PGDCA Course Details- कोर्स की पूरी जानकारी Hindi में

PGDCA Course, ग्रेजुएशन के बाद किया जाने वाला 1 वर्ष का पोस्ट ग्रेजुएट कंप्यूटर कोर्स है। इसका Full Form- Post Graduate Diploma in Computer Science होता है।

आज के वर्तमान समय में कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी का काफी ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है। लगभग हर क्षेत्र में कंप्यूटर उपयोग किया जाता है। अकसर देखा गया है कि कंप्यूटर की जानकारी हर किसी के पास नहीं होती है।

सभी कार्य क्षेत्रों में कंप्यूटर ऑपरेटर या संचालक की काफी ज्यादा डिमांड बढ़ रही है। इसका मतलब है कि इस क्षेत्र में अच्छे कैरियर की संभावना है। अगर आपने ग्रेजुएशन कर लिया है और एक अच्छे कैरियर विकल्प की तलाश में हैं, तो आपको बता दें कि वर्तमान समय में आपको कंप्यूटर की नॉलेज होना बहुत जरूरी होता है।

आज हम आपको PGDCA क्या है, इसके बारे में में जानकारी देने वाले हैं ताकि आप इसके बारे में जान पाएं और इस कोर्स को पूरा करके एक अच्छे कैरियर की शुरुवात कर सकें। इस लेख में आप PGDCA Course फ़ीस से लेकर इसके सिलेबस, ड्यूरेशन, कॉलेज, कैरियर स्कोप आदि के बारे में जानेंगे।

तो आइए आज के लेख- PGDCA Course Details in Hindi में जानते हैं और समझते हैं कि यह कोर्स आपके कैरियर के लिए कितना महत्वपूर्ण है।

PGDCA Kya Hai- What is PGDCA Course Details in Hindi

pgdca-kya-hai-pgdca-course-details-in-hindi
PGDCA Kya Hai: Image Created at Canva

यह कंप्यूटर के क्षेत्र का, एक पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा कोर्स है। इस कोर्स के माध्यम से स्टूडेंट कंप्यूटर चलाने यानी इसके Application और Operation आदि के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं। इस कोर्स को ग्रेजुएशन के बाद किया जा सकता है।

इस कोर्स को पूरा करने के बाद स्टूडेंट या कैंडिडेट कम्प्यूटर के क्षेत्र में आसानी से जॉब प्राप्त कर सकते हैं। वर्तमान समय में Computer Operator के रूप में जॉब लेने के लिए पीजीडीसीए कोर्स काफी अच्छा विकल्प माना जाता है।

अगर आप कंप्यूटर में रुचि रखते हैं तो एक अच्छे कैरियर के लिए, पीजीडीसीए कोर्स का चयन कर सकते हैं। इस कोर्स का चयन करने से पहले आपको इस कोर्स के लिए योग्यता, फीस इत्यादि के बारे में जानना जरूरी है। जिसकी जानकारी आगे लेख में दी गई है। सबसे पहले जानते हैं PGDCA Ka Full Form क्या है?

PGDCA Ka Full Form Kya Hai

  • PGDCA Full Form in English: पीजीडीसीए का फुल फॉर्म Post Graduation Diploma in Computer Application होता है।
  • PGDCA Full Form in Hindi: हिंदी में हम इसे कुछ इस प्रकार उच्चारण करते हैं “पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन”। पीजीडीसीए कोर्स को हिंदी में कंप्यूटर अनुप्रयोगों में स्नातकोत्तर डिप्लोमा भी कहा जाता है।

ये भी पढ़ें:

SAP Course क्या होता है?ईसीजी टेक्नीशियन कैसे बनें
After 12th होटल मैनेजमेंट कोर्स की जानकारीCMA Course की पूरी जानकारी हिंदी में
BCA कोर्स कैसे करें- सम्पूर्ण जानकारीBFA- बैचलर इन फाइन आर्ट्स कोर्स क्या है?

PGDCA Course Eligibility

पीजीडीसीए कोर्स में प्रवेश या दाखिला लेने के लिए जिन योग्यताओं या डिग्री की आवश्यकता होती है उनका विवरण नीचे दिया गया है:

  • कोर्स में प्रवेश के लिए सबसे पहले स्टूडेंट को किसी भी विषय पर ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करनी होगी।
  • ग्रेजुएशन में स्टूडेंट किसी भी विषय पर पास होना चाहिए।
  • कंप्यूटर विषय होना स्टूडेंट के लिए मददगार होता है।
  • ग्रेजुएशन में लगभग 50 प्रतिशत अंक प्राप्त करना जरूरी होता है।
  • कुछ कॉलेजों में 45 प्रतिशत अंक प्राप्त करने पर भी प्रवेश मिल जाता है।
  • एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट डायरेक्ट कॉलेज में जाकर फीस जमा करके एडमिशन ले सकता है।
  • कुछ कॉलेजों में ग्रेजुएशन में प्राप्त अंकों के अनुसार मेरिट लिस्ट जारी की जाती है। उस मेरिट लिस्ट में स्टूडेंट का नाम आने पर एडमिशन दिया जाता है।

