BSc Forestry Course Details- कोर्स की पूरी जानकारी Hindi में

जो छात्र-छात्राएं वनों में घूमना पसंद करते हैं और पेड़ पौधों में काफी ज्यादा रुचि रखते हैं उनके लिए BSc Forestry एक बेहतर कैरियर विकल्प है। 12 वीं कक्षा के बाद किये जाने वाले इस कोर्स के माध्यम से एक अच्छा कैरियर बनाया जा सकता है।

अन्य स्नातक कोर्स की तरह बीएससी फॉरेस्ट्री का भी कोर्स होता है, मगर इस कोर्स को करने का फायदा यह है कि आप आजीवन पर्यावरण से जुड़े रह सकते हैं। Forest System पर आधारित इस कोर्स में सैलरी भी अच्छी मिलती है। इस कोर्स को करने के लिए छात्रों को ज्यादा कम्पटीशन भी फेस नहीं करना पड़ता है।  

आज के इस लेख में हम BSc Forestry Course के बारे में विस्तार से चर्चा करने वाले हैं। इसमें हम बताएँगे कि बीएससी फॉरेस्ट्री क्या होता है, BSc Forestry Full Form Kya Hai, इसको करने के लिए न्यूनतम योग्यता क्या होनी चाहिए, कौन कौन इस कोर्स को कर सकता है?

इस लेख में, कोर्स के क्या फायदे हैं, कोर्स करने के बाद किस तरह की जॉब मिलेगी, सैलरी कितनी होगी, आदि सभी मुख्य विषयों पर जानकारी दी गयी है। आइये विस्तार में जानते हैं BSc Forestry Course Details in Hindi को।   

bsc-forestry-course-details-in-hindi-bsc-forestry-full-form
Image Created at Canva

BSc Forestry Full Form – BSc Forestry Course Details in Hindi

  • BSC Forestry Full Form- Bachelor of Science in Forestry होता है।
  • इसे हम पढ़ते समय कुछ इस प्रकार से उच्चारण करते हैं “बैचलर ऑफ साइंस इन फॉरेस्ट्री”।
  • हिंदी में इस कोर्स का मतलब वानिकी में स्नातक करना होता है।

आपको बता दें कि फॉरेस्ट्री को हिंदी में वानिकी कहा जाता है। यानि अगर कोई स्टूडेंट फॉरेस्ट्री में ग्रेजुएशन कर रहा है तो उसे हम वानिकी में स्नातक करना भी कह सकते हैं।

BSc Forestry Full Form के बारे में जानने के बाद आइये इस कोर्स को विस्तारपूर्वक जानते हैं।

ये भी पढ़ें:

BSC Nursing Course Details in Hindi- Full Information
GNM Course Details in Hindi- GNM Full Form, प्रवेश प्रक्रिया, योग्यता, करियर और वेतन
DMLT Course Details in Hindi- DMLT Full Form, DMLT Course Fees in India

BSc Forestry Course Kya Hota Hai

यह एक तरह का स्नातक कोर्स है। जैसे 12 वीं कक्षा के बाद स्टूडेंट भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान, इतिहास या अन्य किसी भी विषय में स्नातक कोर्स करता है। वैसे ही फॉरेस्ट्री विषय पर भी स्नातक किया जाता है।

इस कोर्स में वनस्पति और पेड़ पौधों से संबंधित जानकारी दी जाती है। जिसमें जंगलों के प्रबंधन (Forest Management), पेड़ पौधों की देखभाल, वनों को विकसित करना, संरक्षण, नई तकनीक से वनों में वृद्धि करना, पेड़ पौधों को होने वाले रोग, पेड़ से होने वाले लाभ के बारे में जागरूक करना, आदि विषयों का अध्ययन कराया जाता है।

वर्तमान समय में इस कोर्स के बाद कई सारे कैरियर विकल्प उपलब्ध हैं। Forestry Course में अलग-अलग विषयों पर विशेषज्ञता भी प्राप्त की जा सकती है। इसके बारे में आगे जानकारी दी गई है।

Type of Forestry Course- फॉरेस्ट्री कोर्स कितनी तरह के होते हैं

फॉरेस्ट्री के क्षेत्र में कई सारे कोर्स होते हैं। आज के लेख में हम बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स के बारे में पढ़ रहे हैं। इस क्षेत्र से संबंधित अन्य कोर्स भी होते हैं जिनकी डिटेल्स नीचे दी गयी है।

  • बीएससी इन फॉरेस्ट्री
  • बीएससी इन वाइल्ड लाइफ
  • एमएससी इन फॉरेस्ट्री
  • एमएससी इन वाइल्डलाइफ
  • एमएससी इन वुड साइंस एंड टेक्नोलॉजी
  • पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन फॉरेस्ट मैनेजमेंट
  • पीएचडी इन फॉरेस्ट्री, इत्यादि।

BSc Forestry Course Eligibility- योग्यता

जैसा कि आपने जाना, बीएससी फॉरेस्ट्री एक स्नातक स्तर का कोर्स होता है। इसमें प्रवेश लेने के लिए स्टूडेंट के पास कुछ ख़ास योग्यताओं का होना अनिवार्य होता है। कोर्स के लिए योग्यताओं का विवरण इस प्रकार है:

  • स्टूडेंट को 12 वीं कक्षा पास करनी होगी।
  • 12वीं कक्षा में विज्ञान के विषयों का होना अनिवार्य है।
  • विज्ञान के विषयों में भौतिक विज्ञान, रसायनिक विज्ञान और जीव विज्ञान होना जरूरी है।
  • 12वीं कक्षा में कम से कम 50% अंक प्राप्त करना जरूरी होता है।
  • कुछ संस्थानों में 45% अंक प्राप्त करने पर भी कोर्स के योग्य माना जाता है।
  • कोर्स में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट को प्रवेश परीक्षा से गुजरना पड़ता है।

जो भी छात्र बताई गयी अर्हताए (योग्यताएं) रखता है उसे इस कोर्स में प्रवेश करने का अवसर मिल जाता है। बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स में एडमिशन कैसे लें इसकी जानकारी आगे लेख में दी गयी है।

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स में एडमिशन कैसे लें

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स में एडमिशन मुख्यत: दो – तीन प्रकार से लिया जा सकता है। कुछ कॉलेजों एवं संस्थानों में कोर्स के लिए फॉर्म भरना पड़ता है और डायरेक्ट ही एडमिशन मिल जाता है। इसमें 12 वीं कक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर शॉर्टलिस्ट करके छात्रों का चयन किया जाता है।

जबकि कुछ कॉलेजों में एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से एडमिशन लिया जाता है। इसके लिए छात्रों को एंट्रेंस एग्जाम हेतु आवेदन देना पड़ता है। एंट्रेंस एग्जाम (प्रवेश परीक्षा) में पास होने के बाद कॉलेज द्वारा मेरिट लिस्ट जारी की जाती है। उस मेरिट लिस्ट के आधार पर छात्रों को एडमिशन दिया जाता है।

BSC Forestry Entrance Exam

  • JCECE
  • OUAT
  • CUET
  • ICAR AIEEA, etc.

BSc Forestry Course Fees in Hindi

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स की फीस अलग-अलग कॉलेजों में अलग-अलग प्रकार की होती है। कुछ कॉलेजों में स्टूडेंट को कोर्स के अलावा प्रदान की जाने वाली अन्य सुविधाओं को  भी कोर्स की फीस में जोड़ लिया जाता है।

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स की फीस औसत अनुसार लगभग ₹80,000 से लेकर ₹2,00,000 तक हो सकती है। सरकारी कॉलेजों में प्राइवेट कॉलेज के मुकाबले कम फीस होती है। आपको बता दें कि कुछ प्राइवेट संस्थानों में इस कोर्स की फीस लगभग 2.5 लाख रुपए तक भी हो सकती है।

BSc Forestry Course Duration

यह एक स्नातक डिग्री कोर्स है। इसे 12 वीं कक्षा के बाद किया जाता है। इस कोर्स को पूरा करने में लगभग 4 साल का समय लगता है। इन चार सालों के दौरान कोर्स को 8 सेमेस्टर में विभाजित करके पढ़ाया जाता है।

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स की अवधि जानने के बाद अब हम इस कोर्स के सिलेबस की जानकारी प्राप्त करने वाले हैं।

ये भी पढ़ें:

BFA Full Form in Hindi | BFA Course Details in Hindi | BFA Kya Hai?
BCA Course Details in Hindi- Full Form, Duration, Fees in India- हिंदी में
CMA Course Details in Hindi- CMA Full Form in Hindi

BSc Forestry Course Syllabus and Subject Details

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स के 4 सालों की अवधि में 8 सेमेस्टर होते हैं। हर एक साल में 2 सेमेस्टर पूरे किए जाते हैं। कोर्स के दौरान पढ़ाये जाने वाले हर साल के विषयों का विवरण नीचे दिया गया है।

पहला वर्ष

  • Moral and Value Education
  • Biodiversity
  • Silviculture Principle and Pictures
  • Professional Communication
  • Cytology and Genetics
  • General Biochemistry
  • Forest Ecology and Conservation
  • Technical Writing
  • Introduction to Tree Science

दूसरा वर्ष

  • Forest Mensuration
  • Introduction to Geology
  • Community Development
  • Introduction to Forest Foil Science
  • Treed Seed Technology
  • Fundamentals of Extension Education
  • Environmental Studies
  • Principal of Forest Economics
  • Agrometeorology

तीसरा वर्ष

  • Forest Management
  • Pest Management
  • Working Plan
  • Silvicultural Systems
  • Forest Entomology
  • Wood Anatomy
  • Livestock Management
  • Nutrient Management
  • General and Forest Microbiology

चौथा वर्ष

  • Environmental Studies
  • Forest Utilization
  • Wildlife Management
  • Logging and Ergonomics
  • Commercial Forestry
  • Nursery Management
  • Wood Seasoning and Preservation
  • Seedling Production
  • Forest Soil Survey and Land Use

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स के लिए प्रमुख कॉलेज

पूरे भारत में कई सारे ऐसे कॉलेज हैं जिनमें बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स किया जा सकता है। उन कॉलेजों में से कुछ प्रमुख कॉलेजों के नाम नीचे दिए गए हैं।

  • जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, जबलपुर
  • फॉरेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी देहरादून
  • कॉलेज आफ फॉरेस्ट्री त्रिशूर, केरल
  • बिरसा एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी रांची, झारखंड
  • वाइल्डलाइफ इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, देहरादून
  • कॉलेज आफ हॉर्टिकल्चर एंड फॉरेस्ट्री, हिमाचल प्रदेश
  • इंडियन इंस्टीट्यूट आफ फॉरेस्ट मैनेजमेंट, भोपाल
  • ओडिशा यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी

ये नाम उदाहरण स्वरूप दिए गए हैं। इनके अलावा और भी कई सारे कॉलेज एवं इंस्टीट्यूट हैं जिनमें स्टूडेंट अपनी सुविधानुसार एडमिशन ले सकते हैं।

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स के बाद कैरियर विकल्प

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स के बाद स्टूडेंट के पास कई सारे कैरियर विकल्प उपलब्ध होते हैं। इस कोर्स के बाद स्टूडेंट उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु एमएससी फॉरेस्ट्री कोर्स भी कर सकते हैं। यह बैचलर डिग्री के बाद किआ जाने वाला मास्टर डिग्री कोर्स होता है। इसके अलावा और भी कई सारे कोर्स होते हैं जिनमें उच्च स्तर की पढ़ाई की जा सकती है।

स्टूडेंट आगे की पढ़ाई ना करके जॉब भी कर सकते हैं। बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स के बाद स्टूडेंट को सरकारी एवं प्राइवेट दोनों क्षेत्रों में जॉब के अवसर प्रदान किए जाते हैं। कुछ एनजीओ भी इसमें शामिल हैं।

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स के बाद मिलने वाली जॉब की जानकारी आगे लेख में दी गई है।

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स के बाद जॉब के विकल्प

इस कोर्स के बाद छात्रों को कई क्षेत्रों में जॉब के अवसर मिल जाते हैं। बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स के बाद मिलने वाले जॉब के पदों का विवरण नीचे दिया गया है:

  • रिसर्चर
  • टीचर
  • फॉरेस्ट रेंजर
  • फॉरेस्टर
  • जु क्यूरेटर
  • एंटोंमोलॉजिस्ट
  • इथनोलॉजिस्ट
  • वाइल्डलाइफ जर्नलिस्ट
  • नर्सरी मैनेजर
  • फार्मिंग मैनेजर
  • असिस्टेंट मैनेजर

इनके अलावा और भी कई सारे विकल्प होते हैं जिनमें अच्छा कैरियर बनाया जा सकता है।

BSc Forestry Course Salary

बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स की डिग्री हासिल करने के बाद अलग-अलग क्षेत्रों के हिसाब से अलग-अलग सैलरी मिलती है। फ्रेशर कैंडिडेट को कम सैलरी से शुरुआत करनी पड़ती है। जबकि कुछ समय के अनुभव के बाद कैंडिडेट की सैलरी में वृद्धि होती है।

भारत में औसतन बीएससी फॉरेस्ट्री कोर्स के डिग्री धारक को मिलने वाली जॉब में लगभग ₹3,00,000 से लेकर ₹5,00,000 तक प्रतिवर्ष का पैकेज मिल सकता है।

इस कोर्स में लगभग 2 से 3 साल का अनुभव प्राप्त करने के बाद उस कैंडिडेट को लगभग 10 लाख रुपए तक प्रति वर्ष का पैकेज भी मिल सकता है।

ये भी पढ़ें:

BPT Full Form- BPT Course Details in Hindi, Eligibility, College, Duration, Fees
BJMC Full Form- BJMC Course Details in Hindi, BJMC Colleges, BJMC Fees
Hotel Management Course Details in Hindi- After 12th होटल मैनेजमेंट कोर्स की जानकारी

निष्कर्ष

दोस्तों, 12 वीं कक्षा पास करने के बाद वनस्पति विज्ञान, वन और जंगल आदि में रुचि रखने वाले छात्र, BSc Forestry Course का चयन कर सकते हैं और एक अच्छे भविष्य की तरफ कदम बढ़ा सकते हैं।  

हमने आशा है कि BSC Forestry Course Details in Hindi पर लिखा गया हमारा यह लेख आपको पसंद आया होगा और आप इस कोर्स से लाभान्वित हुए होंगे। इस कोर्स के बारे में यदि आप और कुछ जानना चाहते हैं तो हमें कमेंट करके बता सकते हैं।

Sharing Is Caring:

2 thoughts on “BSc Forestry Course Details- कोर्स की पूरी जानकारी Hindi में”

    • कुशवाहा जी, सभी संस्थान इस कोर्स को हिंदी भाषा में नहीं कराते, इसलिए आपको पहले निश्चित करना होगा कि आप किस संस्थान में प्रवेश लेना चाहते हैं। बाद में आप उस संस्थान में कांटेक्ट करके अपने इस सवाल का समाधान पा सकते हैं।

      Reply

Leave a Comment