Biotechnology Kya Hai- 6 Best Biotechnology Colleges in India!

Biotechnology Kya Hai: दोस्तों! आज हम आपको इंजीनियरिंग की एक अलग शाखा के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जो करियर के लिहाज से एक अच्छा विकल्प साबित हो रहा है। जी हां, हम बात कर रहे हैं बायोटेक्नोलॉजी इंजीनियरिंग की जो वर्तमान समय में काफी प्रचलन में चल रही है।

लेकिन बहुत से लोगों का प्रमुख सवाल यह है कि आखिर Biotechnology Kya Hai, Biotechnology Kya Hota Hai? और बायोटेक्नोलॉजी इंजीनियर करता क्या है? तो आज हम उन्हीं सवालों से संबंधित जैसे कि बायो टेक्नोलॉजी क्या है? बायो टेक्नोलॉजी में करियर/ बायो टेक्नोलॉजी में स्कोप/ बायोटेक्नोलॉजी इंजीनियर की सैलरी आदि के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देंगे।

आइए जानते हैं कि Biotechnology me Career Kaise Banaye?

biotechnology-kya-hai-in-hindi
Image Created at Canva

Biotechnology Kya Hai- (What is Biotechnology)

Biotechnology Kya Hai: बायोटेक्नोलॉजी विज्ञान की वह शाखा है जिसे साधारण शब्दों में बायोटेक के नाम से भी जाना जाता है। परंतु बायोटेक्नोलॉजी, बायोलॉजी और टेक्नोलॉजी से मिलकर बना हुआ एक शब्द है जो नई खोज को विस्तृत रूप देने के लिए उत्तरदाई है। बायोटेक्नोलॉजी में जीवित प्राणियों के विकास हेतु टेक्नोलॉजी का प्रयोग किया जाता है।

दरअसल बायोटेक्नोलॉजी इंजीनियरिंग कोर्स है जिसके अंतर्गत कई प्रकार के कोर्स शामिल है। इनमें से किसी भी कोर्स का चयन करने के उपरांत छात्र अलग-अलग क्षेत्र में कार्यरत हो सकते हैं। बायो टेक्नोलॉजी कोर्स के अंतर्गत बायोमेडिकल इंजीनियरिंग, मॉलिक्यूलर इंजीनियरिंग आदि जैसे कोर्स मौजूद है।

बायोटेक्नोलॉजी का प्रमुख लक्ष्य जीवन को बेहतर बनाने का माना गया है। मतलब कि बायो टेक्नोलॉजी के आधार पर किसी भी प्रोडक्ट या जैविक प्रणाली को सुचारू रूप से विकसित करने के लिए विभिन्न प्रकार की टेक्निक का इस्तेमाल किया जाता है। इस क्षेत्र में मेडिसिन बायो टेक्नोलॉजी, सेल्यूलर बायो टेक्नोलॉजी, एनवायरमेंट बायोटेक्नोलॉजी इत्यादि शामिल हैं।

ये भी पढ़ें: Software Engineer Kaise Bane in Hindi | Most promising career after 12th!

बायोटेक्नोलॉजिस्ट क्या करता है

Friends! Biotechnology Kya Hai के बारे में तो आप जान ही चुके हैं। लेकिन बायोटेक्नोलॉजी इंजीनियर क्या करता है के बारे में भी जान लीजिए। दरअसल एक बायोटेक्नोलॉजिकल इंजीनियर अपने कोर्स के हिसाब से करियर का क्षेत्र चुनता है।

उदाहरण के तौर पर यदि कोई कृषि संबंधित बायोटेक्नोलॉजी कोर्स करता है तो वह उत्तम क्वालिटी के बीज तैयार करने के लिए टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करता है। इसके अलावा animal husbandry, agriculture, medicine, healthcare and development आदि से संबंधित कार्य Biotechnology Engineer या बायोटेक्नोलॉजिस्ट द्वारा ही किए जाते हैं।

