Genericart Franchise कैसे लें | Genericart Medicine Franchise Cost in Hindi

Genericart Medicine Franchise Kaise Le: आज हम बात करने वाले हैं कि Genericart Franchise Kaise Le? यह एक medical कंपनी है जो दवाइयाँ बनाती है। इनकी खास बात यह है कि यह अच्छी quality की दवाइयां अपने customers को कम दामो में पहुँचाती है। यही वजह है कि यह कंपनी लोगों के बीच काफी पॉपुलर हो रही है क्योंकि इसने अपने customer friendly एप्रोच से लोगों का विश्वास जीत लिया है।

आज हम Genericart Franchise के बारे में detail में बताने वाले हैं कि कि Genericart Kya Hai, Genericart Franchise Kaise Le, Genericart Franchise Cost आदि?

genericart-franchise-kaise-le

Genericart Kya Hai?

Genericart एक मेडिकल कंपनी हैं जो जेनेरिक दवाइयां (Generic Medicines) प्रोवाइड करवाती है। यह कंपनी 2016 में महाराष्ट्र राज्य में रजिस्टर्ड हुई थी। यह एक non-government कंपनी है। इसका उद्देश्य भारत के कोने-कोने तक सस्ती और अच्छी दवाइयां पहुंचाना है इसलिए यह अपनी company की franchise दे रही है।

चूंकि कोई भी कंपनी अकेले ही सभी लोगों तक अपनी सेवाएं नही पहुँचा सकती है इसलिए वह जगह जगह अपने स्टोर खोलती है। इन स्टोर को चलने के लिए कंपनी कुछ लोगों को अधिकृत करती है। इस तरह के Genericart Medicine Stores को Genericart Franchise Store कहते हैं।

लेकिन इसके बारे में और जानने से पहले हम यह जान लेते हैं कि Generic Medicines Kya Hoti Hain (Generic दवाईयां क्या होती हैं)?

Generic Medicines Kya Hoti Hain?

Generic Medicine Kise Kahte Hain: Generic का मतलब होता है सामान्य, यानि यह generic दवाई एक सामान्य दवाई हुई। लेकिन इसका मतलब इनकी क्वालिटी का कम होना नहीं है। Generic Medicines ऐसी दवाईयां हैं जिनका कोई स्पेसिफिक ब्रांड नहीं होता। मगर जेनेरिक दवाईयां, ब्रांडेड मेडिसिन से doses, quality और strength में एक समान होती हैं।

जेनेरिक मेडिसिन, ब्रांडेड मेडिसिन की तरह ही काम करती हैं यानि आप चाहें तो महंगे दामों वाली Branded Medicines खरीदें या सस्ते दामों पर Generic Medicines; बीमारी मिटाने के लिए दोनों ही असरदार हैं। फर्क बस इतना है कि जेनेरिक दवाईयां, आपकी जेब पर पड़ने वाले वजन को थोड़ा कम जरूर कर सकती हैं।

अब एक सवाल यह उठता है कि जब दोनों तरह की दवाईयां एक समान काम करती हैं तो दोनों में जमीन-आसमान जितना अंतर क्यों है यानि इन दोनों के Price, Size, Colour, Flavours और Packaging में फर्क क्यों है?

तो इसका जवाब है कि trademark law के according एक generic medicine उस branded medicine के जैसे नहीं दिख सकती है जैसी ब्रांडेड मेडिसिन already मार्केट में है। लेकिन दोनों का काम एक ही है और दोनों की quality में भी कोई फर्क नही है।

ये भी पढ़ें:

Generic Medicine market में कब आती हैं?

जब कोई कंपनी अपनी एक दवा मार्किट में लाती है तो उसे कई सालों के लिए patent करवा के रखती है। इस patent के दम पर ही उसे यह अधिकार मिल जाता है कि कंपनी ने उस दवा को बनाने में जितना पैसा लगाया है उसे पूरा रिकवर कर सके। इस patent की वजह से ही कोई भी कंपनी उस दवा के जैसी similar active ingredient वाली दवा मार्केट में नहीं ला सकती।

लेकिन जब Patent Expire हो जाता है तब दूसरी कंपनी को यह परमिशन मिल जाता है कि वह उस active ingredient पर base medicine बना ले। इन्ही दवाओं को जेनेरिक मेडिसिन कहा जाता है।

Generic medicine का price कम क्यों होता है?

Generic medicine का price कम होने का कारण है कि जब किसी दवाई को बनाने में clinical study कर ली जाती है और safety ओर effectiveness को measure कर लिया जाता है तब जेनेरिक मेडिसिन को बनाते समय इस process को repeat करने की जरूरत नही पड़ती है जिससे उनकी cost कम हो जाती है।

आपको यह जानकर खुशी होगी कि इंडिया दुनिया का biggest जेनेरिक दवाओं का एक्सपोर्टर है। इंडिया से यूरोप, अमेरिका और अफ्रीका जैसे बड़े देशों में generic दवाइयाँ भेजी जाती हैं।

Genericart का मार्किट स्कोप कितना है?

