Fashion Designer Kaise Bane- 20 Famous Fashion Designers in India

Fashion Designer Kaise Bane – How to become Fashion Designer in Hindi: आप सभी ने मनीष मल्होत्रा का नाम तो सुना ही होगा, यह एक फैशन डिज़ाइनर हैं जो बॉलीवुड सेलिब्रिटीज के कपड़े डिजाइन करते हैं और अच्छा खासा पैसा कमाते हैं। आज के समय में डिजाइनर कपड़ों की मार्केट बहुत बढ़ चुकी है। रोजाना नई-नई कंपनियां मार्केट में आ रही हैं और लोग भी डिजाइनर कपड़ों को पहनना पसंद करने लगे हैं।

डिज़ाइनर कपड़ों की बढ़ती डिमाण्ड की वजह से बहुत से युवा फैशन डिजाइनर बनना चाहते हैं और इस फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं। अगर आप भी एक फैशन डिज़ाइनर बनना चाहते हैं तो आपको हमारा यह लेख ज़रूर पढ़ना चाहिए, क्योंकि इस लेख में हम आपको डिटेल में बताने वाले हैं कि एक Fashion Designer Kaise Bane?

फैशन डिज़ाइनर बनना कोई मुश्किल काम नहीं है लेकिन एक पॉपुलर फैशन डिज़ाइनर बनना थोड़ा मुश्किल है। कोर्स करने के बाद कोई भी व्यक्ति फैशन डिजाइनर बन जाता है लेकिन एक पॉपुलर फैशन डिज़ाइनर बना, जिसकी डिमांड हर तरफ हो, थोड़ा सा मुश्किल है। लेकिन अगर आप हमारे इस पोस्ट में दिए गए सभी स्टेप्स को फॉलो करते हैं तो आप एक बेहतर फैशन डिजाइनर बन सकते हैं, क्योंकि इस पोस्ट में हम आपको एजुकेशन के साथ-साथ उन स्किल्स के बारे में भी बताने वाले हैं जिनकी जरूरत एक कुशल फैशन डिजाइनर बनने में पड़ती है।

fashion-designer-kaise-bane-in-hindi-hindi-me

Fashion Designer किसे कहते हैं | Fashion Designer Kya Hota Hai?

इसके नाम से ही आपको पता चल रहा होगा कि जो व्यक्ति कपड़ों को डिजाइन करता है उसे फैशन डिजाइनर कहा जाता है। दरअसल, Fashion Designer का मुख्य काम अपने कस्टमर की कल्पना और जरूरत के हिसाब से कपड़े को डिजाइन करना होता है। एक डिज़ाइनर बनने में आपकी क्रिएटिविटी सबसे ज्यादा अहम रोल निभाती है क्योंकि क्रिएटिविटी की वजह से ही आप नए-नए डिजाइंस बना पाते हैं।

साथ ही आपके कपड़ों के डिजाइन ऐसे होने चाहिए, जिन्हें पहनने के बाद कस्टमर कंफर्टेबल महसूस करें। जो व्यक्ति इन सब बातों का ध्यान रखते हुए कपड़े को डिजाइन करता है, सही मायने में उसे ही एक फैशन डिज़ाइनर कहा जाता है।

ये भी पढ़ें:

Fashion Designing में कैरियर की संभावनाएं

फैशन डिजाइनिंग की फील्ड में करियर स्कोप काफी ज्यादा है क्योंकि पूरी दुनिया में लोग अपने कपड़ों पर अच्छा-खासा पैसा खर्च करते हैं और वह ब्रांडेड और यूनिक कपड़े पहनना पसंद करते हैं। इसी वजह से आज के समय में लाखों कंपनियां हैं जो कपड़े बनाती हैं और अधिकतर सभी कंपनियां खुद के कपड़े डिजाइन करती है। जिसके लिए उन्हें फैशन designers की आवश्यकता होती है। अगर आप Fashion Designing Course कर लेते हैं तो आपके पास काम की कभी भी कोई भी कमी नहीं होगी।

