग फीस होती है। कुछ कॉलेजों में स्टूडेंट के लिए कोर्स के दौरान रहने, खाने आदि की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है जिसके अनुसार फीस भी ज्यादा लगती है। आपको बता दें कि सरकारी कॉलेजों और प्राइवेट कॉलेजों के फीस में काफी अंतर होता है।

ऊपर बताई गयी फीस की जानकारी औसत अनुसार दी गई है। सही फीस की जानकारी लेने के लिए, आप जिस कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं वहां से इसके बारे में पता कर सकते हैं।

बी एन वाई एस Course Specialisation

bnys-course-details-in-hindi-bnys-course-full-form-bnys-kya-hai-bnys-full-form-bnys-fees
Image from Pixabay

बी एन वाई एस कोर्स करने के बाद स्टूडेंट या कैंडिडेट एक यौगिक डॉक्टर या प्राकृतिक चिकित्सक बन जाता है। इस क्षेत्र में किसी एक विषय को चुनकर स्टूडेंट उसमें विशेषज्ञ बन सकता है।

बी एन वाई एस कोर्स में कई विषयों को चुनने का विकल्प होता है जिसमें महारत हासिल करके विद्यार्थी एक अच्छे कैरियर की शुरुआत कर सकते हैं। इस कोर्स के बाद बनने वाले विशेषज्ञ के नाम नीचे दिए गए हैं।

  • Nutrition Therapy
  • Herbal/Botanical Medicine
  • Acupuncture
  • Homeopathic Medicine Specialist
  • Natural Childbirth, etc.

BNYS Course Syllabus and Subjects in Hindi

बी एन वाई एस कोर्स के चार सालों में अलग अलग विषयों पर प्रशिक्षण दिया जाता है जिसका विवरण नीचे दिया गया है।

 1st Year

  • Anatomy
  • Hospital Management
  • Physiology
  • Philosophy of Nature Care
  • Biochemistry
  • Practicals
  • Yoga Practices

2nd Year

  • Basic Pharmacology
  • Forensic Medicine and Toxicology
  • Pathology
  • Microbiology
  • Community Medicine
  • Yoga Philosophy
  • Magneto Therapy and Chromotherapy
  • Practical

3rd Year

  • Yoga & Physical Culture
  • Nutrition and Herbology
  • Manipulative Therapies
  • Naturopathic and Modern Diagnosis
  • Psychology and Basic Psychiatry
  • Acupuncture, Reflexology, Pranic Healing
  • Research Methodology and Recent Advances

4th Year

  • Fasting and Diet Therapy
  • Clinical Naturopathy
  • Yoga Therapy
  • Obstetrics and Gynecology
  • Hydrotherapy and Mud Therapy
  • Emergency Medicine, Minor Surgery & First Aid
  • Physical Medicine & Rehabilitation

ऊपर दिए गए विषयों के विवरण के अनुसार ही कॉलेजों में कोर्स का प्रशिक्षण दिया जाता है।

BNYS Course Ke Fayde

bnys-course-details-in-hindi-bnys-course-full-form-bnys-course-kya-hai-bnys-full-form-bnys-fees
Photo by Chokniti Khongchum

बी एन वाई एस कोर्स को पूरा करने के बाद स्टूडेंट या कैंडिडेट को कई सारे फायदे होते हैं जिसकी जानकारी नीचे दी गई है।

  • इस कोर्स को करने के बाद स्टूडेंट के पास अच्छे कैरियर विकल्प उपलब्ध हो जाते हैं।
  • स्टूडेंट्स, कोर्स करने के बाद अच्छे पदों पर जॉब हासिल कर सकते हैं।
  • कोर्स पूरा करने के बाद जॉब के अलावा स्टूडेंट खुद का योगा केंद्र भी चला सकते हैं।
  • कोर्स करने के बाद दी जाने वाली डिग्री की मान्यता पूरे देश भर में होती है।
  • कोर्स की डिग्री प्राप्त करने के बाद कैंडिडेट, सरकारी और प्राइवेट दोनों क्षेत्र में जॉब कर सकते हैं।
  • इस कोर्स के माध्यम से स्टूडेंट को यौगिक विज्ञान के बारे में अच्छी शिक्षा प्राप्त होती है।
  • कोर्स पूरा करने के बाद ज्ञान के साथ-साथ सम्मानजनक वेतन वाले जॉब के अवसर भी दिए जाते हैं।

इसके अलावा स्टूडेंट या कैंडिडेट के पास और भी कई सारे विकल्प होते हैं जिसमें वो एक अच्छे कैरियर की शुरुआत कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:

बी एन वाई एस कोर्स के बाद Jobs

बी एन वाई एस कोर्स को पूरा करने के बाद स्टूडेंट या कैंडिडेट नीचे दिए गए पदों में जॉब प्राप्त कर सकते हैं।

  • प्राकृतिक चिकित्सक
  • आयुष प्रोफेसर
  • पोषण और आहार विशेषज्ञ
  • पैराक्लिनिकल एक्सपर्ट
  • योगा ट्रेनर
  • आयुर्वेद सलाहकार
  • आयुष प्रैक्टिशनर
  • रिसर्चर, आदि।

इन सभी पदों के अलावा स्टूडेंट या कैंडिडेट कोर्स पूरा करने के बाद प्राइवेट या निजी क्षेत्र में भी काम कर सकते हैं और वहां भी एक अच्छा कैरियर बना सकते हैं।

BNYS Salary in India

बी एन वाई एस कोर्स के बाद मिलने वाली नौकरी में अलग-अलग पदों में अलग-अलग प्रकार की सैलरी दी जाती है। औसत अनुसार भारत में एक फ्रेशर बी एन वाई एस डिग्री धारक कैंडिडेट को लगभग 2 लाख रुपए से लेकर 4.5 लाख रुपए तक प्रति वर्ष का पैकेज मिल सकता है।

इस क्षेत्र में अनुभव के साथ डॉक्टर या चिकित्सकों की सैलरी में वृद्धि होती है। एक अनुभवी बी एन वाई एस डिग्री धारक कैंडिडेट के सैलरी की बात करें तो औसत अनुसार लगभग 3 लाख रुपए से लेकर 10 लाख रुपए तक प्रति वर्ष का पैकेज दिया जाता है।

अगर कैंडिडेट नौकरी न करके निजी प्राकृतिक चिकित्सा केंद्र या योगा केंद्र को व्यवसाय के रूप में शुरू करते हैं तो इसमें लगभग 5 लाख रुपए से लेकर 15 लाख रुपए तक प्रति वर्ष कमाया जा सकता है।  कुल मिला कर देखें तो बी एन वाई एस कोर्स एक अच्छे कैरियर विकल्प के तौर पर चुना जा सकता है।

निष्कर्ष

उम्मीद है BNYS Course Details in Hindi के इस लेख के माध्यम से आपको कोर्स के बारे में विस्तार से जानकारी मिली होगी। इसके अलावा कोर्स से संबंधित कोई भी सवाल आप नीचे टिप्पणी करके पूछ सकते हैं। हम आपके सवालों के जवाब तुरंत ही देने की कोशिश करेंगे।

ये भी पढ़ें:

Sharing Is Caring:

Leave a Comment