Orange Farming in India | Orange Farming Business Plan in Hindi!

Rate this post

Orange Farming in India: क्या आप भी किसी बेहतर Faming Business Plan की खोज में हैं? यदि हां तो आपके लिए Orange Farming Business Plan एक कामयाब बिजनस प्लान साबित हो सकता है। क्योंकि आज के समय में संतरे की मांग काफी ज्यादा बढ़ गई है और इसका सबसे बड़ा कारण है इसमें भरपूर मात्रा में पाए जाने वाले विटामिन्स।

orange-farming-in-india-in-hindi
Photo by Văn Long Bùi from Pexels

जी हां जैसा कि हम सभी ये बखूबी जानते हैं कि Orange में C, A, B और फास्फोरस जैसे विटामिन पाए जाते हैं जो हमारी हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद होते हैं और यदि वजह है कि आज के समय में लोग Orange को खाने के लिए तो खरीदते ही हैं बल्कि इसके Juice को भी निकालकर काफी चाव से पीते हैं।

ऐसे में आप अंदाजा लगा ही सकते है कि Orange Farming Business कितना लाभकारी बिजनेस साबित हो सकता है। तो क्या आप भी संतरे के बिजनेस की शुरुआत करने के लिए तैयार है, यदि हां तो उससे पहले आपको Orange Farming Business Plan से संबंधित हर महत्वपूर्ण जानकारी हासिल करना आवश्यक है।

अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर हम Orange Farming Busines in India की शुरुआत करने से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी कहां से जुटाएं, तो आपको परेशान होने की ज़रुरत नहीं है, हमारे कहने का तात्पर्य यह है कि आज के पोस्ट में आपको Orange Farming यानी की संतरे कि खेती से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी मिलने वाली है। इसलिए कहीं मत जाइए और हमारे इस संतरे की खेती के पोस्ट में अंत तक बने रहिये।

किन किन देशों में संतरे की खेती की जाती है?

क्या आप जानते है कि संतरे की खेती किन किन देशों में की जाती है? यदि आप नहीं जानते तो कोई बात नहीं अब हम आपको इस लेख में इसकी जानकारी साझा करने वाले हैं। जो कि इस प्रकार है

  • स्पेन
  • ब्राजील
  • भारत
  • तुर्की
  • USA
  • मेक्सिको
  • इटली
  • चीन
  • मिस्त्र
  • दक्षिण अफ्रीका

ये भी पढ़ें:

Orange Farming in India in Hindi

Orange Farming Busines in India: अगर हम अपने देश भारत की बात रें, तो भारत में मुख्य रूप से आंध्र प्रदेश, उड़ीसा, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल उत्तरांचल, पंजाब, असम, तमिलनाडु के साथ और भी कई राज्यों में Orange Farming की जाती है।

आखिर संतरे के हेल्थ से जुड़े क्या क्या फायदे है- Health Benefits of Orange

देखा जाए तो संतरे की खेती करने से पहले आपको संतरे के हेल्थ संबंधित फायदे क्या क्या है इसके बारे में भी पता होना जरूरी होता है। तो, क्या आप संतरे के हेल्थ से संबंधित सभी लाभों के बारे में जानते हैं, यदि नहीं तो अब हम आपको Health Benefits of Orange के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे। जो कि इस प्रकार है

  • त्वचा के लिए फायदेमंद साबित होता है संतरा।
  • कब्ज जैसी समस्या से निजात दिलाने में संतरे के फायदे।
  • हम सभी के दिल के लिए भी संतरा काफी फायदेमंद साबित होता है।
  • कैंसर जैसे गंभीर रोग से बचाव करने में मिलते हैं संतरे के फायदे।
  • अगर आपका कोलेस्ट्रॉल बढ़ गया है, तो उसके लिए आपको संतरा का सेवन करना चाहिए।
  • पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद है संतरा।
  • आखों के लिए संतरा लाभकारी सिद्ध हो सकता है।

संतरे की खेती के लिए हमें कैसी मिट्टी की जरूरत होती है?