ऊपर बताई गयी शर्तों एवं नियमों के अनुसार स्टूडेंट को पीजीडीसीए कोर्स के लिए योग्य माना जाता है और उन्हें दाखिला दिया जाता है।

PGDCA Course Duration

पीजीडीसीए कोर्स को पूरा करने के लिए 1 साल का समय लगता है। ग्रेजुएशन के बाद किये जाने वाले किसी भी कोर्स में से सबसे कम समय में पीजीडीसीए कोर्स को पूरा किया जाता है।

1 साल की अवधि वाले इस कोर्स में, पढ़ाए जाने वाले विषयों को 2 सेमेस्टर में बांटा गया है। इन विषयों को Semester Wise, छात्रों को पढ़ाया जाता है एवं इन्हें प्रशिक्षित किया जाता है। यह कोर्स स्टूडेंट को ग्रेजुएशन के आधार पर मिलने वाली जॉब या नौकरी में काफी मददगार साबित होता है।

PGDCA Course Fees

PGDCA Course Ki Fees, सरकारी कॉलेजों में लगभग ₹6,000 से लेकर ₹30,000 तक होती है। प्राइवेट कॉलेज में यह फीस बढ़कर ₹10,000 से लेकर ₹50,000 तक हो सकती है। कुछ निजी संस्थान इस कोर्स के लिए 1,00,000 रुपए तक की फीस लेते हैं।

पीजीडीसीए कोर्स, ग्रेजुएशन के बाद किया जाने वाला सबसे कम फीस वाला कोर्स कहा जा सकता है। इस कोर्स की फीस भिन्न भिन्न कॉलेजों में भिन्न भिन्न प्रकार की हो सकती है।

सरकारी कॉलेजों में और प्राइवेट कॉलेजों की फीस में काफी अंतर होता है। आपको बता दें कि प्राइवेट कॉलेज में सरकारी कॉलेजों के मुकाबले ज्यादा फीस देनी पड़ सकती है। आप अपनी सुविधा अनुसार किसी भी कॉलेज या कोर्स आयोजित करने वाले संस्थानों में जाकर कोर्स की फीस की सही जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

PGDCA Course Syllabus and Subjects

पीजीडीसीए कोर्स में सिर्फ कंप्यूटर से संबंधित सारी जानकारी दी जाती है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद स्टूडेंट या कैंडिडेट Computer Application के क्षेत्र में निपुण हो जाता है।

पीजीडीसीए के 1 साल के कोर्स के दौरान पढाये जाने वाले सिलेबस को 2 सेमेस्टर में विभाजित किया गया है, जिसका विस्तारपूर्वक विवरण नीचे बताया गया है।

पहला सेमेस्टर

  • Fundamentals of Information Technology
  • C Programming
  • Soft Skill
  • Data Structure and Algorithms
  • Principles and Practice of Management And Organization Behavior
  • Practical Projects

दूसरा सेमेस्ट

  • Visual Basics
  • Basic Java
  • Database Management System
  • Software Engineering and Business Process
  • Oracle
  • Web Designing
  • Practical Projects

पीजीडीसीए कोर्स के बाद कैरियर विकल्प

पीजीडीसीए कोर्स को पूरा करने के बाद स्टूडेंट या कैंडिडेट के पास कई सारे अच्छे कैरियर विकल्प उपलब्ध होते हैं। ग्रेजुएशन और पीजीडीसीए कोर्स करने के बाद स्टूडेंट आसानी से जॉब पा सकते हैं।

स्टूडेंट चाहे तो इसके बाद कंप्यूटर क्षेत्र से संबंधित और भी उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए आगे कोर्स कर सकते हैं। छात्र, पीजीडीसीए कोर्स के आधार पर भी अच्छी जॉब पा सकते हैं। इस डिग्री के बाद स्टूडेंट, सरकारी और प्राइवेट दोनों क्षेत्रों में जॉब पाने के योग्य बन जाते हैं।

Types of PGDCA Jobs

Image By Pexels

“पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन” के बाद मिलने वाली जॉब के क्षेत्र एवं पदों की जानकारी उदाहरणस्वरूप नीचे दी गयी है ताकि छात्रों को इस पदों के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके।

  • कंप्यूटर सिस्टम सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • आवेदन समर्थन लीड
  • कंप्यूटर सहायक या कंप्यूटर ऑपरेटर
  • अनुप्रयोग समर्थन विश्लेषक
  • वरिष्ठ आवेदन विश्लेषक
  • एप्लीकेशन विशेषज्ञ
  • कंप्यूटर ऑपरेटर
  • नेटवर्क सिस्टम और डाटा संचार विश्लेषक
  • कंप्यूटर एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • कंप्यूटर सिस्टम विश्लेषक
  • आवेदन पैकेजिंग प्रशासक
  • मोबाइल एप्लीकेशन डेवलपर
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • कंप्यूटर प्रोग्रामर
  • कंप्यूटर शिक्षक
  • डेटाबेस व्यवस्थापक

