सब डिवीज़नल ऑफिसर (SDO) कैसे बनें | How to become a SDO Officer ?

दोस्तों, SDO शब्द सभी नें अपने दैनिक जीवन में कभी न कभी ज़रूर सुना होगा, मगर SDO Officer kaise bane शायद ये सभी को जानकारी नहीं होगी। आज के इस पोस्ट में हम आपको SDO से जुड़ी सारी जानकारी देंगे जैसे What is the meaning of SDO, How to become SDO Officer in hindi? Work of SDO और Salary of SDO Officer। तो इस पोस्ट में आप हमारे साथ बने रहिये और एस डी ओ ऑफिसर के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कीजिये।

man-is-giving-thanks-to-a-sdo-officer
Photo by Sora Shimazaki from Pexels

जानिये SDO Full Form in Hindi

दोस्तों, जब कभी भी आप किसी सरकारी विभाग में जाते होंगे तो तो वहाँ SDO का कमरा जरूर देखा होगा। दरवाजे के बाहर name plate में SDO लिखा हुआ देखकर आपके मन मे जरूर आता होगा कि SDO Full Form Kya hota hai?

आपको बता दें कि SDO Officer को अंग्रेजी में Sub Divisional Officer कहते हैं। हिन्दी राज्यों मे इसे उप विभागीय अधिकारी भी कहा जाता है। नाम से ही स्पष्ट है कि किसी भी विभाग का जो सबसे बड़ा अधिकारी होता है, उसके नीचे काम करने वाले important अधिकारी को उप – अधिकारी कहते हैं।

SDO Officer क्या होता है और क्या काम करता है ?

SDO Post एक सरकारी पद है जिसे राज्य सरकार द्वारा भरा जाता है। इसलिए एस डी ओ ऑफिसर, राज्य सरकारों के प्रमुख विभागों का Officer होता है। SDO की नियुक्ति किसी भी तरह के Department में हो सकती है। जैसे

  • उसे PWD का Officer बनाया जा सकता है।
  • Irrigation Department (सिंचाई विभाग) का अधिकारी बनाया जा सकता है।
  • Electricity Department (बिजली विभाग) मे काम करना पड़ सकता है।
  • Telephone Department (टेलीफोन विभाग जैसे BSNL) में नियुक्ति हो सकती है।

इसके अलावा भी बहुत सारे ऐसे विभाग हैं जहां एस डी ओ को नियुक्त किया जाता है।

राज्य को सुचारु रूप से चलाने के लिए उसे कई जिलों मे बांटा जाता है। इन जिलों को फिर से कई छोटे छोटे ब्लॉक या ईकाईयों में बाँट दिया जाता है। एक SDO Officer इन्ही ब्लॉक का अधिकारी होता है। इसलिए अगर आप एस डी ओ बनने की सोच रहे हैं तो जान लीजिये कि आपकी पोस्टिंग राज्य के किसी भी जिले में हो सकती है।

Incharge of Sub-Division यानी कि SDO को उसके डिवीज़न से जुड़े development work की देखरेख और निगरानी करनी होती है। इन कार्यों की रिपोर्ट समय समय पर उसे District Collector को जमा करनी पड़ती है।

जो भी व्यक्ति उपरोक्त विभागों में Executive Engineer, Assistant Executive Engineer या Assistant Engineer हैं, उन्हे विभागीय नियमों को ध्यान में रखते हुए Sub Divisional Officer बना दिया जाता है।

SDO Officer कैसे बनें | How to become a SDO Officer

a-sdo-officer-wearing-in-black-is-sitting-in-the-office-chair
Photo by RODNAE Productions from Pexels

SDO Officer Kaise Bane:

SDO Officer बनने के लिए आपको Sate Public Service Commission की परीक्षा पास करनी होगी। इसके लिए आपको ग्रेजुएशन होना चाहिए और आपकी उम्र २१ – ३० साल के बीच होनी चाहिए। आरक्षित वर्ग के लिए अधिकतम उम्र की सीमा में छूट प्राप्त है।

अगर आप ये शर्तें पूरी करते हैं तो आप SDO बनने के लिए योग्य हैं।

SDO Officer बनने के लिए आयोजित Exam Pattern

दोस्तों, एक बात जरूर ध्यान में रखें कि आप जिस विभाग में SDO बनना चाहते हैं आपका ग्रेजुएशन भी उसे हिसाब से होना चाहिए। जैसे अगर आप SDO Officer in Electrical Department मे अपना करिअर बनाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको Electrical Engineering विषय से ग्रेजुएशन करना होगा।

SDO Officer की Position के लिए राज्य सरकारें, State Public Service Commission द्वारा Entrance Exam आयोजित कराती हैं। इस परीक्षा मे पास होने के बाद ही आप एस डी ओ बन सकते हैं।