यह एक ऐसा करियर ऑप्शन है जिसमें आपको पॉपुलैरिटी, पैसा और इज्जत तीनों मिलती है। एसोचैम की रिपोर्ट के अनुसार इंडिया में डिज़ाइनर कपड़ों का बाजार लगभग 1,62,900 करोड़ का है और यह बाजार समय के साथ साथ बढ़ता जा रहा है। इसकी वजह से डिजाइनर्स की डिमांड भी बढ़ रही है। इंडिया में कुछ फैशन डिजाइनर काफी ज्यादा लोकप्रिय हैं जैसे- Manish Malhotra, Tarun Tahilani, Ritu Beri, JJ Valya, Rohit Bal, Ritu Kumar आदि (Best Fashion Designer in India)।

Fashion Designer Responsibilities in Hindi- जिम्मेदारियाँ

कोई भी  व्यक्ति जब एक फैशन डिज़ाइनर बनता है तो उसकी कुछ जिम्मेदारियां होती हैं जिन्हें उसे पूरा करना होता है जैसे:-

  • मार्केट व फैशन इंडस्ट्री में चल रहे कपड़ों से प्रेरणा लेकर खुद के डिजाइन बनाना।
  • ग्राहक की मांग के अनुसार कपड़ों को तैयार करना।
  • कपड़ों को कंफर्टेबल बनाना, ताकि पहनने वाले व्यक्ति को किसी प्रकार की परेशानी ना हो।
  • कॉस्टयूम के डिजाइन के हिसाब से सही कपड़े का चुनाव करना।

Fashion Designer Kaise Bane- How to become Fashion Designer in Hindi

Fashion Designer बनना कोई मुश्किल काम नहीं है। अब आपको एक फैशन डिजाइनर बनने से जुड़ी एजुकेशन के बारे में संपूर्ण जानकारी दी जाएगी जिससे आप यह तय कर पाएंगे कि आपको एक फैशन डिजाइनर बनने के लिए कौन-सी और कहां से एजुकेशन लेनी चाहिए।

Fashion Designer Eligibility- फैशन डिज़ाइनर बनने के लिए योग्यता

  1. एक फैशन डिजाइनर बनने के लिए आपका 10वीं और 12वीं पास होना जरूरी है।
  2. 10वीं पास व्यक्ति फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा कर सकता है।
  3. 12वीं पास व्यक्ति फैशन डिजाइनिंग में बैचलर डिग्री प्राप्त कर सकता है।
  4. अगर आप मास्टर डिग्री प्राप्त करना चाहते हैं तो उसके लिए आपके पास बैचलर डिग्री का होना जरूरी है।
  5. किसी भी फील्ड का व्यक्ति फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कर सकता है।

Best Fashion Designing Course in Hindi

एक फैशन डिजाइनर बनने के लिए आप 3 तरह के कोर्स कर सकते हैं जिनमें डिप्लोमा, बैचलर डिग्री और मास्टर कोर्स आदि शामिल हैं। आईये अब इन तीनों प्रकार के कोर्स के बारे में जानते हैं-

10वीं के बाद के Diploma Course: –

  • Diploma In Fashion Designing
  • Diploma In Fashion Technician
  • Diploma In Fashion Stylist
  • Diploma In Vogue Fashion Certificate
  • Diploma In Fashion Stylist and Image Consultant
  • Diploma In Fashion and Textile Design

12वीं के बाद के Bachelor Course (Fashion designing courses after 12th)

  • Bachelor In Fashion Design
  • Bachelor In Textile Design
  • Bsc. Fashion Designing
  • Bachelor Of Fashion Technology
  • Bachelor Of Fashion Design and Technology
  • BA Honors in Fashion Design and Manufacturing
  • Bachelor In Design and Fashion Management
  • Bachelor In Fashion Design and Management
  • BA Honors (Fashion Journalism)
  • BA Honors in Fashion Design And Creative Direction

बैचलर डिग्री के बाद के Master Course: –

  • Master in Fashion Design
  • Master in Sustainable Fashion Design
  • Master of Fashion Management
  • Master’s Program in Fashion, Textile And Textile Design
  • Master in Fashion Collection Management
  • Master in Styling, Image and Fashion Communication
  • Master in Fashion Brand Management
  • Master in Fashion Technology
  • MA Fashion Design Technology
  • MA Fashion Photography

ये भी पढ़ें:

Fashion Designing Entrance Exam in Hindi

fashion-designer-kaise-bane-in-hindi-me
Photo by Los Muertos Crew

Fashion Designer बनने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम भी देना पड़ सकता है। बड़े-बड़े कॉलेज, एडमिशन देने से पहले एंट्रेंस एग्जाम लेते हैं लेकिन बहुत से कॉलेज ऐसे हैं जो बिना किसी एंट्रेंस एग्जाम के एडमिशन देते हैं। अब फैसला आपका है कि आपको एंट्रेंस एग्जाम देना है या बिना एंट्रेंस एग्जाम के Fashion Designing का कोर्स करना है। इंडिया में कई प्रकार के एंट्रेंस एग्जाम लिए जाते हैं जिनकी लिस्ट नीचे दी गई है-

  1. UCEED (Undergraduate Common Entrance Examination for Design)
  2. CEED (Common Entrance Examination for Design)
  3. NIFT Entrance Exam (National Institute of Fashion Technology)
  4. NID DAT  (National Institute of Design- Design Aptitude Test)

अभी हमने आपको जिन एंट्रेंस एग्जाम के बारे में बताया है यह इंडिया के नेशनल लेवल के फैशन डिजाइनिंग एग्जाम हैं। इन्हें क्लियर करने के बाद आप इंडिया के किसी भी कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं। इसके अलावा आप स्टेट लेवल के भी एंट्रेंस एग्जाम दे सकते हैं।

हर स्टेट में अलग-अलग प्रकार के एंट्रेंस एग्जाम होते हैं। लेकिन मैं आपको इन्हीं में से किसी एक एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करने की सलाह दूंगा, क्योंकि इन्हें क्लियर करने के बाद आप पूरे इंडिया के किसी भी कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं।

Best College for Fashion Designing Course in India in Hindi

इंडिया में हजारों कॉलेज हैं जिनके माध्यम से आप फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कर सकते हैं लेकिन कुछ कॉलेज, फैशन डिजाइनिंग के लिए काफी ज्यादा प्रसिद्ध हैं जिनकी लिस्ट आपको नीचे दी गई है। आप चाहें तो इनमे से किसी भी कॉलेज के माध्यम से Fashion Designing Course कर सकते हैं या फिर आप अपने एरिया के किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज से फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कर सकते हैं। आप जिस भी कॉलेज से फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करेंगे, उसमें आपको केवल एक चीज का ध्यान रखना है कि वह कॉलेज प्रेक्टिकल भी करवाता हो।

Best Fashion Designing Colleges in India

  1. National Institute of Fashion Technology, Delhi
  2. National Institute of Fashion Technology, Mumbai
  3. National Institute of Fashion Technology, Bangalore
  4. National Institute of Fashion Technology, Chennai
  5. National Institute of Fashion Technology, Patna
  6. National Institute of Fashion Technology, Gandhinagar
  7. National Institute of Fashion Technology, Hyderabad
  8. National Institute of Fashion Technology, Kolkata
  9. National Institute of Fashion Technology, Raebareli
  10. National Institute Of Fashion Technology, Shillong

Fashion Designer बनने के बाद जॉब कहाँ पर मिलेगी- Fashion Designer Jobs in India

फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कंप्लीट करने के बाद आप इनमें से किसी भी फील्ड में जॉब प्राप्त कर सकते हैं-

  • फैशन डिज़ाइनर
  • रिटेल बायर
  • रिटेल मैनेजर
  • फैशन स्टाइलिस्ट
  • ज्वेलरी एंड फुटवियर डिज़ाइनर
  • पर्सनल शॉपर
  • मेकअप आर्टिस्ट
  • फैशन मॉडल
  • फैशन फोटोग्राफर
  • फैशन जर्नलिस्ट
  • टेक्सटाइल डिज़ाइनर

Fashion Designer Salary in India in Hindi- सैलरी

फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कंप्लीट करने के बाद एक Fresher की सैलरी 15-20 हजार के करीब ही होती है लेकिन इस फील्ड में जैसे-जैसे आपका एक्सपीरियंस बढ़ता जाएगा, वैसे-वैसे आपकी सैलरी भी बढ़ती जाएगी। एक Professional Fashion Designer की सैलरी 1-2 लाख के करीब भी हो सकती है। अधिकतर फैशन डिजाइनर थोड़ा पॉपुलर होने के बाद जॉब छोड़कर खुद का काम करते हैं और लाखों रुपए कमाते हैं।