बेस्ट बायोटेक्नोलॉजी कोर्स (Best Courses in Biotechnology)

Biotechnology me Career Kaise Banaye: बायो टेक्नोलॉजी में अपना करियर बनाने के लिए 12वीं कक्षा से ही शुरुआत की जा सकती है। साथ ही इतना तो आप जान चुके हैं कि बायोटेक्नोलॉजी में कई प्रकार के कोर्स उपलब्ध हैं जिनकी समय अवधि भी अलग-अलग निर्धारित की जाती है। बायो टेक्नोलॉजी से संबंधित कुछ प्रमुख कोर्स इस प्रकार है:

Diploma Courses: बायो टेक्नोलॉजी डिप्लोमा कोर्स करने के लिए छात्र का दसवीं कक्षा पास करना अनिवार्य है। दसवीं कक्षा के बाद आप किसी भी बायो टेक्नोलॉजी डिप्लोमा प्रदान करने वाले इंस्टिट्यूट में दाखिला ले सकते हैं। बायो टेक्नोलॉजी डिप्लोमा कोर्स की समय अवधि 3 वर्ष तक होती है।

Bachelor Degree Courses: बायो टेक्नोलॉजी अंडर ग्रेजुएट कोर्स में दाखिला लेने के लिए दो तरह के विकल्प मौजूद रहते हैं। पहले विकल्प के अंतर्गत आप किसी भी इंस्टीट्यूट और यूनिवर्सिटी में डायरेक्ट एडमिशन ले सकते हैं। बल्कि कई ऐसे कॉलेज है जहां बायोटेक्नोलॉजी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको entrance एग्जाम देना होगा। बायो टेक्नोलॉजी अंडर ग्रेजुएट कोर्स का duration लगभग 4 वर्ष तक का होता है।

Post Graduation Courses: बायो टेक्नोलॉजी पोस्ट ग्रेजुएशन हेतु M.Tech और एमएससी का विकल्प मौजूद रहता है। बायोटेक्नोलॉजी पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स की समय अवधि भी 2 वर्ष है।

PhD Courses/ Doctoral Programs: बायो टेक्नोलॉजी में पोस्ट ग्रेजुएशन की योग्यता प्राप्त करने के बाद आप बायोटेक्नोलॉजी में पीएचडी के लिए आवेदन कर सकते हैं। साधारण तौर पर पीएचडी कोर्स को पूरा करने की समय अवधि तीन से चार साल तक ही रखी जाती है।

परंतु कई बार doctoral programme के अंतर्गत थीसिस को पूरा करने में लगने वाला समय कम या ज्यादा हो सकता है। हालांकि पीएचडी करने के लिए भी आपके पास full-time और part-time का विकल्प मौजूद रहता है।

B.sc in Biotechnology: बायोटेक्नोलॉजी में बीएससी का प्रचलन सबसे ज्यादा है क्योंकि B.sc Biotechnology का कोर्स लगभग हर कॉलेज और यूनिवर्सिटी द्वारा उपलब्ध करवाया जाता है। Biotechnology यानी कि जैविक प्रौद्योगिकी Biology का ही एक क्षेत्र है। B.sc Biotechnology का पाठ्यक्रम 6 semester में बांटा जाता है जिसकी समय अवधि 3 वर्ष होती है।

ये भी पढ़ें: Psychology Kya Hai- 7 Popular Types of Psychology in Hindi

बीएससी बायो टेक्नोलॉजी में जेनेटिक्स, molecular bio और केमिस्ट्री जैसे सब्जेक्ट का अध्ययन करवाया जाता है। वर्तमान समय में बीएससी बायो टेक्नोलॉजी की डिग्री प्राप्त करने वाले छात्रों को नौकरी के बहुत से अवसर मिल रहे हैं। बीएससी बायोटेक्नोलॉजी कोर्स पूरा करने के पश्चात आप रिसर्च साइंटिस्ट, बायोटेक एनालिसिस, लेक्चरर और प्रोफेसर के रूप में में अपना करियर बना सकते हैं।

