पायलट कैसे बनें | How To Become Pilot in Hindi

Pilot Kaise Bane: अपने सपनों को पंख लगाकर उड़ना हर व्यक्ति की इच्छा होती है। ऐसे में अगर आप भी हवा में उड़ने वाला करियर यानी कि पायलट बनना चाहते हैं, लेकिन आपको Pilot Kaise Bane संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं है तो ऐसे में आपको सबसे पहले पायलट बनने संबंधित पूरी जानकारी लेनी होगी।

अक्सर सही जानकारी के अभाव में आप अपना सपना पूरा करने में पीछे रह जाते हैं। परंतु अब आपको ज्यादा परेशान होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि आज आप बिल्कुल सही पोस्ट पर पहुंच चुके हैं। जी हां, दोस्तों! आज के इस महत्वपूर्ण आर्टिकल में हम आपको qualifications to become a pilot और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी विस्तार से उपलब्ध कराने जा रहे हैं।

हमारा विश्वास है कि इस आर्टिकल से बेहतरीन जानकारी आपको इंटरनेट पर कदापि नहीं मिल सकती हैं। तो ऐसे में पायलट कैसे बने संबंधित पूरी जानकारी लेने के लिए इस आर्टिकल के साथ अंत तक जुड़े रहे।

pilot-kaise-bane-in-hindi
Image Created at Canva

Pilot Kaise Bane

दोस्तों! पायलट बनना कितना आसान लगता है लेकिन वास्तव में उतना है नहीं। हमारा मतलब यह नहीं कि पायलट बनने के लिए आपको किसी कठिनाइयों से गुजरना पड़ेगा बल्कि इस सपने को पूरा करने के लिए आपको काफी मेहनत जरूर करनी होगी।

सबसे पहले आपको बता दें कि पायलट बनने के 2 तरीके होते हैं, प्रथम तरीके के अंतर्गत आप एयरफोर्स पायलट बन सकते हैं। दूसरे तरीके में आप कई एयरलाइंस कंपनी जैसे कि एयर इंडिया, स्पाइसजेट आदि के साथ मिलकर कमर्शियल पायलट के तौर पर अपनी सेवाएं दे सकते हैं।

अगर आप सोचते हैं कि पायलट केवल 2 प्रकार का होता है तो आप बिल्कुल गलत है। दरअसल पायलट भी कई प्रकार के होते हैं जिनके अंतर्गत एयरलाइन पायलट, कमर्शियल पायलट, फाइटर पायलट आदि सम्मिलित है।

पायलट बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता

हालांकि पायलट बनने के लिए आपको दसवीं कक्षा से ही बेहतरीन तैयारी शुरू कर देनी चाहिए क्योंकि दसवीं कक्षा अच्छे अंकों के साथ पास करना भी जरूरी है। इसके अलावा दसवीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद विद्यार्थी को 12वीं कक्षा किसी भी साइंस सब्जेक्ट के साथ पास करनी होगी।

तत्पश्चात एविएशन कोर्स में दाखिला लेकर अच्छे अंक लाने होंगे। लेकिन सबसे आवश्यक बात कि 10वीं, 12वीं और अन्य शैक्षणिक योग्यता के अलावा आपकी अंग्रेजी भाषा पर अच्छी पकड़ होनी चाहिए। मतलब कि आप आसानी से अंग्रेजी में वार्तालाप कर लेने के की काबिलियत रखते हो।

अधिकतर फ्लाइंग इंस्टीट्यूट में दाखिला लेने के लिए छात्र को साइंस विषय में बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए। परंतु कई फ्लाइंग इंस्टीट्यूट द्वारा कॉमर्स संकाय वाले छात्रों को भी प्रवेश दे दिया जाता है। लेकिन उससे पहले आपको एनडीए की परीक्षा पास करनी होती है।

एनडीए की परीक्षा पास करने हेतु भी विद्यार्थी को 12 वीं कक्षा विज्ञान या कॉमर्स संकाय से उत्तीर्ण करना जरूरी है। इसके पश्चात आपको कमर्शियल पायलट लाइसेंस यानी की CPL प्रदान किया जाता है।

ये भी पढ़ें: Professional Choreographer Kaise Bane | Choreography से जुड़ी सारी जानकारी हिंदी में

Top Pilot School List (टॉप पायलट स्कूल की सूची)

यदि आप पायलट बनना चाहते हैं तो आपको एनडीए प्रवेश परीक्षा पास करने के साथ-साथ टॉप पायलट स्कूल की लिस्ट के बारे में भी जानकारी होनी चाहिए जो कि निम्नलिखित है:

  • इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी
  • मुंबई फ्लाइंग क्लब
  • राजीव गांधी विमानन प्रौद्योगिकी अकादमी
  • मध्य प्रदेश फ्लाइंग क्लब
  • राष्ट्रीय उड़ान प्रशिक्षण संस्थान
  • इंडिगो कैडेट प्रशिक्षण संस्थान
  • सरकारी विमानन प्रशिक्षण संस्थान
  • पायलट बनने की तैयारी कैसे करें

दोस्तों! पायलट का करियर एक ऐसा आकर्षक जॉब है जिसे लड़के और लड़कियों द्वारा बराबर रूप से पसंद किया जाता है। परंतु अक्सर सही मार्गदर्शन के अभाव में सफलता हाथ नहीं लग पाती है। अगर आप भी पायलट बनने के ख्वाब को सही ढंग से पूर्ण करना चाहते हैं तो आपको शैक्षणिक योग्यता संबंधी पूरी जानकारी होनी चाहिए।

सर्वप्रथम आपको दसवीं कक्षा अच्छे अंकों के साथ पास करनी होगी। तत्पश्चात ग्यारहवीं परीक्षा फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स यानी कि साइंस संकाय के साथ ही शुरू करें। परंतु 12वीं कक्षा में भी आपके पास कम से कम 50% अंक होने चाहिए।

इन शैक्षणिक योग्यता के अलावा आपको अपनी इंग्लिश स्पीकिंग स्किल्स पर खास ध्यान रखना होगा क्योंकि इंग्लिश भाषा पर मजबूती पायलट बनने का प्रमुख आधार मानी जा सकती है।

पायलट बनने के लिए अन्य योग्यता

commercial-pilot-kaise-bane-in-hindi
Image By: Pixabay

अगर आप पायलट बनने से संबंधित एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया को पूरा करते हैं तो आप एयर फोर्स और कमर्शियल पायलट बन सकते हैं। परंतु पायलट बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता के अलावा कुछ अन्य नियम और शर्तें भी रखे गए हैं। सबसे पहले तो आवेदन कर्ता के पास भारत की नागरिकता होनी चाहिए।

कमर्शियल पायलट के लिए आवेदन करने वाले छात्र की कम से कम उम्र 18 वर्ष और ज्यादा से ज्यादा 32 वर्ष तक मान्य है। इसके अलावा उम्मीदवार का आई विजन 6/6 होना चाहिए। आवेदन कर्ता को कलर ब्लाइंडनेस संबंधित किसी तरह की दिक्कत ना हो।

पायलट बनने के लिए आपकी हाइट 5 फुट से कम नहीं होनी चाहिए। साथ ही उम्मीदवार किसी भी गंभीर बीमारी से बिल्कुल ना जूझ रहा हो। मतलब कि आप बिल्कुल हष्ट पुष्ट होने चाहिए तभी आप पायलट बनने के लिए अपनी योग्यता को पूर्ण कर पाएंगे।

ये भी पढ़ें: बैक्टेरियोलोजिस्ट कैसे बनें | How to become Bacteriologist?

Commercial Pilot Kaise Bane

इतना तो आप जान ही चुके हैं कि एयर इंडिया और जेट एयरवेज आदि भारतीय एयरलाइंस के विमान उड़ाने के लिए कमर्शियल पायलट का सहयोग लिया जाता है। लेकिन यहां बात कमर्शियल पायलट बनने के लिए योग्यता की है तो आपको बता दें कि उम्मीदवार को कम से कम 12वीं परीक्षा पास होना चाहिए।

अगर आप कमर्शियल पायलट बनने के प्रति सीरियस है तो आपको बारहवीं कक्षा के साथ ही एनडीए प्रवेश परीक्षा की तैयारी आरंभ कर देनी चाहिए। इसके अलावा आप फ्लाइंग स्कूल में दाखिला लेकर भी पायलट बनने की तैयारी शुरू कर सकते हैं। परंतु इसके लिए आपको प्रवेश परीक्षा के साथ-साथ शारीरिक फिटनेस और शैक्षणिक योग्यता का उचित प्रमाण देना होगा।

एनडीए परीक्षा पास करने के उपरांत आपको मेडिकल टेस्ट और इंटरव्यू द्वारा सिलेक्ट किया जाता है। फ्लाइंग स्कूल में एडमिशन लेने के बाद आपको 18 महीने से लेकर 24 महीने तक का कोर्स ज्वाइन करना होगा। फ्लाइंग स्कूल में दाखिला लेने के उपरांत आपको SPL यानी कि स्टूडेंट पायलट लाइसेंस प्रदान किया जाता है।