20 Famous Fashion Designers in India

  1. Sabyasachi Mukherjee
  2. Manish Malhotra
  3. Anita Dongre
  4. Bibhu Mohapatra
  5. Neeta Lulla
  6. Sanjay Garg
  7. Ritu Kumar
  8. Sandeep Khosla And Abu Jani
  9. Gaurang Shah
  10. Payal Singhal
  11. Anamika Khanna
  12. Nishika Lulla
  13. Tarun Tahiliani
  14. Ridhi Mehra
  15. Masaba Gupta
  16. Shantanu Nikhil
  17. Sumit Verma
  18. Anju Modi
  19. Pratyusha Garimella
  20. Ankur And Priyanka Modi

ये भी पढ़ें:

Famous and Skilled Fashion Designer Kaise Bane?

fashion-designer-kaise-bane-in-hindi-me-how-to-become-fashion-designer
Photo by Raden Prasetya on Unsplash

अब मैं आपको कुछ ऐसे पॉइंट बताने वाली हूँ जिन्हें फॉलो करने के बाद आप एक कुशल और प्रसिद्ध फैशन डिज़ाइनर बन सकते हैं-

1. अपनी स्किल पर ध्यान दें

एक कुशल Fashion Designer बनने के लिए आपको कई प्रकार की स्किल सीखनी होती है जिनमें कलर, ड्राइंग और टेक्सचर की परख जैसी स्किल्स शामिल हैं। इन सब के साथ ही आपको कपड़ों के बारे में बारीक से बारीक जानकारियां भी बटोरनी पड़ती हैं जिनमें डिफिकल्ट फैब्रिक की सिलाई करना, सही कपड़े की पहचान करना आदि शामिल होते हैं।

एक डिजाइनर के लिए उसकी स्किल सबसे ज्यादा अहम होती है, और किसी भी स्किल में महारथ तभी हासिल की जा सकती है जब उसकी लगातार प्रैक्टिस की जाए। ऐसा कहा भी जाता है कि Practice Makes a Man Perfect!

2. क्रिएटिव बनें

Fashion Designing की फील्ड में क्रिएटिविटी की काफी ज्यादा जरूरत होती है क्योंकि जब तक आप के दिमाग में नए-नए आइडियाज नहीं आएंगे तब तक आप कॉस्टयूम को कैसे डिजाइन करेंगे? इसलिए आपको अपनी इमैजिनेशन पर भी ध्यान देने की जरूरत है।

कुछ लोग जो इंट्रोवर्ट पर्सनैलिटी के होते हैं उनमें क्रिएटिविटी शुरू से ही होती है लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि एक्सट्रोवर्ट पर्सनैलिटी के लोग क्रिएटिव नहीं होते हैं। एक्सट्रोवर्ट पर्सनालिटी के लोगों को थोड़ी मेहनत करनी पड़ती है जिसके बाद वह एक क्रिएटिव माइंड सेट प्राप्त कर लेते हैं।

3. अपने कस्टमर्स को खुश करने की कोशिश करें

एक असली Fashion Designer वही व्यक्ति होता है जो अपने कस्टमर की उम्मीदों पर खरा उतरता है। कस्टमर को खुश करना काफी ज्यादा अहम है क्योंकि अगर कस्टमर खुश होता है तो वह आपके पास दोबारा फिर आएगा और अपने साथ दूसरे व्यक्ति को भी लेकर आएगा। जिसकी वजह से आप कम समय में ही पॉपुलर हो सकते हैं। लेकिन कस्टमर को खुश करने के लिए आपको थोड़ी ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी।

कस्टमर को खुश करने के केवल 3 तरीके हैं, सबसे पहले आपको कस्टमर से उसकी पसंद के बारे में पूछना है कि वह अपने कॉस्टयूम में किस तरह की डिजाइन चाहता है। उसके बाद आपको कस्टमर के लिए अपनी तरफ से भी कुछ डिज़ाइन कॉस्ट्यूम में ऐड करके देना चाहिए, जिससे उसे अच्छा फील हो। इसके अलावा आप कॉस्ट्यूम की डिलीवरी करते समय कस्टमर को थोड़ा डिस्काउंट भी दे सकते हैं। अगर आप यह तीनों काम करते हैं तो 90% चांस है कि कस्टमर आपके काम से खुश होकर ही जाएगा।