Genericart का मार्केट स्कोप का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि इनके पास 1078 Genericart Franchise हैं और 60 लाख से ज्यादा हैप्पी customers हैं। इनके पास 1567 overall products, content based product 357 और special drug coverage 3211 हैं।

इनका कहना है कि यह इंडिया की no. 1 generic medicine कंपनी है और इनका mission, इंडिया के लोगों को अच्छी क्वालिटी की सस्ती दवाइयाँ उपलब्ध करवाना है। इन्होंने 2031 तक अपनी 25000 Franchise खोलने का aim बना रखा है ताकि इंडिया के घर-घर तक इनकी दवाइयां पहुँच सकें और लोग अपनी हेल्थ को ठीक करने के साथ-साथ अपने पैसे भी बचा सकें।

Genericart Franchise Kaise Le- How to get Genericart Franchise in Hindi

अभी आपने जाना कि Genericart, जेनेरिक दवाईयों के प्रोडक्शन और डिस्ट्रीब्यूशन में भारत की एक अग्रणी कंपनी है। अगर आप भी जानना चाहते हैं कि Genericart Franchise Kaise Le Sakte Hain? तो हम आपको बता दें कि इसके लिए आपको कुछ इन्वेस्टमेंट करना होगा, उचित जगह पर स्टोर खोलना होगा और कंपनी द्वारा दिए गए अनुदेशों का पालन करना होगा।

आईये इनके बारे में अलग अलग जानते हैं कि Genericart Medicine Franchise Kaise Le और इसके लिए आपको किन किन चरणों से हो कर गुज़रना है। आपको बता दें कि कि Genericart Franchise लेने के लिए आपको इनकी वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन अप्लाई करना होता है जिसके बारे में पूरी जानकारी इसी पोस्ट में नीचे दी गई है।

Genericart Medicine Franchise in Hindi- कितनी जमीन की आवश्यकता है?

Genericart Franchise के लिए आपको ज्यादा जगह की आवश्यकता नही हैं क्योंकि इसमें आपको एक shop ही खोलनी पड़ती है जिसे आप थोड़ी जगह में भी खोल सकते हैं। इसके लिए आपको 150-200 sqft की जगह की आवश्यकता होती है जिसमे कोई basement allowed नही है।

लेकिन इनकी एक और भी requirement है कि आपकी जमीन या shop किसी main road या market के बीच में ही होनी चाहिए ताकि आपकी shop पर ज्यादा लोग आ सकें और आपकी ज्यादा sale हो सके।

Genericart की Franchise में कितना पैसा लगता हैं- Genericart Franchise Cost

Genericart Medicine Franchise Cost in Hindi:
Genericart Franchise लेने के लिए आपको 8-10 लाख तक खर्च करना पड़ सकता है और कुछ Franchise में आपको ज्यादा पैसा भी लगाना पड़ सकता है जिसमे आपकी लागत 13-15 लाख तक लगती है।

Genericart Franchise Profit in Hindi

इसमे आपको कोई तय प्रॉफिट नही मिलता है क्योंकि Genericart आपको कई तरह के products प्रोवाइड कराता है और सभी प्रोडक्ट्स पर प्रॉफिट भी अलग-अलग होता है। इसलिए जब आप इनकी Franchise लेते हैं तो आपको उसी समय प्रॉफिट के बारे में बताया जाता है या फिर आप इनसे कॉन्टैक्ट करके profit margin के बारे में पता कर सकते हैं।

Genericart कितने प्रकार की Franchise देती है?

genericart-franchise-in-hindi
Photo by freestocks on Unsplash

Genericart ने अपनी Franchise को आपकी सहूलियत के हिसाब से बनाया है जिसके कारण इसने अपनी Franchise के तीन model तैयार किए हैं जिन्हें आप अपने हिसाब से ले सकते हैं।

COCO (Company Operated Company Owned)

अगर आपके पास जगह है और आप Genericart के साथ जुड़ना चाहते हैं तो इस Franchise में कंपनी अपने आप सारा सेटअप देखेगी और आपको भागीदार बनाएगी। यह उन लोगो के लिए है जो बिज़नेस तो करना चाहते है लेकिन उनके पास जगह के अलावा पर्याप्त मात्रा में पैसे नही हैं।

FOCO (Franchise Owned Company Operated)

इसमे दुकान के मालिक को सारा निवेश करना होता है और दुकान का सेटअप कंपनी के द्वारा किया जाता है। या फिर दुकान का मालिक आधा निवेश करता है और आधा निवेश कंपनी के द्वारा किया जाता है और दोनों business में partner के तौर पर काम करते हैं।

FOFO (Franchise Owned Franchise Operated)

यह इनका सबसे अच्छा मॉडल है क्योंकि इसमें सारा निवेश, सेटअप और मैनेजमेंट दुकान के मालिक के द्वारा किया जाता है। सभी तरह का प्रशिक्षण, कंपनी के द्वारा किया जाता है और कंपनी के द्वारा आपको ऑन फील्ड सपोर्ट भी किया जाता है।

Genericart Franchise Apply Online- फ्रैंचाइज़ी के लिए आवेदन कैसे करें?