बायोटेक्नोलॉजी स्पेशलाइजेशन कोर्स (Biotechnology Specialisation Course)

career-in-biotechnology-kya-hai
Image By: Pixabay

कई कॉलेज द्वारा बायोटेक्नोलॉजी में स्पेशलाइजेशन कोर्स उपलब्ध करवाया जाता है। स्पेशलाइजेशन कोर्स को आप स्नातक और स्नातकोत्तर के स्तर पर भी शुरू कर सकते हैं।

Genetics: Genetic and Cell Biology के इस कोर्स में छात्रों को medical diagnostic और therapy आदि के विषय में ज्ञान दिया जाता है।

Virology: विरोलॉजी में molecular virology संबंधित fundamentals और applications की study करवाई जाती है। Virology subject का अध्ययन अधिकतर बायोटेक्नोलॉजी के 4th Semester में करवाया जाता है।

Immunology: इम्यूनोलॉजी में एक इंसान के पाचन तंत्र की कार्यप्रणाली को समझने में मदद की जाती है। इम्यूनोलॉजी की स्टडी का प्रमुख लक्ष्य एक व्यक्ति के इम्यून सिस्टम में आने वाली कमजोरी से बचाव करना है।

Biostatistics: बायो स्टैटिसटिक्स भी बायो टेक्नोलॉजी का ही हिस्सा है। परंतु इसमें एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति द्वारा की गई रिसर्च में mathematics and statistics के concept को apply करता है।

Pharmacology: फार्माकोलॉजी में विद्यार्थियों को ड्रग्स बनाने के तरीके सिखाए जाते हैं। इसके अलावा इन दवाइयों के मनुष्य और पशुओं पर होने वाले प्रभाव के बारे में भी जानकारी दी जाती है।

Animal Husbandry: बायो टेक्नोलॉजी जीव जंतुओं के लिए एक कल्याणकारी खोज साबित हो रही है। दरअसल बायो टेक्नोलॉजी द्वारा जानवरों के embryo transfer, artificial insemination आदि के बारे में पूरी इंफॉर्मेशन दी जाती है।

बायो टेक्नोलॉजी के लिए योग्यता (Eligibility For Biotechnology)

अभी तक आपने जाना Biotechnology Kya Hai, अब जानिये इसके लिए आपको किस तरह की योग्यता की आवश्यकता पड़ेगी।

बायो टेक्नोलॉजी में कोर्स करने हेतु छात्र के पास 12वीं कक्षा में कम से कम 60% अंक होने अनिवार्य है। हालांकि कई कॉलेज और यूनिवर्सिटी द्वारा 45% से लेकर 50% अंकों के साथ भी दाखिला दे दिया जाता है। इसके अलावा 12वीं कक्षा में उम्मीदवार के पास फिजिक्स, बायोलॉजी और केमिस्ट्री प्रमुख विषय के रूप में होने चाहिए।

ये भी पढ़ें: Scientist Kaise Bane | How To Become Scientist in Hindi

भारत के बेस्ट बायोटेक्नोलॉजी कॉलेज (Best Biotechnology Colleges in India)

Best Biotechnology Colleges in India

  1. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मद्रास
  2. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी
  3. इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी, मुंबई
  4. राजीव गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, महाराष्ट्र
  5. एमिटी इंस्टीट्यूट ऑफ बायोटेक्नोलॉजी, नोएडा
  6. भगवान महावीर कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजी, गुजरात

बायो टेक्नोलॉजी में करियर स्कोप (Career Scope in Biotechnology)

बायो टेक्नोलॉजी का प्रसार केवल भारत ही नहीं बल्कि विदेशों तक भी हो चुका है। बायो टेक्नोलॉजी कोर्स करने के बाद आप देश के साथ-साथ विदेशों में भी नौकरी के अवसर प्राप्त कर सकते हैं।

