Foreign Language मे कैरियर कैसे बनाए ? 6 Best Foreign Languages to learn in India for Jobs

इंडिया मे Foreign Language मे कैरियर बनाना बहुत फायदेमंद है। इसमें अच्छी सैलरी के साथ इस क्षेत्र में काम करने से विदेशी लोगों, उनके रहन सहन और उनके culture का पता चलता है।

कुछ विदेशी भाषाएं ऐसी भी हैं जिनकी अन्तराष्ट्रीय स्तर पर बहुत डिमाण्ड है। अगर आप इनमें से किसी भी एक अथवा एक से अधिक भाषाओं की शैक्षणिक योग्यता रखते हैं तो यकीन मानिए, इस क्षेत्र मे आपके लिए जॉब के अनगिनत अवसर हैं।

अंतर्राष्ट्रीय व्यापार की दृष्टि से भी foreign language me career बनाना अत्यंत लाभकारी है। अगर आपको विदेशी भाषाओं का ज्ञान है तो आप विदेशों मे भी व्यापारिक गतिविधियों से सम्बन्धित कोई भी काम कर सकते हैं।

i-love-you-in-foreign-language
Image by Dok Sev from Pixabay

इंडिया मे सीखने के लिए सबसे अच्छी foreign language | Best foreign language to learn in India for Jobs

जॉब की दृष्टि से अगर देखें तो इंडिया में प्रमुख रूप से चाईनीज़, फ्रेंच, जैपनीज़, रशिअन, जर्मन और स्पैनिश भाषाएं बहुत पॉपुलर हैं। इन सभी भाषाओं में कैरियर बनाने के सभी अवसर मजूद हैं।

उपरोक्त सभी भाषाओं में कुछ समानताएं और कुछ असमानताएं है। जैसे स्पैनिश, जर्मन और फ्रेंच भाषा, अंग्रेजी से मिलती जुलती होती है। इसलिए जिसको भी अंग्रेजी भाषा का अच्छा ज्ञान है, इन भाषाओं को आसानी से सीख सकता है।

वहीं दूसरी तरफ, चाईनीज़ और जैपनीज़ भाषा पूरी तरह से अलग हैं। ये भाषाएं सीखने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। दोस्तों, इसका ये मतलब नहीं है कि आप आसान भाषाओं को सीखने मे जान लगा दें और कठिन भाषाओं को ignore करें। याद रखें, International Market में इन भाषाओं की भी बहुत ज्यादा डिमाण्ड है।

यहाँ पर आपको ये सुझाव देना बिल्कुल भी सही नहीं होगा कि सीखने के लिए आप किसी अमुक (Particular) भाषा पर विशेष ध्यान दें। सभी Foreign Language मे कैरियर के भरपूर अवसर हैं। आप अपनी आवश्यकता, उद्देश्य और career opportunities को देख कर ही सुनिश्चित करें कि आपको कौन सी भाषा सीखनी है।

अगर हम विश्व में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली Foreign लैंग्वेज की बात करें तो Mandarin Chinese को पहले नंबर पर रखना होगा। इस भाषा में बोलने वाले लोगों की संख्या 1 बिलियन से भी ज्यादा है। चाइना की huge global economy से भी आप भली भांति परिचित होंगे। केवल इंडिया में ही अगर आप देखेंगे तो पाएंगे कि ऐसा कोई क्षेत्र नहीं है जिसमें चाइना नें अपना कोई प्रोडक्ट नहीं बनाया हो। चाइना की इसी presence की वजह से Mandarin Chinese भाषा सीखना बहुत profitable है।

दोस्तों अगर आप अमेरिका और स्पेन में जॉब करने का सपना देख रहे हैं, तो आपको Spanish Language ज़रूर सीखनी चाहिए। Mandarin Chinese के बाद सबसे ज्यादा बोली जाने वाली अगर कोई Foreign Language है तो वो Spanish है। इस भाषा को सीख कर आप स्पेन, यूनाईटेड स्टेट ऑफ अमेरिका और लैटिन अमेरिका जैसे देशों में भी जॉब कर सकते हैं।

Spanish और Mandarin Chinese के बाद तीसरी सबसे ज्यादा लोकप्रिय भाषा German है। यह भाषा अंग्रेजी से मिलती जुलती है और सीखने मे आसान है। इस भाषा को सीखने मे बहुत ज्यादा खर्च भी नहीं आता। यही कारण है कि इंडिया और अन्य एशियाई देश German लैंग्वेज सीखना चाहते हैं।

