Anesthesia Course क्या है- योग्यता, फ़ीस, कॉलेज, ड्यूरेशन आदि की पूरी जानकारी

Anesthesia Course Details in Hindi: आज के लेख में खास मेडिकल क्षेत्र से संबंधित कोर्स के बारे में जानकारी दी गई है। 12 वीं कक्षा के बाद अगर आप पैरामेडिकल या मेडिकल फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो आपको यह लेख अंत तक जरूर पढ़ना चाहिए। लेख में Anesthesia Course के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है।

लेख में हम नीचे दिए गए कुछ प्रमुख बिंदुओं पर चर्चा करने वाले हैं।

  • एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी क्या है
  • एनेस्थीसिया कोर्स क्या है
  • एनेस्थीसिया कोर्स के लिए योग्यता क्या है
  • इस कोर्स में एडमिशन कैसे लें
  • एनेस्थीसिया कोर्स की अवधि कितनी होती है
  • एनेस्थीसिया के लिए प्रमुख कॉलेज कौन से हैं
  • इस कोर्स की फीस कितनी होती है
  • कोर्स के बाद कैरियर विकल्प क्या होते हैं
  • इस कोर्स के बाद जॉब विकल्प क्या है
  • जॉन के बाद सैलरी कितनी होती है

इन दिए गए बिंदुओं के अलावा कोर्स से संबंधित और भी महत्वपूर्ण विषयों की जानकारी आपको इस लेख में मिलने वाली है। तो आइए जानते हैं Anesthesia Technology Course को विस्तार से।

anesthesia-course-details-in-hindi-meaning-fees-course-duration
Image by Freepik
Contents hide

What is Anesthesia Technology Meaning in Hindi | एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी क्या है

एनेस्थीसिया कोर्स के बारे में जानने से पहले हमें “एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी” के बारे में जानना बहुत जरूरी है। आपको बता दें कि पहले के समय में जब भी किसी मरीज का ऑपरेशन या सर्जरी की जाती थी, तब उन्हें बेहोश किया जाता था ताकि ऑपरेशन के दौरान मरीज को दर्द ना महसूस हो।

लेकिन अब मेडिकल क्षेत्र काफी तरक्की कर चुका है। ऑपरेशन के दौरान एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें मरीज के ऑपरेशन होने वाले शरीर के उस भाग को एनेस्थीसिया के द्वारा सुन्न कर दिया जाता है, ताकि केवल उसी भाग में ऑपरेशन किया जा सके और मरीज को दर्द भी ना हो। मरीज के शरीर में एनेस्थीसिया का सही प्रयोग करके उनका ऑपरेशन करना ही एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी कहलाता है।

एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी को जानने के बाद अब हम इसके कोर्स के बारे में जानकारी प्राप्त करने वाले हैं, जिसका विवरण आगे लेख में दिया गया है।

ये भी पढ़ें:

What is Anesthesia Course Details in Hindi | Anesthesia Course Kya Hota Hai

Anesthesia Course, मेडिकल क्षेत्र से संबंधित एक डिप्लोमा कोर्स है जिसके माध्यम से स्टूडेंट को एनेस्थीसिया से संबंधित सारी जानकारी दी जाती है। जैसे किस मरीज को कितनी मात्रा में एनेस्थीसिया देना चाहिए, एनेस्थीसिया का प्रयोग किस प्रकार से करना चाहिए, एनेस्थीसिया क्यों जरूरी होता है, एनेस्थीसिया के लाभ एवं हानि, एनेस्थीसिया का सही प्रयोग आदि विषयों पर गहरी जानकारी दी जाती है।

इस कोर्स को पूरा करने के बाद स्टूडेंट एनेस्थीसिया के एक्सपर्ट बन जाते हैं, जिसके बाद उन्हें पैरामेडिकल या मेडिकल क्षेत्र में जॉब के अवसर भी प्रदान किए जाते हैं। वर्तमान समय में यह एक अच्छा कैरियर विकल्प कहा जाता है।

Anesthesia Course Eligibility in Hindi | एनेस्थीसिया कोर्स के लिए योग्यता क्या है

इस कोर्स में प्रवेश करने के लिए स्टूडेंट को कुछ प्रमुख योग्यताएं अर्जित करनी होती है। जिनका विवरण नीचे बताया गया है:

  • स्टूडेंट को सबसे पहले 12वीं कक्षा पास करना अनिवार्य है।
  • 12वीं कक्षा में विज्ञान का विषय होना अनिवार्य है।
  • स्टूडेंट को 12वीं कक्षा में कम से कम 50% अंक प्राप्त होने चाहिए।
  • कुछ कॉलेजों में 45% अंक प्राप्त होने पर भी कोर्स के योग्य माना जाता है।
  • एडमिशन के लिए स्टूडेंट को एंट्रेंस एग्जाम से गुजरना पड़ता है।