इसी लाइसेंस के आधार पर ही आप एक विद्यार्थी के तौर पर पायलट बनने की ट्रेनिंग ले सकते हैं। एसपीएल लाइसेंस के अंतर्गत आपको 60 घंटे की ट्रेनिंग दी जाती है। इस ट्रेनिंग को पूर्ण करने के पश्चात आप प्राइवेट पायलट लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं। PPL के अंतर्गत आपको 210 घंटे की ट्रेनिंग दी जाती है।

इसके बाद आप CPL यानी कि कमर्शियल पायलट लाइसेंस ले सकते हैं। इस लाइसेंस के लिए आपको परीक्षा पास करनी होगी। अगर आप इस परीक्षा को पास कर लेते हैं तो आपको कमर्शियल पायलट लाइसेंस मिल जाता है।

कमर्शियल पायलट बनने के लिए आप कैडेट फ्लाइट प्रोग्राम का चयन भी कर सकते हैं। इस प्रोग्राम को ज्वाइन करने के लिए भी आपको प्रवेश परीक्षा, इंटरव्यू और मेडिकल क्लियर करना होता है। कैडेट पायलट प्रोग्राम चुनने का एक फायदा यह भी है कि आपको ट्रेनिंग पूरी होने के पश्चात जॉब मिल जाती है।

कैडेट पायलट प्रोग्राम के लिए 18 महीने का समय लगता है। जैसे ही आप कैडेट पायलट के तौर पर अपनी जॉब शुरू कर देते हैं तो इसके उपरांत आपको कार्यस्थल पर प्लेन उड़ाने के बारे में विस्तार से ट्रेनिंग प्रदान की जाती है।

इस ट्रेनिंग की समय अवधि भी पांच से छह हफ्तों तक ही रखी जाती है। परंतु यह ट्रेनिंग पूरी करना बहुत ही जरूरी है और इसी वजह से फ्लाइंग स्कूल के सभी कैंडिडेट को यह ट्रेनिंग मुहैया कराई जाती है।

ये भी पढ़ें: सब डिवीज़नल ऑफिसर (SDO) कैसे बनें | How to become a SDO Officer ?

पायलट जॉब के लिए आवेदन कैसे करें

how-to-apply-for-pilot-job

जैसे ही आप अपनी सभी योग्यताएं पूर्ण कर लेते हैं और आपको कमर्शियल पायलट लाइसेंस मिल जाता है तो आप पायलट जॉब के लिए आवेदन करने हेतु पूरी तरह से तैयार है। इसके बाद आप कई टॉप कंपनी जैसे कि इंडिगो, एयर इंडिया, जेट एयरवेज, भारतीय वायुसेना, एयर एशिया आदि में जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं।

Aeroplane Pilot Kaise Bane

एरोप्लेन पायलट की ट्रेनिंग थोड़ी मुश्किल होती है क्योंकि यहां आपको फाइटर जेट जैसे विमान के लिए भी ट्रेनिंग प्रदान की जाती है। मतलब कि आपको आक्रमण के लिए भी ट्रेन किया जाता है। एरोप्लेन पायलट बनने के लिए भी आपको कमर्शियल पायलट की तरह ही अपनी योग्यता का प्रमाण देना होता है।

परंतु Aeroplane Pilot बनने के लिए आप NDA, CDS और NCC जैसी प्रवेश परीक्षा पास कर सकते हैं। परंतु यदि आप ग्रेजुएशन के बाद पायलट बनना चाहते हैं तो आपको यूपीएससी एग्जाम क्लियर करना होगा।

ये भी पढ़ें: इंडस्ट्रियल डिजाइनिंग में कैरियर कैसे बनाएं | 10 Best College for Industrial Designing In India

पायलट की सैलरी

पायलट को शुरुआती तौर पर ही ₹80,000 से ₹2,00,000 तक का वेतन प्रदान किया जाता है। परंतु एरोप्लेन पायलट की तुलना में कमर्शियल पायलट की तनख्वाह कहीं ज्यादा होती है। परंतु इतना तो आप समझ ही गए होंगे कि आपको इतनी अच्छी सैलरी पाने के लिए मेहनत भी करनी होगी।

निष्कर्ष

तो दोस्तों, आज के इस महत्वपूर्ण आर्टिकल में हमने आपको How To Become Pilot in Hindi, 12th ke Baad Pilot Kaise Bane संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई है। यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि हर व्यक्ति तक पायलट बनने के लिए सही जानकारी पहुंच सके।

Sharing Is Caring:

Leave a Comment