इंडिया मे उपलब्ध Foreign Language Course

फ़ारेन लैंग्वेज में कोर्स करने के लिए इंडिया में 2 तरह के प्रोग्राम उपलब्ध है, एक Full Time और दूसरा Part Time। फुल टाइम कोर्स को कॉलेज या इंस्टिट्यूट में प्रत्यक्ष रूप से रहकर कम्प्लीट किया जाता है। वहीं दूसरी और पार्ट टाइम कोर्स को पत्राचार अथवा ऑनलाइन कक्षाओं द्वारा कम्प्लीट किया जाता है। दोनों तरह के प्रोग्राम में कुछ फायदे तो कुछ नुकसान हैं, जैसे:

hello-in-foreign-language
Image by Mary Pahlke from Pixabay
  • Full Time Course करने के लिए आपको संस्थान में ही रहकर पढ़ाई करनी पड़ेगी और समय की कमी की वजह से आप अन्य काम नहीं कर पाएंगे।
  • Full Time Course मे फैकल्टी द्वारा आपके doubts वहीं पर तुरंत दूर कर दिए जाएंगे।
  • Full Time Course करने के लिए फ़ीस बहुत ज्यादा नहीं होती।
  • Part Time Course करके आप अपने समय को अच्छे से मैनेज कर सकते हैं। बचे हुए समय में अन्य काम भी किये जा सकते हैं।
  • Part Time Course में अगर आपको कुछ समझ में नहीं आ रहा या किसी प्रकार का कोई doubt आ रहा है तो वो आप तुरंत दूर नहीं कर सकते। इसके लिए आपको या तो इंटरनेट का सहारा लेना पड़ेगा या फिर अपने दोस्तों या फैकल्टी से कान्टैक्ट करना पड़ेगा।
  • Part Time Course करने के लिए अच्छी खासी फ़ीस देनी पड़ती है।

फ़ॉरेन लैंग्वेज कॉर्सेस इन इंडिया | Foreign Language Courses in India

Foreign Language me career बनाने के लिए इसके पाठ्यक्रम को हम 5 तरह के ग्रुप में बाँट सकते हैं। ये सभी कोर्स आपको Indian Universities मे मिल जाएंगे। आप अपनी जरूरत के अनुसार किसी भी प्रकार का कोर्स जॉइन कर सकते हैं।

  • सर्टिफिकेट कोर्स
  • डिप्लोमा कोर्स
  • अड्वान्स डिप्लोमा कोर्स
  • ग्रेजुएट कोर्स
  • पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स

इंडिया में फ़ॉरेन लैंग्वेज के कोर्स करने लिए बेस्ट इंस्टिट्यूट | Best institutes in India for Foreign Language

दोस्तों, इंडिया मे बहुत सी यूनिवर्सिटी हैं जो स्टूडेंट्स के लिए ऊपर बताए गए कोर्स ऑफर करती हैं। चूंकि ये universities पूरे देश भर में फैली हुई है इसलिए आपको ये सोचने मे ज्यादा व्यक्त नहीं लगेगा कि आप कहाँ से foreign language का कोर्स करे।

अब आप सोच रहे होंगे कि इतनी सारी Universities मे कौन सी आप के लिए उपयुक्त होगी? घबराईए मत, मैं आपकी चिंता यहीं दूर किये देता हूँ। संस्थान का चयन करना बहुत आसान है।

सबसे पहले आप ये डिसाइड कर लें कि आपको किस भाषा मे कोर्स करना है। उसके बाद इंटरनेट से चेक करें कि ये कोर्स किन किन universities मे उपलब्ध है। जो यूनिवर्सिटी आपके घर के पास हो और साथ में उसमे campus भी होता हो, तो आप उस यूनिवर्सिटी से फ़ॉरेन लैंग्वेज का कोर्स कर सकते हैं।

ध्यान रखें, घर यूनिवर्सिटी के पास में नहीं भी हो तो चलेगा, बस उसका कोर्स अच्छा होना चाहिए और अगर कैंपस होता है तब तो सोने पे सुहागा।

फ़ॉरेन लैंग्वेज के कोर्स करने लिए बेस्ट Universities:

  • जवाहर लाल यूनीवर्सिटी – दिल्ली
  • पंजाब यूनीवर्सिटी – पंजाब
  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनीवर्सिटी – उत्तर प्रदेश
  • मुम्बई यूनीवर्सिटी – महाराष्ट्र
  • पुणे यूनीवर्सिटी – महाराष्ट्र
  • कुरुक्षेत्र यूनीवर्सिटी – हरयाणा
  • इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनीवर्सिटी

उपरोक्त Universities में कुछ तो ओरीएन्टेशन प्रोग्राम के तहत अपने स्टूडेंट्स को foreign language के native country में भी भेजते हैं। जैसे JNU मे अगर कोई स्पैनिश लैंग्वेज का कोर्स कर रहा है तो उन्हे स्कालर्शिप पर कुछ महीनों के लिए स्पेन भी भेजा जाता है।

उपरोक्त universities के अलावा भी बहुत सारे ऐसे संस्थान है जो फ़ॉरेन लैंग्वेज में कोर्स ऑफर करते हैं। कुछ संस्थान तो ऐसे भी हैं जो किसी खास फ़ॉरेन लैंग्वेज के लिए पूरी तरह समर्पित (Dedicated) हैं। आप चाहें तो यहाँ से भी कोर्स कम्प्लीट कर सकते हैं।

आजकल तो फ़ॉरेन लैंग्वेज सिखाने के लिए इंटरनेट पर बहुत से ऑनलाइन कोर्स भी उपलब्ध है। ये कोर्स interactive भी हैं और सस्ते दामों पर available हैं। ऐसे कोर्स आप Udemy, Coursera और edX से खरीद सकते हैं।