एनेस्थीसिया कोर्स में प्रवेश करने के लिए प्रमुख योग्यता की जानकारी प्राप्त करने के बाद अब हम कोर्स में एडमिशन लेने के सही तरीके के बारे में चर्चा करने वाले हैं।

Admission in Anesthesia Course in Hindi | एनेस्थीसिया कोर्स में एडमिशन कैसे लें

इस कोर्स में एडमिशन मुख्यत: दो प्रकार से होता है- पहला प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam) के द्वारा और दूसरा मेरिट लिस्ट के द्वारा।

ज्यादातर सरकारी कॉलेज में इस कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है, जिसमें स्टूडेंट 12वीं के बाद आवेदन दे सकते हैं। इस प्रवेश परीक्षा को पास करने के बाद कॉलेज द्वारा स्टूडेंट को एडमिशन के लिए चुना जाता है।

जबकि दूसरे प्राइवेट या निजी संस्थानों में 12वीं कक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट जारी की जाती है। उस मेरिट लिस्ट में स्टूडेंट का नाम आने पर उन्हें एडमिशन दिया जाता है।

Anesthesia Course Duration in Hindi | एनेस्थीसिया कोर्स की अवधि कितनी होती है

यह कोर्स एक मेडिकल क्षेत्र का डिप्लोमा कोर्स है, जिसे पूरा करने के लिए स्टूडेंट को 2 साल का समय लगता है। इन 2 सालों में कोर्स को 4 सेमेस्टर में विभाजित करके पढ़ाया जाता है। हर एक सेमेस्टर के बाद टेस्ट या परीक्षा ली जाती है। परीक्षा में पास करने के बाद ही अगले सेमेस्टर में प्रवेश दिया जाता है।

ये भी पढ़ें:

Top College for Anesthesia Course | एनेस्थीसिया कोर्स के लिए प्रमुख कॉलेज

भारत में अनेक कॉलेज उपलब्ध हैं जिनमें एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी कोर्स पढ़ाया जाता है। कुछ प्रमुख कॉलेजों के नाम उदाहरण स्वरूप नीचे दिए गए हैं।

  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी
  • यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी जयपुर
  • इंटीग्रल यूनिवर्सिटी लखनऊ
  • जेएसएस मेडिकल कॉलेज वेल्लोर
  • एसआरएम यूनिवर्सिटी
  • कोहिनूर कॉलेज ऑफ पैरामेडिकल साइंस मुंबई
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज वेल्लोर

ये कुछ जाने माने नाम हैं, इनके अलावा और भी कई सारे कॉलेज हैं जिनमें स्टूडेंट अपनी सुविधा अनुसार एडमिशन के लिए आवेदन दे सकते हैं।

Anesthesia Course Fees Details in Hindi | एनेस्थीसिया कोर्स की फीस

इस कोर्स की फीस अलग अलग कॉलेजों में अलग अलग होती है। कुछ कॉलेजों में प्रशिक्षण के अलावा रहने, खाने एवं बाकी सुविधाओं के अनुसार भी फीस की मात्रा कम या ज्यादा होती है। आपको बता दें कि सरकारी कॉलेजों में प्राइवेट कॉलेजों के मुकाबले कम फीस होती है।

सामान्य तौर पर एनेस्थीसिया कोर्स की फीस लगभग ₹30,000 से लेकर ₹70,000 तक हो सकती है। यह फीस सिर्फ औसत अनुसार बताई गयी है। कुछ कॉलेजों में इससे ज्यादा भी फीस ही सकती है।  फीस की सही जानकारी, आप उन कॉलेजों द्वारा जारी की गयी ऑफिसियल वेबसाइट से पता कर सकते हैं।

Career Options After Anesthesia Course in Hindi

इस कोर्स के बाद स्टूडेंट के पास कई सारे कैरियर विकल्प होते हैं। एनेस्थीसिया कोर्स के बाद, स्टूडेंट जॉब कर सकते हैं या आगे उच्च स्तर की पढ़ाई भी कर सकते हैं।

एनेस्थीसिया कोर्स के बाद मिलने वाली नौकरी के क्षेत्रों की जानकारी नीचे दी गई है।

  • मेडिकल यूनिवर्सिटी
  • मेडिकल कॉलेज
  • पब्लिक सेक्टर
  • गवर्नमेंट सेक्टर
  • हॉस्पिटल
  • फिजीशियन के ऑफिस
  • ऑपरेशन थियेटर