4. मार्केट पर नजर रखें

कपड़े की मार्केट काफी बड़ी है और यहां हर समय ट्रेंड बदलता रहता है जिसकी वजह से आपको मार्केट पर नजर रखने की जरूरत है। आपको पता होना चाहिए कि किस समय मार्केट में किस तरह के कपड़ों की डिमांड हो रही है, और आपको उसी ट्रेंड के हिसाब से अपने कपड़े को डिजाइन करना चाहिए।। इसके आपको दो फायदे हैं, पहला- आपको पता रहेगा कि मार्केट में क्या चल रहा है और क्या नहीं? दूसरा- ट्रेंड के हिसाब से चलने पर पॉपुलर होने की संभावना अधिक होती है।

5. Competitor से सीखें

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो हमेशा अपने कॉम्पटीटर से आगे निकलने की होड़ में लगे रहते हैं लेकिन वह कभी भी अपने कॉम्पटीटर की खूबियों पर ध्यान नहीं देते हैं। अगर आप सच में एक कुशल फैशन डिजाइनर बनना चाहते हैं तो आपको अपने कॉम्पटीटर की खूबियों को पहचान कर उन्हें अपनाने की कोशिश करनी चाहिए। इसके अलावा आप पॉपुलर फैशन डिजाइनर की ड्रेसेस को देखकर उनसे सीख सकते हैं जो भविष्य में आपको काफी काम आएगी।

6. अपने शौक के अनुसार डिज़ाइन बनायें

कहने का तात्पर्य सिर्फ इतना है कि आपको केवल अपनी पसंद के हिसाब से ही कपड़ों को डिजाइन करना चाहिए। अगर आपको लेडीज कपड़ों में इंटरेस्ट है तो आपको केवल लेडीज कपड़ों को ही डिजाइन करना चाहिए। बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो फैशन डिजाइनर बनने के बाद बच्चे, पुरुषों और महिलाओं, सभी के कपड़ों को डिजाइन करने लगते हैं। इससे आप किसी एक पर्टिकुलर फील्ड के लोगों के कपड़े डिजाइन करने में एक्सपर्ट नहीं हो पाते हैं और आप केवल एक नॉर्मल फैशन डिज़ाइनर बनकर ही रह जाते हैं। इसलिए हमेशा केवल एक पर्टिकुलर जेंडर के लोगों के कपड़ों को ही डिजाइन करें।

Fashion Designer Hindi- मेरी राय

फैशन डिजाइनर बनने में कोई बुराई नहीं है लेकिन आपको दृढ़ संकल्प के साथ Fashion Designing की फील्ड को चुनना होगा। अधिकांश लोग फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कंप्लीट करने के बाद जॉब ना मिल पाने के कारण इस फील्ड को बेकार बताते हैं लेकिन ऐसा नहीं है। क्योंकि जिस फील्ड में जितना ज्यादा स्कोप होता है उसमें उतना ही ज्यादा कंपटीशन भी होता है।

इस फील्ड में कामयाब होने के लिए आपको कुछ यूनिक करने की जरूरत है और साथ ही अगर आप कंपटीशन को झेलने का दम रखते हैं तो यह करियर ऑप्शन आपके लिए बेस्ट है। इन सब के साथ ही एक Fashion Designer बनने के बाद आपके सिर पर हमेशा टेंशन रहती है क्योंकि कई बार आपको काफी कम समय में ड्रेस को डिजाइन करना होता है।

निष्कर्ष

उम्मीद करती हूं कि आपको “Fashion Designer Kaise Bane – How to become Fashion Designer in Hindi” पर लिखा हमारा या लेख पसंद आया होगा। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे अपने मित्रों के साथ और सोशल मीडिया पर ज़रूर शेयर करें।  

हमने इस पोस्ट में आपके मन में उठने वाले सभी प्रकार के सवालों को शामिल करने की कोशिश की है। लेकिन फिर भी अगर आपके मन में फैशन डिजाइनर बनने से जुड़ा अन्य कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं, हम उसका जवाब अवश्य देंगे और साथ ही उस पॉइंट को अपने इस पोस्ट में शामिल करेंगे।

ये भी पढ़ें:

Sharing Is Caring:

Leave a Comment