क्या आप भी संतरे की खेती करना चाहते हैं, यदि हां तो उसके लिए आपको सबसे पहले किस तरह की मिट्टी की जरूरत पड़ती है इसके बारे में थोड़ा बहुत जान लेना भी जरूरी होता है।

तो आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि आप चाहें तो कई अलग अलग तरह की मिट्टी जैसे लाल रेत मिट्टी, जलोढ़, रेतीली दोमट मिट्टी से लेकर आप काली मिट्टी इत्यादि जैसी मिट्टी में काफी आसानी से संतरे की खेती करने के बारे में सोच सकते हैं।

अगर हम सरल शब्दों में समझे तो अगर आप संतरे की खेती करना चाहते हैं (Orange Farming in India), तो उसके लिए जल निकासी और गहरी, हल्की दोमट मिट्टी को सबसे अच्छा माना जाता है। इसके साथ ही जानकारी के मुताबिक, मिट्टी का PH 6.0 और 7.5 हो तो संतरे की खेती काफी अच्छे से की जा सकती है।

Orange Farming Weather- कैसी जलवायु की जरूरत होती है

देखा जाए तो संतरे की खेती के लिए जलवायु पर भी ध्यान देना जरूरी होता है। हमारे कहने का तात्पर्य यह है कि अगर कोई Orange Farming करना चाहता है तो उन्हें कैसी जलवायु की जरूरत होती है उसके बारे में भी जानकारी होना जरूरी होता है।

जानकारी के मुताबिक, संतरे को उपोष्णकटिबंधीय और उष्णकटिबंधीय जलवायु दोनों सिचुएशन में लगभग 1,500 मीटर तक उगाने के बारे में सोचा जा सकता है। इसके अलावा कहा जाता है कि संतरे की अच्छी खासी खेती के लिए वृद्धि अवधि के दौरान बेहतर तापमान बनाए रखना भी काफी महत्वपूर्ण होता है।

ये भी पढ़ें:

संतरे की खेती करने हेतु कैसे करें खेत को तैयार ?

orange-farming-in-india-orange-farming-business-plan-in-hindi
Image by chenhengyu from Pixabay

अब आपको Orange Farming Business Plan के लिए खेत को तैयार कैसे करें इसके बारे में जानकारी होना जरूरी है। इसलिए अगर आप भी खेत को तैयार कैसे करें के बारे में संपूर्ण जानकारी हासिल करना चाहते हैं, तो हमारे इस पोस्ट पर अपनी नजर बनाए रखें।

सरल शब्दों में समझा जाए तो अगर आप भी संतरे की खेती (Orange Farming in India) करने के लिए खेत को तैयार करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको नीचे दिए गए सभी Steps को Follow करने की जरूरत होगी। जो कि इस प्रकार है

  • खेत को तैयार करने के लिए आपको सर्वप्रथम अपने खेत में Cultivator के जरिए दो से तीन बार बेहतर तरीके से जुताई करने की जरूरत होती है।
  • जब आप अपने खेत की दो से तीन बार जुताई कर लें तब आपको खेत में पाटा लगाकर उसे समतल बनाने की आवशयकता होती है।
  • जब आप अपने खेत को समतल बना लें तब आपको अपने खेत में 15 से 18 फिट की दूरी तय करके पंक्तियों में गढ्ढा निर्माण करने की जरूरत होगी।
  • जब आप गढ्ढा को तैयार करें, तो ध्यान रहें उस समय आपके गड्ढे का आकार कम से कम एक मीटर चौड़ा और लगभग एक मीटर नीचे यानी गहरा होना जरूरी होता है।
  • जब आप हमारे बताएं गए गड्ढों को तैयार कर लेंगे तब आपको इसमें उचित मात्रा में पुरानी गोबर से बनी खाद को मिट्टी में मिला कर भरने के बाद उसमें अच्छा खासा पानी यानी सिंचाई करने की जरूरत होगी।
  • जब आप अच्छे से इसकी सिंचाई कर लेंगे तब आपको इसे पुवाल के जरिए ढकने की जरूरत होती है।

Orange Farming in India- किस महीने में करनी चाहिए?