ये परीक्षा तीन चरणों में आयोजित की जाती है और प्रत्येक चरण पास करने के बाद ही आप अगले चरण की परीक्षा दे सकते हैं। SDO Officer बनने के लिए आपको परीक्षा के तीनों चरण पास करने होते हैं।

  • Preliminary Exam (प्रारम्भिक परीक्षा)
  • Mains Exam (मुख्य परीक्षा)
  • Interview (साक्षात्कार)

प्रारम्भिक परीक्षा Objective Type की होती है और इसमें General Knowledge, Reasoning, Aptitude आदि के सवाल पूछे जाते हैं। परीक्षा पूरे 200 नंबर की होती है और इसमें एक तिहाई (1/3rd) Negative Marking का भी प्रावधान रहता है।

प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Exam) में Multiple Choice Questions पूछे जाते हैं इसलिए स्टूडेंट्स को बहुत अच्छे से पढ़ाई करके इस परीक्षा को देना चाहिए। जो सवाल आपको आते हों केवल वही करें, अन्यथा गलती करने की वजह से आप प्ररम्भिक परीक्षा पास करने से वंचित रह जाएंगे।

मुख्य परीक्षा (Mains Exam) में 1 Optional Subject और 4 general Studies के प्रश्न पत्र होते हैं। आप इन Subjects and Syllabus के बारे में State Public Service Commission का विज्ञापन पढ़ सकते हैं और जिसमें comfortable हों, उस वैकल्पिक विषय को चुन कर परीक्षा दे सकते हैं। ध्यान रखें मुख्य परीक्षा लिखित रूप में देनी होती है, इसलिए आपको प्रश्नों के लंबे और अच्छे जवाब लिखना आना चाहिए।

Interview यानी कि साक्षात्कार इस परीक्षा का अंतिम चरण होता है। आप जैसे ही Mains Exam पास करते हैं, आपके पास Interview देने के लिए Call Letter आ जाता है।

चूंकि साक्षात्कार इस परीक्षा का अंतिम चरण है और आप मेहनत करके इस लेवल पर पहुंचे हैं इसलिए आपको Interview की तैयारी बहुत ही अच्छे तरीके से करनी चाहिए ताकि आप ये लेवल भी सफलतापूर्वक पार कर सकें।

साक्षात्कार में आपके ग्रेजुएशन के विषय और अन्य सामाजिक और ज्वलंत विषयों पर सवाल पूछे जाते हैं। इसके अलावा Interview Panel आपकी व्यक्तिगत Hobbies, Interest आदि के बारे मे भी जानना चाहता है। इसलिए Interview को बिल्कुल भी हल्के में न लें और अच्छे तरीके से Prepare करें। Interview Clear करने के बाद आप SDO Officer बन जाएंगे।

Salary of SDO (Sub Divisional Officer)

salary-of-a-sdo-officer

जैसा कि आपने जाना, राज्य सरकार परीक्षा ले कर अपने अपने राज्यों में SDO की नियुक्ति करती है। इसलिए अगर हम Salary of SDO की बात करें तो वह राज्यों के अनुसार अलग अलग हो सकती है।

वर्तमान वेतनमान के अनुसार और महंगाई भत्तों के साथ अन्य सुविधाओं को मिलाकर SDO की शुरुआती सैलरी करीब करीब 51,300/- रुपये प्रति माह बन जाती है। अनुभव होने के बाद और प्रोन्नति पाने के बाद सैलरी बढ़ती जाती है।

निष्कर्ष

ये एक सरकारी नौकरी है जिसमें Powerful Post और अच्छी सैलरी के साथ सम्माननीय जिंदगी बिताई जा सकती हैं। SDO बनना बहुत लोगों का सपना होता है। आप चाहें तो मेहनत करके इस सपने को हकीकत में बदल सकते हैं।

दोस्तों मुझे उम्मीद है आपको ये पोस्ट SDO Officer Kaise Bane पसंद आया होगा। अब आप जान गए होंगे कि SDO Full Form क्या होता है या Meaning of SDO क्या है। मैंने SDO Officer से संबंधित जानकारी को संक्षेप में आपको बताने का प्रयास किया है जिससे आपको कम समय में SDO Post के बारे में ज़्यादा से ज़्यादा पता चल सके। अगर आपको इस पद अथवा SDO Exam से जुड़ी विस्तृत जानकारी चाहिए तो कृपया comment box में लिख कर हमें जरूर बताएं।

ये भी पढ़ें:

Foreign Language मे कैरियर कैसे बनाए ? 6 Best Foreign Languages to learn in India for Jobs

Leave a Reply