Jobs After Anesthesia Course in Hindi

स्टूडेंट को एनेस्थीसिया कोर्स के बाद मिलने वाली जॉब के पदों का विवरण नीचे दिया गया है।

  • एनेसथीसियोलॉजिस्ट असिस्टेंट
  • सर्टिफाइड रजिस्टर्ड नर्स एनेस्थिटिस्ट
  • एनेस्थीसिया टेक्निशियन
  • मेडिकल कंसलटेंट
  • सर्जन
  • एसोसिएट कंसलटेंट
  • क्लिनिकल एसोसिएट, इत्यादि।

ऊपर बताये गए जॉब पदों के अलावा और भी कई सारे विकल्प उपलब्ध होते हैं जिनमें जॉब प्राप्त करके एक अच्छे कैरियर की शुरुआत की जा सकती है।

Salary After Anesthesia Course Details in Hindi | एनेस्थीसिया कोर्स के बाद सैलरी

एनेस्थीसिया कोर्स के बाद मिलने वाली जॉब में अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग प्रकार की सैलरी होती है। जॉब की सैलरी, कैंडिडेट के अनुभव, जॉब के पद एवं सेक्टर के अनुसार निर्धारित होती है।

इस क्षेत्र में एक फ्रेशर कैंडिडेट को लगभग ₹20,000 से लेकर ₹30,000 तक हर महीने का वेतन मिल सकता है। अनुभव के साथ वेतन में भी वृद्धि होती है। कुछ सरकारी जॉब में ₹50,000 से लेकर ₹70,000 तक का वेतन भी मिल सकता है।

एनेस्थीसिया के क्षेत्र में रुचि रखने वाले स्टूडेंट इस कोर्स का चयन कर सकते हैं। और अपने अच्छे भविष्य की शुरुआत कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:

निष्कर्ष

दोस्तों, मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा यह लेख – Anesthesia Course Details in Hindi पसंद आया होगा और आपको इस कोर्स से सम्बंधित हर तरह की जानकारी मिल गयी होगी। लेख में बताई गयी जानकारी के अलावा भी यदि आप किसी अन्य जानकारी के तलाश में हैं तो हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं, हम उस जानकारी को भी आपके समक्ष ले आयेंगे।

Frequently Asked Questions (FAQs)

एनेस्थीसिया कोर्स कितने साल का होता है?

एनेस्थीसिया डिप्लोमा कोर्स 2 साल का होता है। एवं एनेस्थीसिया बैचलर डिग्री प्राप्त करने के लिए कोर्स की अवधि 3 साल की होती है।

एनेस्थीसिया कोर्स कितने प्रकार के होते हैं?

एनेस्थीसिया कोर्स के प्रकार नीचे दिए गए हैं :-
एनेस्थीसिया में डिप्लोमा
एनेस्थीसिया में बैचलर ऑफ साइंस
एनेस्थीसिया में पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा
एनेस्थीसिया में डॉक्टर ऑफ़ मेडिसिन
बीएससी मेडिकल टेक्नोलॉजी
बीएससी एनेस्थीसिया एंड ऑपरेशन थिएटर टेक्निक, आदि।

एनेस्थीसिया कोर्स के लिए क्या करना पड़ता है?

एनेस्थीसिया कोर्स में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट को सबसे पहले 12वीं कक्षा पास करना पड़ता है। 12वीं कक्षा में विज्ञान विषय अनिवार्य है। और कम से कम 50% अंक प्राप्त करना भी आवश्यक है। उसके बाद ही एनेस्थीसिया कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं।

एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी क्या होती है?

ऑपरेशन थिएटर में मरीजों को ऑपरेशन या सर्जरी करने के दौरान उन्हें होने वाले दर्द से बचने के लिए शरीर के उस भाग को मेडिसिन के द्वारा सुन्न कर दिया जाता है। ताकि सर्जरी के दौरान मरीज को दर्द महसूस ना हो। शरीर के उस भाग को सुन्न करने की दवाई और इस प्रक्रिया को एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी कहा जाता है। जो एनेस्थीसियोलोजिस्ट के द्वारा दिया जाता है।

एनेस्थीसिया कोर्स के बाद सैलरी कितनी हो सकती है?

इस कोर्स को पूरा करने के बाद अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग प्रकार की सैलरी होती है। औसत अनुसार एक प्रेशर कैंडिडेट को लगभग ₹20000 से लेकर ₹30000 तक की सैलरी मिल सकती है। इस क्षेत्र में कुछ ऐसे जॉब पद भी हैं जिनमें ₹50000 से लेकर ₹70000 तक का वेतन दिया जाता है।

Sharing Is Caring:

Leave a Comment