Gud Making Business- गुड़ बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें | Jaggery Making Business Plan in Hindi

Gud Making Business in Hindi- Gud Banane Ka Business Kaise Shuru Kare- Jaggery Business Plan in Hindi: हमारे देश में गुड़ को काफी पसंद किया जाता है और इसकी खपत भी काफी ज्यादा है। इस वजह से हर कोई व्यक्ति इस बिज़नेस के बारे में जानना चाहता है कि गुड़ का बिज़नेस कैसे शुरू करें? कच्चा माल कहाँ से खरीदें और गुड़ को कहाँ पर बेचा जाए आदि।

आपके मन मे भी गुड़ के बिज़नेस से जुड़े कई सारे सवाल आ रहे होंगे, जिन्हें हम आज के इस पोस्ट में क्लियर करने वाले हैं। अगर आप गुड़ का व्यापार (Jaggery Business Hindi) शुरू करना चाहते हैं तो आपको इस पोस्ट को तल्लीनता से पूरा पढ़ना चाहिए, ताकि आप भी गुड़ का बिज़नेस (Gud Ka Business) शुरू कर सकें।

Contents hide

गुड़ का व्यापार कैसे शुरू करें- Gud Ka Business Kaise Shuru Kare- Gud Banane Ka Business Kaise Shuru Kare?

gud-making-business-in-hindi-gud-banane-ka-business-kaise-shuru-kare
Image Created at Canva

Jaggery Business Plan in Hindi- How to start Jaggery Business in Hindi

देखिए, गुड़ का व्यापार शुरू करने के लिए आपको कुछ चीज़ों का विशेष ध्यान रखना होता है और इन चीज़ों की आपको अच्छी जानकारी भी होनी चाहिए। ताकि आप अपने बिज़नेस को सही से Grow भी कर सकें। अब हम उन्ही पॉइंट्स के बारे में बात करने वाले हैं जिनका आपको विशेष ध्यान रखना है।

गुड़ के व्यापार का मार्केट स्कोप कितना है- Jaggery Business Plan in Hindi (Gud Ka Business)

अगर आप गुड़ का व्यापार (Gud Ka Vyapar) शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं तो आपको सबसे पहले इसके मार्केट में बारे में पता कर लेना चाहिए जिससे आपको एक अंदाजा लग जाए कि इसकी डिमांड कितनी है। वैसे गुड़ का मार्केट स्कोप काफी ज्यादा है क्योंकि इसका इस्तेमाल अधिकतर सभी चीज़ों में होता है।

अगर हम अपने देश की बात करें तो गुड़ यहाँ के हर एक प्रांत में काफी ज्यादा पॉपुलर है। गुड़ की डिमांड का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि मार्केट में चीनी से बना गुड़ भी बेचा जाता है। ऐसा गुड़ तभी बनाया जाता हैं जब गन्ने की कमी हो जाती है, लेकिन गुड़ की डिमांड पूरी बनी रहती है उसी डिमांड को पूरा करने के लिए चीनी से बना गुड़ मार्केट में उतारा जाता है।

गुड़ के प्रकार- Gud Kitne Prakar Ka Hota Hai (Types of Jaggery)

Gud Making Business: मार्केट में आपको कई प्रकार का गुड़ मिल जाएगा। सभी प्रकार के गुड़ में अलग-अलग पोषक तत्व पाए जाते हैं जिसकी वजह से उनकी डिमांड भी काफी ज्यादा है। हर एरिया में किसी एक किस्म के गुड़ की ज्यादा डिमांड होती है। आपको अपने एरिया में पॉपुलर गुड़ के बारे में पता होना चाहिए और उसी का उत्पादन करना चाहिए।

  • जैविक गुड़
  • चीनी का गुड़
  • गन्ने का गुड़
  • काला गुड़
  • ताड़ का गुड़
  • खजूर का गुड़

गुड़ के व्यापार के लिए कच्चा माल- Raw Material for Gud Making Business (Jaggery Business Hindi)

गुड़ बनाने के लिए आपको केवल दो तरह के कच्चे माल की आवश्यकता होती है- गन्ना और सुखलाई का पौधा। इनका इस्तेमाल करके आप अच्छी क्वालिटी का गुड़ बना सकते हैं।

गन्ना कहाँ से मिलेगा:- यदि आपके पास खेत है तो आप खुद गन्ने की खेती करवा कर गन्ना प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन अगर आपके पास जमीन नहीं है तो आपको किसानों से संपर्क करना पड़ेगा और उनसे गन्ना खरीदना होगा। किसानों से गन्ना खरीदने में आपको थोड़ी परेशानी हो सकती है क्योंकि गुड़ के बिजनेस में आपको ज्यादा मात्रा में गन्ने की जरूरत होती है जिसकी वजह से किसान आपकी पूर्ति नहीं कर पाएंगे, ऐसी स्थिति में आप को गन्ने की मंडी से गन्ने को खरीदना पड़ेगा।