अगर आप भी संतरे की खेती करना चाहते है, तो उसके लिए आपको यह भी पता होना चाहिए कि आखिर संतरे की खेती किस महीने में करना सही होगा। तो क्या आपको पता है कि किस महीने में संतरे की खेती करना सही होगा, अगर आप नहीं जानते हैं तो कोई बात नहीं आपके जानकारी के लिए बता दूं कि आप संतरे की खेती जुलाई से अगस्त महीने के बाद करेंगे तो आपको इसके अच्छे परिणाम देखने को मिल सकते हैं।

ये भी पढ़ें:

Orange Farming के लिए कैसे करें पौधे को तैयार?

वैसे देखा जाए तो आप किसी Nursery में तैयार किए गए पौधे को खरीदकर भी उसे अपने खेत में लगाने के बारे में सोच सकते हैं। लेकिन अगर आप इसमें अपना पैसा खर्च नहीं करना चाहते हैं, तो कोई बात नहीं हम आपको बताएँगे कि किस तरह से आप खुद ही संतरे के पौधे को तैयार कर सकते हैं। इसके बारे में जानकारी इस प्रकार है:

अगर आप भी अपने से ही संतरे के पौधे को तैयार करना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको नीचे दिए गए सभी Steps को ध्यानपूर्वक फॉलो करने की जरूरत होगी जो कि इस प्रकार हैं:

  • Orange Plants को तैयार करने के लिए आपको सर्वप्रथम Orange Seeds को राख में मिला कर उसे अच्छे से सुखाने की जरूरत होती है।
  • जब आपका बीज अच्छी तरह से धूप में सूख जाए तो उसके बाद आपको इसे नर्सरी में मिट्टी भरकर रेडी किए गए प्लास्टिक बैग में लगाने की जरूरत होगी।
  • लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है कि आपको हर एक प्लास्टिक बैग में केवल दो से तीन बीज ही लगाने की आवश्यकता होती है।
  • जिसके बाद आप 15 से 20 दिनों में इसको अंकुरित होते हुए देख पाएंगे।
  • इस प्रकार आप पौधे को अपने आप अच्छे तरीके से तैयार कर सकेंगे।

संतरे की खेती में फल तोड़ने की प्रक्रिया क्या होनी चाहिए

खेती के आधार पर देखा जाए तो संतरे के फल की तुड़ाई की प्रक्रिया 4 से 5 सालों के बाद की जाती है। जानकारी के मुताबिक अगर आप भी संतरे की तुड़ाई की प्रक्रिया को शुरू करना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको जनवरी से मार्च महीने का ही चुनाव करना सही होगा। इसके साथ ही आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि आप अपने एक एकड़ भूमि पर कम से कम 100 से भी ज्यादा संतरे के पौधे को लगाने के बारे में सोच सकते हैं।

संतरे की खेती कर महीने की कमाई कितनी होगी- Orange Farming Profit in India in Hindi

हर बिजनेस को करने से पहले उससे होने वाली लाभ के बारे में पता होना भी काफी महत्वपूर्ण होता है। इसलिए अगर हम Orange Farming Business Plan in Hindi से होने वाली कमाई की चर्चा करें, तो आप चाहे तो इससे दो लाख रुपए तक की कमाई काफी सरलता से कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:

निष्कर्ष

दोस्तों, उम्मीद है कि आपको हमारा ये पोस्ट Orange Farming in India, Orange Farming Business Plan in Hindi पसंद आया होगा। आज के लेख में हमने आपको संतरे की खेती कैसे करें से संबंधित हर आवश्यक जानकारी दी है। साथ ही अगर आपको Orange Farming Business Plan से संबंधित कोई भी सवाल पूछना हो तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Sharing Is Caring:

Leave a Comment