इनके अलावा और भी कई सारे जॉब के पद एवं विकल्प होते हैं जिनमें स्टूडेंट आसानी से अपने कैरियर की शुरुवात कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:

एलएलबी क्या होता है?GNM Nursing Course कैसे करें?
बीएससी नर्सिंग कोर्स कैसे करेंDMLT Full Form, DMLT Course Fees in India
Dentist Kaise Bane | How to become a Dentist in India in Hindiनेत्र सहायक- Ophthalmic Technician Kaise Bane | How to become Ophthalmic Technician in Hindi

PGDCA Course Salary

पीजीडीसीए कोर्स के बाद मिलने वाली नौकरी की सैलरी जॉब के क्षेत्र, पद एवं अनुभव के अनुसार निर्धारित की जाती है। विभिन्न क्षेत्र एवं पदों में सैलरी भी भिन्न भिन्न होती है।

भारत में पीजीडीसीए कोर्स के बाद मिलने वाली जॉब में शुरुवात से लगभग ₹15,000 से लेकर ₹30,000 तक प्रति माह वेतन मिल सकता है। इसमें अनुभव के साथ वेतन में भी वृद्धि होती है।

अच्छा एक्सपीरियंस प्राप्त करने के बाद कैंडिडेट को लगभग ₹20,000 से लेकर ₹50,000 तक प्रति माह वेतन मिल सकता है।

PGDCA Course Ke Fayde

पीजीडीसीए कोर्स के कई सारे फायदे हैं, जिसकी जानकारी नीचे दी गई है:

  • ग्रेजुएशन के बाद पीजीडीसीए कोर्स करने से आपकी डिग्री की वैल्यू बढ़ जाती है।
  • किसी भी ग्रेजुएशन स्तर की नौकरी में पीजीडीसीए कोर्स डिग्री धारक को ज्यादा महत्व दिया जाता है।
  • इस कोर्स के बाद सरकारी और प्राइवेट दोनों क्षेत्रों में नौकरी की जा सकती है।
  • पीजीडीसीए कोर्स के बाद स्टूडेंट, कंप्यूटर से संबंधित अच्छी जानकारी प्राप्त कर पाते हैं।
  • स्टूडेंट या कैंडिडेट निजी कंप्यूटर शिक्षा केंद्र भी काम कर सकते हैं।

इनके अलावा इस कोर्स के कई सारे फायदे एवं लाभ होते हैं जिनकी मदद से स्टूडेंट या कैंडिडेट अच्छी इनकम अर्जित कर सकते हैं।

PGDCA Course Online Kaise Kare

आपको बता दें कि “पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन” कोर्स को आप ऑनलाइन भी पूरा कर सकते हैं। इस विधि में स्टूडेंट को खुद से समय समय पर क्लास करनी होगी। अंत में ऑनलाइन एग्जाम देने के बाद डिग्री भी हासिल कर सकते हैं।

कुछ कॉलेजों या यूनिवर्सिटी में पीजीडीसीए कोर्स को ऑनलाइन भी कराया जाता है। इनमें से ऑनलाइन कोर्स करवाने वाले प्रमुख कॉलेजों के नाम नीचे दिए गए हैं:

  • सुरेश ज्ञान विहार यूनिवर्सिटी
  • ओसमानिया यूनिवर्सिटी
  • जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी
  • अलगप्पा यूनिवर्सिटी
  • इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी
  • अन्नामलाई यूनिवर्सिटी

ऊपर उदाहरणस्वरूप कुछ ही नाम दिए गए हैं। इनके अलावा भारत में और भी कई सारे कॉलेज मौजूद हैं जहां से ऑनलाइन कोर्स किया जा सकता है।

Frequently Asked Questions (FAQs)

पीजीडीसीए कोर्स का फुल फॉर्म क्या है?

पीजीडीसीए कोर्स का फुल फॉर्म Post Graduation Diploma in Computer Application होता है।

पीजीडीसीए कोर्स की फीस कितनी होती है?

पीजीडीसीए कोर्स की फीस भारत में औसत अनुसार लगभग ₹6,000 से लेकर ₹1,00,000 तक हो सकती है।

पीजीडीसीए कौन सी क्लास के बाद होता है?

पीजीडीसीए कोर्स को ग्रेजुएशन के बाद ही किया जाता है। इसमें कंप्यूटर से संबंधित जानकारी दी जाती है।

पीजीडीसीए कोर्स की अवधि कितनी होती है?

पीजीडीसीए कोर्स, ग्रेजुएशन के बाद किये जाने वाला सबसे कम अवधि का कोर्स कहा जा सकता है। इस कोर्स को 1 साल के समय में ही पूरा कर दिया जाता है।

निष्कर्ष

दोस्तों, आज का या लेख PGDCA Course Details in Hindi पर आधारित था। इस लेख में हमने हर संभव जानकारी देने का प्रयास किया है।

हमें उम्मीद है कि लेख में PGDCA Course से सम्बंधित दी गयी जानकारी आपके काम आयेगी और आप कंप्यूटर के क्षेत्र में एक बेहतर कैरियर बना पाएंगे।  

Sharing Is Caring:

Leave a Comment