गन्ने का प्राइस क्या हैं:- गन्ने का प्राइस कभी भी सीमित नहीं होता है। हर इलाके में अलग-अलग रेट पर गन्ना बेचा जाता है। आमतौर पर गन्ने का रेट 2 से 5 रुपए प्रति किलो के बीच होता है लेकिन कुछ जगहों पर गन्ने को टन के हिसाब से बेचा जाता है, जिसकी वजह से वहां पर रेट में आपको थोड़ा फर्क देखने को मिल सकता है।

सुखलाई का पौधा:- यह गुड़ बनाने के लिए सबसे जरूरी सामग्री है क्योंकि जब हम गन्ने के रस को पकने के लिए छोड़ देते हैं तो उसमें हम सुखलाई के पौधे की जड़ या तने को डालते हैं इससे गन्ने के रस में मौजूद सभी प्रकार की गन्दगी, झाग के रूप में ऊपर आ जाती है जिसे बाद में अलग कर लिया जाता है। सुखलाई का पौधा आपको बाजार में बड़ी आसानी से उपलब्ध हो जाएगा।

गुड़ के व्यापार के लिए मशीन- Gud Making Machine in India

गुड़ का बिजनेस (Gud Ka Business) शुरू करने के लिए आपको केवल एक ही मशीन की आवश्यकता होती है जिसका काम गन्ने के रस को निकालना होता है। अगर आप बड़े पैमाने पर गुड़ का बिजनेस शुरू कर रहे हैं तब आपको ज्यादा मशीनों की आवश्यकता पड़ सकती है, लेकिन शुरुआत में आपके लिए एक मशीन बहुत है। इसके साथ ही आपको 2 से 3 बड़ी-बड़ी कढ़ाई की भी जरूरत पड़ती है जिसमें गन्ने के रस को पकाया जाता है।

Sugarcane Crusher: – https://indiamart.com

मशीन की कीमत (Gud Making Machine Cost in India):- गन्ने का रस निकालने वाली मशीन की कीमत फिक्स नहीं है क्योंकि यह मशीन आपको छोटे से लेकर बड़े, सभी साइज में उपलब्ध हैं। आप जितनी बड़ी मशीन लेंगे, आप की लागत उतनी ही ज्यादा आएगी। आमतौर पर गन्ने का रस निकालने वाली मशीन की कीमत 50 हजार से लेकर 2 लाख के बीच होती है।

गुड़ का व्यापार शुरू करने के लिए जमीन- Land Requirement for Gud Making Business in Hindi

गुड़ का व्यापार हमेशा गांव के एरिया में ही किया जाता है। इन जगहों पर गन्ना बड़ी आसानी से मिल जाता है और जमीन भी काफी सस्ती होती है जिसकी वजह से आप कम पैसों में बड़ी जगह पर अपना व्यापार शुरू कर सकते हैं। मैंने अपनी लाइफ में आज तक जितने भी गुड़ के कलेसर देखे हैं वह सब ऐसी जगह पर है जहां आसपास गन्ने की खेती होती हैं।

गुड़ के बिज़नेस में कमाई काफी अच्छी होती है। कुछ सालों के अंदर ही लोग अपने खेत खरीद लेते हैं और खुद ही गन्ने की खेती करवाते हैं इससे उन्हें और भी ज्यादा प्रॉफिट होता है। इस तरह से लोग अपने व्यापार (Gud Making Business) को बढ़ा पाते हैं।

गुड़ के बिज़नेस के लिए इन्वेस्टमेंट- Gud Making Business Cost in Hindi

अगर आपके पास जमीन अपनी है और आप छोटे लेवल पर बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं तो आपकी लागत 15 लाख के करीब आ जाएगी। लेकिन अगर आप बड़े लेवल पर बिज़नेस शुरू करते हैं तो आपकी लागत 30 से 50 लाख के करीब आ सकती है।

ये भी पढ़ें:

गुड़ बनाने की विधि (Gud Banane Ki Vidhi- Gud Kaise Banate Hain)

Gud Making Business (Jaggery Making Business Plan in Hindi)

  1. सबसे पहले गन्ने को क्रशर मशीन में डालकर उसका रस निकाला जाता है। उसके बाद उस रस को बड़ी-बड़ी कढ़ाई में पकाया जाता है और साथ में उसमें सुखलाई के पौधे के तने या जड़ को डाला जाता है।
  2. ऐसा करने से गन्ने के रस में मौजूद सभी प्रकार की गन्दगी, झाग के रूप में ऊपर आ जाती है जिसे साथ के साथ अलग कर लिया जाता है।
  3. झाग को उतारने के बाद भी गन्ने के रस को तब तक पकाया जाता है जब तक वह पककर गाढ़ा नहीं हो जाता।
  4. गाढ़ा हो जाने के बाद और सामान्य तापमान पर पहुँचने के बाद इसे साँचो में डालकर शेप दे दिया जाता है।
  5. अगर आपके पास सांचे नहीं हैं तो आप हाथों से उनके गोले भी बना सकते हैं।