Genericart Franchise लेने हेतु apply करने के लिए आपको इनकी official website पर जाना होगा, जिसका नाम हैं- www.genericartmedicine.com। इस वेबसाइट पर जाने के बाद आपको menu bar में Franchise enquiry का ऑप्शन दिखाई देगा। 

उस पर क्लिक करते ही आपके सामने एक पेज ओपन हो जाएगा और थोड़ा-सा scroll down करते ही एक form दिखाई देगा, उसे भरकर आप Franchise के लिए apply कर सकते हैं। कुछ समय के बाद company खुद आपसे कॉन्टैक्ट कर लेगी। आप चाहें तो फ्रैंचाइज़ी पेज पर डायरेक्ट विजिट करके भी अपना आवेदन कर सकते हैं।

Genericart Franchise Requirements

Genericart ने खुद अपनी वेबसाइट में कुछ requirtment के बारे में बताया हैं जिन्हें सभी Franchise holder को पूरा करना होगा, तभी आपको इनकी Franchise मिल पाएगी।

Investment इसमें आपको 8 – 10 लाख़ रुपये इन्वेस्ट करना पड़ सकता है। यह राशि 3 -4 लाख़ रुपये और भी बढ़ सकती है।

Required – आपके पास एक या दो दो स्टोर होने चाहिए। स्टोर में किसी भी प्रकार के बेसमेंट की अनुमति नहीं है। आपके स्टोर के लिए Minimum space 150 sq feet होना चाहिए।

Location – Genericart Medicine Store रोड के सामने, भीड़भाड़ वाले एरिया, मार्केट या अस्पताल के निकल होना चाहिए।

100% Documentation और Licensing के लिए FDA Guidelines का पालन करना अनिवार्य है।

Genericart Franchise के लिए आवश्यक documents

इसकी Franchise लेने के लिए आपको ज्यादा documents की जरूरत नही पड़ेगी, आपको केवल-

  • Pan card
  • Aadhar card
  • Bank account
  • Photo
  • Address proof
  • Property यानि land proof
  • All type NOC की आवश्यकता पड़ेगी।
  • GST Number लगेगा

Genericart Franchise Contact Number

इनकी वेबसाइट पर ही आपको contact us का पेज मिल जाएगा, जिसमे आपको यह सभी details मिल जाएगी। इनसे कॉन्टैक्ट करने के लिए आपको तीन ऑप्शन मिलते हैं-

Address:- YAMAN-2, 1st Floor, Near New English School, Pandharpur Road, Miraj-416410

Toll free Phone No:- 1800 1200 61313

Email:- support@genericartmedicine.com

इन तीनो ऑप्शन के साथ आपको contact us पेज में एक फॉर्म भी मिलेगा, जिसे भरकर आप इनसे कॉन्टैक्ट कर सकते हैं।

Genric दवाइयों के बारे में मेरी राय

इंडिया में जेनेरिक दवाइयों पर लोगो का विश्वास कम है। आपने भी देखा होगा कि जब हम किसी medicine की दुकान पर जाकर दवाई लेते हैं और अगर दुकानदार हमारी मांगी हुई दवाई के बदले similar active ingredient की कोई ओर दवाई देता है तो हमें उस दवाई पर विश्वास नही होता है और कई बार हम उस दवाई को लेने से भी मना कर देते हैं। 

Generic दवाइयों की quality अच्छी होती है और इनका असर भी पूरा होता हैं लेकिन India में लोगों का विश्वास जेनेरिक मेडिसिन पर कम है जिसकी वजह से मुझे personally इसकी डिमांड में फर्क लगता है और एक मिथक यह भी है कि सभी अच्छी quality की generic medicine को export कर दिया जाता है और सामान्य quality की मेडिसिन को इंडिया की मार्केट में बेचा जाता है। अब इस बात में कितनी सच्चाई है यह किसी को भी नही पता है।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने “Genericart की Franchise कैसे लें (Genericart Franchise Kaise Le), How to get Genericart Franchise in Hindi” के बारे में जाना हैं। आपको इसकी Franchise लेकर फायदा ही होगा, क्योकि अब धीरे-धीरे लोग जेनेरिक दवाइयों के प्रति जागरूक हो रहे हैं।

अगर आप किसी अच्छे शहर में Genericart की Franchise लेते हैं तो आपकी अच्छी-खासी कमाई हो सकती है। अगर आपको पोस्ट अच्छी लगी हो, तो इसे share और comment जरूर करें।

ये भी पढ़ें:

Sharing Is Caring:

Leave a Comment