अगर आपको इन संस्थानों के बारे मे अतिरिक्त जानकारी चाहिए तो कृपया कमेन्ट बॉक्स में लिख कर हमें जरूर बताएं। हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको सारी जानकारी provide करने की कोशिश करेंगे।

फ़ॉरेन लैंग्वेज मे जॉब स्कोप | Foreign Language me Job ke Scope

साथियों अगर आप Foreign Language me Career बनाने की सोच रहे हैं, तो आप सही जा रहे हैं। जहां एक ओर ये अन्य कैरियर से अलग है, वहीं दूसरी ओर इसमें बहुत ज्यादा प्रतिस्पर्धा भी नहीं है। यदि आप इन विदेशी भाषाओं मे अपना कैरियर बनाते है तो आपके लिए अनेकों सेक्टर में जॉब के बेहतरीन अवसर हैं।

कोर्स करने के बाद जॉब के अवसर:

  1. फ़ॉरेन लैंग्वेज मे Career Coach के रूप मे
  2. फ़ॉरेन लैंग्वेज की फैकल्टी के रूप मे
  3. इंटरनेशनल टुरिस्ट के गाइड के रूप मे
  4. ट्रांसलेटर के रूप मे
  5. दूतावास (Embassy) में
  6. एयर होस्टेस / फ्लाइट अटेन्डन्ट के रूप मे
  7. इंटरनेशनल होटल में
  8. लैंग्वेज इंटरप्रेटर के रूप मे
  9. विख्यात सरकारी और प्राईवेट संस्थानों मे
  10. मल्टीनेशनल कंपनियों मे
  11. लैंग्वेज स्पेशलिस्ट के रूप मे
  12. पब्लिक रिलेशन अधिकारी बनकर
  13. मीडिया और ऐड्वर्टाइज़िंग एजेंसीज मे
  14. जर्नलिज़्म के क्षेत्र मे
  15. विदेश सेवा और immigration विभाग मे

इसके अतिरिक्त आप फ़ॉरेन लैंग्वेज सीख कर इंटरनेट की दुनियाँ मे अपनी पहचान बना सकते हैं। यू-ट्यूब के फेमस विदेशी Videos में आप अपनी भाषा का इस्तेमाल करते हुए Voice Over Artist का भी काम कर सकते हैं। इसी क्षेत्र मे Freelancer बन सकते है, फ़ॉरेन लैंग्वेज के लिए content writer भी बन सकते हैं।

Foreign Language की जॉब मे सैलरी और पैकेज

ऊपर आपने देखा कि Foreign Language me Career बनाने के बाद बहुत सारे ऐसे क्षेत्र हैं जहाँ जॉब की प्रचुर संभावनाएं हैं। इसमें आप इंडिया और इंडिया के बाहर, अन्य देशों मे भी जॉब कर सकते हैं।

आपकी सैलरी और पैकेज इस बात पर सबसे ज्यादा निर्भर करती है कि आप किस तरह की फील्ड में काम कर रहे हैं, आपको कितना अनुभव है और आप किस देश की भाषा में काम कर रहे हैं। चूंकि फ़ॉरेन लैंग्वेज की जॉब थोड़ी हट कर है इसलिए लगभग सभी कंपनियां इस क्षेत्र मे काम करने वाले employees को अच्छा पैसा देती हैं।

goodbye-in-foreign-language
Image by Mary Pahlke from Pixabay

अगर आपके पास अच्छा अनुभव है और आप किसी प्रतिष्ठित कंपनी या मल्टीनेशनल कंपनी मे जॉब करते हैं तो आप रु. 30,000/- से 50,000/- प्रति माह तक कमा सकते हैं।

Interpreter के रूप मे अगर आपको काम मिलता है तो इसमे अच्छी कमाई है। इस काम के लिए आप अपने client से रु. 4,000/- से 5,000/- प्रति घंटा तक डिमाण्ड कर सकते हैं।

एक अनुवादक के रूप में ज्यादा पैसा तो नहीं मिलता मगर आप अपनी स्किल्स और निपुणता के आधार पर अच्छे पैसों की डिमाण्ड कर सकते हैं। सामान्यत: एक अनुवादक के रूप मे आप एक पेज अनुवाद करने का रु. 400/- से 500/- ले सकते हैं।

अभी आपके मन मे ये सवाल जरूर या रहा होगा कि इंडिया मे Highest Paid Foreign Language कौन सी है। तो दोस्तों, आपको बता दूँ कि Mandarin Chinese वो भाषा है जिसमे कैरियर बनाने पर आपको रु. 15 लाख प्रति वर्ष तक का पैकेज मिल जाता है।

तो दोस्तों, देर किस बात की है। जल्दी से किसी अच्छी Foreign Language me Career बनाइये और अपना भविष्य सुरक्षित कीजिए।

इस पोस्ट के बारे में अगर कोई सुझाव हैं तो हमें जरूर बताए।

ये भी पढ़ें: Interior Designer कैसे बने | योग्यता, कोर्स, कॉलेज, सैलरी, स्कोप और अवसर

Leave a Reply