गुड़ का व्यापार शुरू करने के लिए लाइसेंस- Gud Making Business License in Hindi

gud-making-business-plan-in-hindi
Photo by Sora Shimazaki

अगर आपने छोटे पैमाने पर गुड़ का व्यापार शुरु किया है और आप बिना किसी ब्रांड नेम के अपना बिजनेस चला रहे हैं तो आपको लाइसेंस लेने की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी।

लेकिन अगर आप मार्केट में अपनी एक अलग पहचान बनाना चाहते हैं और अपने नाम से गुड़ का व्यापार करना चाहते हैं तो आपको एक लाइसेंस लेना पड़ेगा, जिसके लिए आपको FSSAI में रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ेगा। इसके साथ आपको Trade Mark License व GST Number की भी जरूरत पड़ेगी।

गुड़ का व्यापार शुरू करने के लिए स्टाफ- Gud Making Business Hindi

गुड़ के व्यापार (Gud Making Business) को शुरू करने के लिए हमें कुछ कर्मचारियों की भी जरूरत पड़ती है। इस बिज़नेस के लिए, 5 से लेकर 10 कर्मचारी होने आवश्यक हैं जिनमें से 2-3 लोग गुड़ बनाने की कला में निपुण होने चाहिए। इससे आपको गुड़ के व्यापार में किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होगी।

इतने ज्यादा व्यक्तियों की जरूरत हमें इसलिए पड़ती है क्योंकि हमें Sugarcane Crusher से लेकर उसकी पैकिंग तक के लिए व्यक्ति चाहिए होते हैं और यह काम ऐसा नहीं हैं कि एक व्यक्ति सभी काम कर लेगा। हर काम के लिए आपको अलग से व्यक्ति रखना होगा, खास तौर पर Sugarcane Crusher की मशीन और कढ़ाई पर।

गुड़ की पैकिंग (Packing for Gud Making Business Hindi)

हमने बाजार में अधिकतर गुड़ को खुला ही बिकता हुआ देखा है लेकिन अगर आप एक ब्रांड के रूप में गुड़ बेचना चाहते हैं तो आपको उसकी अच्छी पैकिंग करनी होगी। गुड़ की पैकिंग 250-500 ग्राम की होनी चाहिए क्योंकि इस ग्राम के पैकेट मार्केट में बड़ी आसानी से बिक जाते हैं। अगर आपका ब्रांड पंजीकृत है तो आप पैकिंग पर अपने ब्रांड का स्टीकर भी लगा सकते हैं जिससे फ्री में आपके ब्रांड की मार्केटिंग भी हो जाएगी।

गुड़ के व्यापार में मुनाफा- Gud Making Business Profit in Hindi

गुड़ के व्यापार में आपकी कमाई कई फैक्टर्स पर निर्भर करती है। अगर आप खुद के खेत में उगे गन्ने से गुड़ बनाते हैं तो आप की कमाई ज्यादा होती है, लेकिन अगर आप गन्ने को खरीद कर उससे गुड़ बनाते हैं तो आप की कमाई कम होगी। वैसे आमतौर पर गुड़ के बिजनेस में आपको 40 से 60% तक का प्रॉफिट हो जाता है जो काफी अच्छा है।

FAQs (Frequently Asked Questions)

चलिए, अब कुछ उनको सवालों के बारे में जानते हैं जो आपके मन में उठ रहे होंगे।

गुड़ बनाकर कहाँ पर बेचें?

बिजनेस को शुरू करना काफी आसान होता है लेकिन बिजनेस में तैयार किए गए माल को बेचना सबसे अहम कड़ी होती है। अगर आप अपना माल बेचने में असफल हो जाते हैं या फिर सही से नहीं बेच पाते हैं तो आपका बिजनेस बिल्कुल भी नहीं चल पाएगा। इसलिए किसी भी प्रकार के बिजनेस को शुरू करने से पहले आपको इस बात का पता लगा लेना चाहिए कि जब आप माल तैयार करेंगे, तो उसे कहां पर बेचना है।
गुड़ का व्यापार शुरू करने से पहले आपको यह तय करना होता है कि आप गुड़ को तैयार करके कहां पर बेचेंगे। आमतौर पर गुड़ को बड़े-बड़े होलसेलर, करियाने की दुकानों और होलसेलरों को बेचा जाता है, लेकिन कुछ गुड़ के व्यापारी ऐसे होते हैं जो अपने माल को शहर से बाहर बेचते हैं।
गुड़ की सबसे ज्यादा खपत राजस्थान में होती है इसलिए जो भी व्यक्ति गुड़ का व्यापार शुरू करता है वह राजस्थान में अपना गुड़ बेचने की कोशिश करता है। वह वहां की मार्केट पकड़ता है ताकि उसका माल ज्यादा से ज्यादा बिक सके और उसका बिज़नेस दिन-दुगनी रात-चौगुनी तरक्की करे।

क्या गन्ने के व्यापार के लिए लाइसेंस जरूरी है?