बायो टेक्नोलॉजी क्षेत्र में Food Manufacturing, Healthcare, Agriculture, Education, Pharmaceutical and Research संबंधित कार्य कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त भी बायोटेक्नोलॉजी फील्ड में बहुत ही जॉब अपॉर्चुनिटी मिल सकती है।

खास तौर पर Biofertilizers, Biopesticides, Green Revolution से संबंधित प्रोडक्ट में नई-नई टेक्निक का प्रयोग हो रहा है। ऐसे में इस क्षेत्र में रोजगार के अनेक अवसर उत्पन्न हो रहे हैं जिनके आधार पर एक सुनहरा भविष्य बनाया जा सकता है।

बायो टेक्नोलॉजी में डिग्री लेने के बाद आप निम्नलिखित क्षेत्र में नौकरी पा सकते हैं:

  1. College and University Professor
  2. IT Company
  3. Healthcare Sector
  4. Pharmaceutical Companies
  5. Agriculture Department
  6. Animal Husbandry
  7. Research Center
  8. Laboratory
  9. Genetic Engineering
  10. Food Manufacturing Industry

बायोटेक्नोलॉजिस्ट की सैलरी (Salary of a Biotechnologist)

career-in-biotechnology-kya-hai

Biotechnology Kya Hai / Biotechnology Kya Hota Hai

बायो टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में स्कोप के आधार पर इस क्षेत्र में पैसा भी अच्छा कमाया जा सकता है। सबसे खास बात कि एक बायोटेक्नोलॉजिस्ट शुरुआती स्तर पर ही ₹30,000 से लेकर ₹50,000 प्रति महीना कमा सकता है। हालांकि जैसे-जैसे आपका एक्सपीरियंस बढ़ता जाएगा तो उसी हिसाब से आपकी सैलरी भी बढ़ती रहती है। बायोटेक्नोलॉजिस्ट के रूप में टॉप लेवल पर आप 10,00,000 रुपए सालाना पैकेज पा सकते हैं।

ये भी पढ़ें: पायलट कैसे बनें | How To Become Pilot in Hindi

बायोटेक इंजीनियर के लिए मशहूर कंपनी (Famous Company For Biotech Engineer)

बायो टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में जॉब करने के लिए पूरे भारत में 300 से भी अधिक कंपनियां मौजूद है। Indian Brand Equity Foundation (IBEF) द्वारा जारी की गई टॉप लिस्ट में आने वाली कंपनी में agriculture, dairy, chemicals और फार्मास्यूटिकल जैसी कई field शामिल है।

बायोटेक्नोलॉजिस्ट की जॉब के लिए टॉप फर्म इस प्रकार है:

● Biocon Limited
● Serum Institute of India Limited
● Rasi Seeds Private Limited
● Biocon Limited
● Shantha Biotechnic Limited
● Piramal Group
● Walk heart
● Transasia Bio Medicals
● Krebs Biochemicals and Industries (KBIL)
● Glaxosmithkline Pharmaceutical Limited
● Indian Immunological Limited (IIL)

निष्कर्ष

हम उम्मीद करते हैं कि बायो टेक्नोलॉजी में पनप रही संभावनाओं से लेकर बायोटेक्नोलॉजिस्ट की सैलरी तक के बारे में आपको पूरी जानकारी मिल गई है। हमें पूरा विश्वास है कि Biotechnology Course से संबंधित इस आर्टिकल को पढ़ने के उपरांत आपको जरुर सफलता मिलेगी।

तो दोस्तों, आज के इस महत्वपूर्ण आर्टिकल में हमारे द्वारा Biotechnology Kya Hai, Biotechnology Kya Hota Hai, Biotechnology me Career Kaise Banaye, How To Make A Career in Biotechnology in Hindi, Scope in Biotechnology आदि संबंधित दी गई जानकारी अगर आपको अच्छी लगी हो तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

ये भी पढ़ें:

Sharing Is Caring:

Leave a Comment