जी नहीं, गन्ने के व्यापार के लिए लाइसेंस बिल्कुल भी जरूरी नहीं है, लेकिन बिना लाइसेंस के आप बाजार में खुला गुड़ ही बेच सकते हैं। खुला गुड़ भी बेचने के लिए आपके पास जीएसटी नंबर का होना जरूरी है। अगर आप पैकिंग वाला गुड़ बेचना चाहते हैं तो उसके  लिए आपको लाइसेंस लेना ही होगा।

गुड़ की क्वालिटी को कैसे बढ़ाएं?

गुड़ की क्वालिटी को बढ़ाने के लिए हमेशा ध्यान रखें कि उसमें किसी भी प्रकार के रसायनिक तत्वों का इस्तेमाल ना करें। उसे पूरी तरह से Naturaly बनने दें।
कुछ लोग गुड़ को अच्छा दिखाने के लिए उसमें रंग का इस्तेमाल करते हैं और कई बार गुड़ की मिठास बढ़ाने के लिए उसमें चीनी तक का इस्तेमाल किया जाता है, आपको ऐसा नहीं करना है। क्योंकि क्वालिटी वाले गुड़ में और मिलावटी गुड़ में बहुत फ़र्क होता है। मिलावटी गुड़ बनाने की वजह से आपकी मार्केट खराब होती है।

कम Investment में गुड़ का व्यापार कैसे करें?

आप अपने घर से भी गुड़ का व्यापार (Gud Making Business) शुरू कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक छोटी शुगरकैन क्रशर मशीन लेनी होगी, जो करीब 10 हजार रुपए में मिल जाएगी। इसके साथ आपको एक कढ़ाई की भी जरूरत पड़ेगी। इन दोनों का इस्तेमाल करके आप घर पर ही गुड़ बना सकते हैं।
लेकिन इस तरीके का इस्तेमाल करके आप ज्यादा मात्रा में गुड़ का उत्पादन नहीं कर सकते। यह आपके बिजनेस को चलाने के लिए बेहतर उपाय है लेकिन उसे Grow करने के लिए आपको उसमें ज्यादा इन्वेस्टमेंट करनी ही पड़ेगी।

Gud Making Business Hindi- मेरी राय

गुड़ का व्यापार (Gud Making Business) शुरू करना आपके लिए एक फायदे का सौदा साबित हो सकता है। लेकिन इस बिजनेस को शुरू करते समय आपको एक चीज का खास ख्याल रखना है कि गुड़ का ज्यादा उत्पादन आप केवल सर्दियों में ही कर सकते हैं क्योंकि गन्ना सर्दियों में सबसे ज्यादा आता है।

गर्मियों में आप गुड़ का उत्पादन नहीं कर पाएंगे, क्योंकि ज्यादा गर्मी होने की वजह से गुड़ पिघल जाएगा। इस बिजनेस को शुरू करने से पहले आपको एक बार अच्छे से मार्केट रिसर्च कर लेनी चाहिए, ताकि आपको यह अंदाजा लग जाए कि इस बिजनेस को शुरू करना मेरे लिए मुनाफे का सौदा साबित हो सकता है या नहीं।

अगर आप सच में गुड़ का व्यापार (Gud Making Business Hindi) शुरू करना चाहते हैं तो आपको कुछ महीने गुड़ के कलेसर में नौकरी जरूर करनी चाहिए, इससे आपको गुड़ के बिज़नेस से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी प्राप्त हो जाएगी जो गुड़ का व्यापार शुरू करने में आपके बहुत काम आएगी।

निष्कर्ष

उम्मीद है कि आपको “गुड़ बनाने का व्यापार कैसे करें- Gud Making Business Plan, Gud Making Business in Hindi, Jaggery Making Business Plan” पर लिखा मेरा यह पोस्ट पसन्द आया होगा। अगर पोस्ट अच्छा लगा हो, तो इसे Social Media पर अवश्य शेयर करें। Gud Making Business Hindi से सम्बंधित अन्य सवालों के लिए आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते हैं।

ये भी पढ़ें:

Sharing Is Caring:
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x